1. home Hindi News
  2. state
  3. west bengal
  4. tmc and bjp supporters attacked each other in saltlake shantipur area many allegations on local police too abk

पांचवें फेज के दौरान रणक्षेत्र बना साल्टलेक, BJP-TMC समर्थकों में हिंसक झड़प, सेंट्रल फोर्स तैनात

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
पांचवें फेज के दौरान रणक्षेत्र बना साल्टलेक, BJP-TMC समर्थकों में हिंसक झड़प, सेंट्रल फोर्स तैनात
पांचवें फेज के दौरान रणक्षेत्र बना साल्टलेक, BJP-TMC समर्थकों में हिंसक झड़प, सेंट्रल फोर्स तैनात
Social Media

Bengal Election 2021: बंगाल की राजधानी कोलकाता के आईटी हब साल्टलेक में पांचवें चरण के मतदान के दौरान जमकर हिंसा हुई. टीएमसी-बीजेपी समर्थकों ने एक-दूसरे पर हमला कर दिया. इस दौरान मौके पर अफरातफरी का माहौल कायम हो गया. झड़प की सूचना मिलने पर बीजेपी के कैंडिडेट सब्यसाची दत्त और टीएमसी के सुजीत बसु मौके पर पहुंचे. इस झड़प को लेकर टीएमसी और बीजेपी के कार्यकर्ताओं ने एक-दूसरे पर ही हमले के आरोप लगाए हैं.

मतदान शुरू होने के कुछ देर बाद हिंसक झड़प

बताया जाता है कि सुबह 10:00 बजे के करीब बिधाननगर नगरपालिका क्षेत्र के शांतिपुर इलाके में टीएमसी और बीजेपी के कार्यकर्ताओं के बीच हिंसक टकराव की शुरुआत हुई, जो आधे घंटे से अधिक का समय बीत जाने के बाद भी जारी रही. ऐसे आरोप लगाए गए हैं कि सत्तारूढ़ पार्टी के कार्यकर्ताओं ने मतदाताओं को मतदान करने जाने से रोकने की कोशिश की और लोगों से मारपीट की. मतदाताओं को धमकाने का भी आरोप लगाया गया. सूचना मिलने के बाद बीजेपी कार्यकर्ता पहुंचे, जिसके बाद दोनों ही पार्टियों के कार्यकर्ताओं के बीच टकराव शुरू हो गया.

पुलिस पर बीजेपी कार्यकर्ताओं के गंभीर आरोप

मौके पर मौजूद लोगों ने बताया कि दोनों ही दलों के लोगों ने एक-दूसरे पर लाठी-डंडे, ईट, पत्थर, बोतल आदि से हमले किए. इसमें महिलाएं भी शामिल थीं. लोगों ने आरोप लगाया कि लगातार शिकायत के बावजूद पुलिस ने कोई कार्रवाई नहीं की और तृणमूल के आपराधिक तत्वों को संरक्षण देने के साथ ही मदद भी की. वहीं, जानकारी मिलने के बाद बीजेपी कैंडिडेट सब्यसाची दत्त मौके पर पहुंचे. उन्होंने आरोप लगाया कि तृणमूल कांग्रेस ने मतदाताओं को मतदान करने से रोका है. यहां तक की मतदाताओ को वोट नहीं देने की धमकियां भी दी.

बीजेपी-टीएमसी कैंडिडेट्स के बीच जुबानी जंग

बीजेपी कैंडिडेट सब्यसाची दत्त ने सीधे तौर पर पुलिस पर सत्तारूढ़ पार्टी की मदद का आरोप लगाते हुए कहा कि बार-बार शिकायत करने के बावजूद टकराव रोकने के लिए कुछ भी नहीं किया गया. यहां तक कि सेंट्रल फोर्स के जवानों को गुमराह करने का आरोप भी स्थानीय पुलिस पर लगाया गया. दूसरी तरफ टीएमसी कैंडिडेट सुजीत बसु ने बीजेपी कैंडिडेट के तमाम तरह के आरोपों को खारिज कर दिया. उल्टे बीजेपी पर मतदाताओं को धमकाने का आरोप लगाया.

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें