1. home Hindi News
  2. state
  3. west bengal
  4. stir in nanur at birbhum due to 50 bombs recovered in the early hours of monday vwt

बीरभूम के नानूर में सोमवार तड़के तीन बाल्टियों में बम मिलने से हड़कंप, मौके पर बम निरोधक दस्ता पहुंचा

सोमवार को थुपसूडा गांव में सोमवार तड़के तीन बाल्टी बम मिलने से इलाके के लोगों में दहशत है. स्थानीय लोगों ने बताया कि गांव के एक खाली मकान के पीछे झाड़ियों में इन तीनों बमों को छिपाकर रखा गया था.

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
नानूर थाना क्षेत्र में बरामद किए गए बम
नानूर थाना क्षेत्र में बरामद किए गए बम
फोटो : ट्विटर

बीरभूम/पानागढ़ : बीरभूम जिले के नानूर थाना के थुपसूडा गांव इलाके में सोमवार तड़के तीन बाल्टियों में 50 बम मिलने की घटना के सामने आते ही समूचे गांव में हड़कंप मच हुआ है. पुलिस को मिली सूचना के बाद भारी संख्या में पुलिस मौके वारदात पर पहुंच गई है. पुलिस ने बम वाले स्थान को फिलहाल सील कर दिया है. मामले की जानकारी बम निरोधक दस्ते को दे दी गई है. सूचना मिलने के साथ ही, बम निरोधक दस्ते टीम मौके पर पहुंच गई है.

प्रभात खबर संवाददाता की ओर से दी गई जानकारी के अनुसार, बीरभूम जिले के नानूर थाना के थुपसूडा गांव इलाके में सोमवार तड़के तीन बाल्टियों में बम मिलने के बाद नानूर थाना पुलिस सकते में है. बमों को डिफ्यूज करने के लिए बम निरोधक दस्ता मौके पर पहुंच गई है. वहीं, मौके पर पहुंची पुलिस ने भी मामले की जांच शुरू कर दिया है.

गौरतलब है कि शनिवार को ही नानूर थाना के गोपटी गांव से पुलिस ने गुप्त सुचना के आधार पर छापामारी अभियान चलाकर भारी संख्या में अवैध हथियार तथा गोली बरामद किया था. इस मामले में दो अपराधियों को गिरफ्तार किया गया था. गुमटी गांव में छापामारी अभियान चलाकर 3 मस्केट 19 राउंड गोली तथा दो वन शटर बंदूक बरामद किया गया था.

पुलिस सूत्रों के अनुसार, गिरफ्तार किए गए लोगों में जर्मन शेख (38) और सोहराब खान (50) शामिल थे. दोनों के घर क्रमश: नानूर थाना क्षेत्र के वेनेरा गांव और गोरपारा में हैं. इससे पहले नानूर थाने की पुलिस पुंडारा गांव में एक व्यक्ति के घर के पीछे से कई बम बरामद करने में सफल रही थी. बमों को घर के पीछे प्लास्टिक की बाल्टी में रखा गया था, जिसे बाद में निष्क्रिय कर दिया गया.

सोमवार को थुपसूडा गांव में सोमवार तड़के तीन बाल्टी बम मिलने से इलाके के लोगों में दहशत है. स्थानीय लोगों ने बताया कि गांव के एक खाली मकान के पीछे झाड़ियों में इन तीनों बमों को छिपाकर रखा गया था. स्थानीय लोगों ने इन बमों की सूचना पुलिस को दी. नानूर थाना प्रभारी शेख इस्माईल ने बताया कि ग्रामीणों द्वारा दी गई सूचना के बाद इलाके को सील कर रखा गया है. बम निरोधक दस्ता पहुंचकर बमों को डिफ्यूज करने में जुट गया है. उन्होंने बताया कि तीन बाल्टी में करीब 50 से ज्यादा बमों के होने की आशंका है.

बताया जाता है कि बीरभूम जिले के ही बागतुई में गत 21 मार्च की रात को तृणमूल नेता भादू शेख की बम मार कर नृशंस हत्या कर दी गई थी. इस घटना के बाद ही देर रात इसी गांव में उपद्रवियों ने 10 घरों को आग लगा दिया था और 9 लोगों को जिंदा जलाकर हत्या कर दी थी. 23 मार्च को मुख्यमंत्री ममता बनर्जी बागतुई गांव पहुंचकर इस नरसंहार की घटना का तीव्र रूप से निंदा किया था तथा अविलंब पुलिस के डीजी को सख्त निर्देश दिया था कि समस्त पुलिसकर्मियों ऑफिसरों का छुट्टी रद्द कर 10 दिन के भीतर राज्यभर से अवैध हथियार, बम तथा अपराधियों को गिरफ्तार करना होगा.

मुख्यमंत्री के इस निर्देश के बाद से ही राज्य भर में पुलिस हरकत में आ गई और प्रत्येक थाना इलाकों में अवैध हथियार, बम, विस्फोट बरामद किया गया और यह सिलसिला अब भी जारी है. बीरभूम जिले में ही अब तक 500 के करीब अवैध बम तथा हथियार बरामद किए गए हैं. दो दर्जन से ज्यादा अपराधियों को गिरफ्तार किया गया है.

रिपोर्ट : मुकेश तिवारी

Prabhat Khabar App :

देश-दुनिया, बॉलीवुड न्यूज, बिजनेस अपडेट, मोबाइल, गैजेट, क्रिकेट की ताजा खबरें पढ़ें यहां. रोजाना की ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज कवरेज के लिए डाउनलोड करिए

googleplayiosstore
Follow us on Social Media
  • Facebookicon
  • Twitter
  • Instgram
  • youtube

संबंधित खबरें

Share Via :
Published Date

अन्य खबरें