1. home Hindi News
  2. state
  3. west bengal
  4. shatrughan sinha joining tmc on 21 july mamata banerjees party will send former bjp and congress leader to rajya sabha mtj

अब तृणमूल में शामिल होंगे बिहारी बाबू शत्रुघ्न सिन्हा! ममता दीदी दे सकती हैं राज्यसभा का टिकट

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
21 जुलाई को टीएमसी का दामन थाम सकते हैं शत्रुघ्न सिन्हा
21 जुलाई को टीएमसी का दामन थाम सकते हैं शत्रुघ्न सिन्हा
Prabhat Khabar

कोलकाताः बिहारी बाबू और शॉट गन के नाम से मशहूर बॉलीवुड एक्टर से नेता बने शत्रुघ्न सिन्हा अब ममता बनर्जी की पार्टी तृणमूल कांग्रेस में शामिल हो सकते हैं. ममता दीदी उन्हें बंगाल से राज्यसभा का टिकट भी दे सकती हैं. सूत्रों ने यह खबर दी है.

खबर है कि पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री और तृणमूल कांग्रेस की सुप्रीमो ममता बनर्जी भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) का विरोध करने वाले सभी लोगों को एकजुट करने की रणनीति पर काम कर रही हैं. यही वजह है कि शत्रुघ्न सिन्हा को तृणमूल कांग्रेस के टिकट पर ममता बनर्जी राज्यसभा भेज सकती हैं.

सूत्र बता रहे हैं कि 21 जुलाई को शत्रुघ्न सिन्हा तृणमूल कांग्रेस का झंडा थाम सकते हैं. दरअसल, 21 जुलाई को हर साल ममता बनर्जी की पार्टी शहीद दिवस मनाती है. इस बार इसका आयोजन वर्चुअली होगा. अटल बिहारी वाजपेयी की कैबिनेट में मंत्री रहे शत्रुघ्न सिन्हा भी इस रैली में शामिल होंगे.

इसी दिन वह तृणमूल का झंडा थामने का एलान भी कर सकते हैं. ऐसा सूत्रों का कहना है. ज्ञात हो कि बॉलीवुड के इस दिग्गज एक्टर ने जनता दल के जमाने में राजनीति में कदम रखा था. बाद में वह भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) में शामिल हो गये और अटल बिहारी वाजपेयी की सरकार में उन्हें मंत्री भी बनाया गया.

बाद में जब वर्ष 2014 में भाजपा की सरकार बनी और नरेंद्र मोदी प्रधानमंत्री बने, तो बिहारी बाबू को उम्मीद थी कि उनके ट्रैक रिकॉर्ड और लोकप्रियता को देखते हुए उन्हें मंत्री बनाया जायेगा. लेकिन ऐसा हुआ नहीं. इसके बाद शत्रुघ्न सिन्हा अपनी ही पार्टी की सरकार की आलोचना करने लगे. कई बार विरोधियों के सुर में सुर मिलाया.

वर्ष 2019 के लोकसभा चुनाव में जब भाजपा ने उन्हें पटना साहिब से टिकट नहीं दिया, तो बिहारी बाबू कांग्रेस में शामिल हो गये. अपनी लोकप्रियता के रथ पर सवार होकर कांग्रेस के टिकट पर पटना साहिब से चुनाव लड़े और शत्रुघ्न सिन्हा भाजपा उम्मीदवार रविशंकर प्रसाद से पराजित हो गये.

पहले से ही कमजोर हो चुकी और अंतर्कलह से जूझ रही कांग्रेस पार्टी में शॉट गन को अपना भविष्य नहीं दिख रहा. बंगाल चुनाव 2021 में तृणमूल कांग्रेस ने भाजपा को बुरी तरह से पराजित किया और लगातार तीसरी बार ममता बनर्जी की सरकार बनी. शायद इसलिए शत्रुघ्न सिन्हा अब ममता की छांव में राजनीति करने के लिए तैयार हैं.

तृणमूल ने यशवंत सिन्हा को बनाया राष्ट्रीय उपाध्यक्ष

उल्लेखनीय है कि बंगाल चुनाव के दौरान ही शत्रुघ्न सिन्हा के परिचित और अटल कैबिनेट के कद्दावर नेता यशवंत सिन्हा तृणमूल कांग्रेस में शामिल हो चुके हैं. ममता बनर्जी की पार्टी ने यशवंत सिन्हा को राष्ट्रीय उपाध्यक्ष बना दिया है.

Posted By: Mithilesh Jha

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें