1. home Hindi News
  2. state
  3. west bengal
  4. pay rs 6000 monthly to poor families adhir ranjan to pm modi mtj

पीएम मोदी से बोले अधीर रंजन चौधरी- गरीबों को हर माह 6000 रुपये की सहायता दें

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
कांग्रेस नेता अधीर रंजन चौधरी
कांग्रेस नेता अधीर रंजन चौधरी
File Photo

कोलकाता/नयी दिल्ली : पश्चिम बंगाल प्रदेश कांग्रेस के अध्यक्ष और लोकसभा में नेता प्रतिपक्ष अधीर रंजन चौधरी ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से कहा है कि गरीबों को हर महीने 6000 रुपये की सहायता दें. प्रदेश कांग्रेस नेता ने इस संबंध में पीएम मोदी को एक पत्र लिखा है.

लोकसभा में कांग्रेस के नेता अधीर रंजन चौधरी ने रविवार को पीएम मोदी को जो पत्र लिखा, उसमें कहा है कि लॉकडाउन के दौरान गरीब एवं जरूरतमंद लोगों को हर माह 6,000 रुपये की आर्थिक सहायता प्रदान की जाये. प्रधानमंत्री को लिखे पत्र में कांग्रेस नेता ने विभिन्न राज्यों में लागू लॉकडाउन के चलते गरीबों, दिहाड़ी मजदूरों और समाज के कमजोर वर्ग द्वारा झेली जा रही परेशानियों का उल्लेख किया.

उन्होंने कहा, ‘केंद्र सरकार को पश्चिम बंगाल समेत लॉकडाउन वाले अन्य राज्यों के गरीब लोगों के खाते में सीधे 6,000 रुपये मासिक की आर्थिक सहायता प्रदान करनी चाहिए. इससे न केवल लाखों गरीब लोगों की परेशानियां कम होंगी, बल्कि इससे अर्थव्यवस्था को भी फायदा होगा.’

श्री चौधरी ने कहा कि कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी ने सुझाव दिया है कि केंद्र को गरीब एवं जरूरतमंद लोगों को नि:शुल्क अनाज और सभी बेरोजगारों को प्रति माह 6,000 रुपये की आर्थिक सहायता उपलब्ध करानी चाहिए.

उल्लेखनीय है कि कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने वर्ष 2019 के लोकसभा चुनाव से पहले घोषणा की थी कि उनकी सरकार बनी, तो गरीब परिवारों को सालाना 72 हजार रुपये देंगे. कांग्रेस का दावा है कि छत्तीसगढ़ में उसकी सरकार बनने के बाद सभी गरीब परिवारों को साल में 72 हजार रुपये सरकार दे रही है.

राहुल गांधी की गेमचेंजर योजना

कांग्रेस का कहना है कि छत्तीसगढ़ में लागू इस योजना को पूरे देश में लागू किया जाना चाहिए. कोरोना संकट के इस दौर में राहुल गांधी और कांग्रेस इस योजना को पूरे देश में लागू करने पर जोर दे रही है, ताकि गरीबों को इसका फायदा मिले. राहुल गांधी ने लोकसभा चुनाव 2021 में इसे गेमचेंजर योजना के रूप में पेश किया था.

Posted By: Mithilesh Jha

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें