1. home Hindi News
  2. state
  3. west bengal
  4. nisith pramanik deputy minister of amit shah is bangladeshi congress mp writes to pm modi mtj

बांग्लादेशी नागिरक हैं केंद्रीय गृह राज्यमंत्री नीशीथ प्रमाणिक, कांग्रेस सांसद का दावा

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
मोदी की कैबिनेट में गृह राज्यमंत्री बनाये गये हैं नीशीथ प्रमाणिक
मोदी की कैबिनेट में गृह राज्यमंत्री बनाये गये हैं नीशीथ प्रमाणिक
Prabhat Khabar

कोलकाता/नयी दिल्लीः प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की कैबिनेट के सबसे युवा और केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह के डिप्टी मंत्री बनाये गये नीशीथ प्रमाणिक भारत के नागरिक नहीं हैं. तृणमूल कांग्रेस (टीएमसी) से भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) में शामिल होने वाले कूचबिहार के सांसद नीशीथ बांग्लादेशी नागरिक हैं. उनकी नागरिकता की जांच होनी चाहिए.

राज्यसभा के सांसद और असम प्रदेश कांग्रेस के अध्यक्ष रिपुण बोरा ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को पत्र लिखकर यह मांग की है. उन्होंने कहा है कि नवनियुक्त केंद्रीय गृह राज्यमंत्री नीशीथ प्रमाणिक भारतीय नागरिक नहीं हैं, वह बांग्लादेशी हैं.

हालांकि, प्रमाणिक के करीबी व पश्चिम बंगाल से भाजपा के लोकसभा सांसद ने आरोपों का खंडन करते हुए कहा कि मंत्री का जन्म, पालन-पोषण और शिक्षा-दीक्षा भारत में ही हुई है. वहीं, तृणमूल कांग्रेस के नेताओं ने पूछा है कि केंद्र सरकार ने ऐसी 'सुरक्षा खामी' कैसे होने दी.

पश्चिम बंगाल भाजपा के महासचिव सायंतन बसु ने टीएमसी को इस मुद्दे को अदालत में ले जाने की सलाह दी. प्रधानमंत्री को लिखे और ट्विटर पर साझा किये पत्र में कांग्रेस नेता रिपुण बोरा ने दावा किया कि बराक बांग्ला, रिपब्लिक टीवी त्रिपुरा, डिजिटल मीडिया, इंडिया टुडे और बिजनेस स्टैंडर्ड ने अपनी खबर में बताया है कि नीशीथ प्रमाणिक बांग्लादेशी नागरिक हैं.

खबरों को उद्धृत करते हुए कांग्रेस सांसद ने दावा किया कि मंत्री का जन्म स्थान हरिनाथपुर है, जो बांग्लादेश के गैबांधा जिले के पलासबाड़ी पुलिस थाने के अंतर्गत आता है. खबर है कि वह कंप्यूटर की पढ़ाई करने के लिए पश्चिम बंगाल आये थे.

श्री बोरा ने दावा किया कि कंप्यूटर विषय में उपाधि मिलने के बाद पहले वह तृणमूल कांग्रेस में शामिल हुए और बाद में भाजपा में शामिल हुए तथा कूचबिहार से सांसद चुने गये. रिपुण बोरा ने दावा किया कि समाचार चैनलों के मुताबिक, नीशीथ प्रमाणिक ने 'छेड़छाड़ कर' चुनावी नामांकन पत्र में अपना पता कूचबिहार दिखाया.

चैनलों ने बांग्लादेश स्थित उनके पैतृक गांव का खुशनुमा माहौल भी दिखाया, जिसमें उनके बड़े भाई और कुछ ग्रामीण नीशीथ प्रमाणिक के केंद्रीय गृह राज्यमंत्री बनने पर संतोष व्यक्त कर रहे हैं.

यह जानकर हैरान और स्तब्ध हूं कि केंद्रीय मंत्री नीशीथ प्रमाणिक बांग्लादेश के नागरिक हो सकते हैं! अगर मौजूदा केंद्रीय मंत्री एक विदेशी नागरिक है, तो यह भारत की सुरक्षा के लिए खतरनाक चिंता का विषय है. नरेंद्र मोदी सरकार इस तरह की सुरक्षा चूक कैसे होने दे सकती है?
इंद्रनील सेन, पश्चिम बंगाल के सूचना एवं सांस्कृतिक मामलों के मंत्री

श्री बोरा ने प्रधानमंत्री मोदी को लिखे पत्र में कहा कि अगर ऐसा है, तो देश के लिए बहुत गंभीर मामला है कि एक विदेशी को केंद्रीय मंत्री नियुक्त किया गया है. इसलिए मैं आपसे (प्रधानमंत्री) से मांग करता हूं कि नीशीथ प्रमाणिक के जन्मस्थान और राष्ट्रीयता की जांच पारदर्शी तरीके से करायें, ताकि पूरे देश में उत्पन्न भ्रम की स्थिति दूर हो सके.

पश्चिम बंगाल के सूचना एवं सांस्कृतिक मामलों के राज्य मंत्री, इंद्रनील सेन ने एक ट्विटर पोस्ट में कहा कि यह जानकर हैरान और स्तब्ध हूं कि केंद्रीय मंत्री नीशीथ प्रमाणिक बांग्लादेश के नागरिक हो सकते हैं! अगर मौजूदा केंद्रीय मंत्री एक विदेशी नागरिक है, तो यह भारत की सुरक्षा के लिए खतरनाक चिंता का विषय है. नरेंद्र मोदी सरकार इस तरह की सुरक्षा चूक कैसे होने दे सकती है?

नीशीथ प्रमाणिक देशभक्त भारतीय - रिश्तेदार

इससे पहले, जब नीशीथ प्रमाणिक के करीबी सूत्रों से संपर्क किया गया, तो उन्होंने कहा कि मंत्री देशभक्त भारतीय हैं, जिनका जन्म, पालन-पोषण और शिक्षा-दीक्षा भारत में ही हुई है और कहा कि उन पर लगाये जा रहे आरोप निराधार हैं. सूत्रों ने कहा कि अगर मंत्री के कुछ रिश्तेदार दूसरे देश में जश्न मना रहे हैं, तो वह क्या कर सकते हैं.

उन्होंने कहा, अगर कनाडा के सांसद के भारतीय रिश्तेदार गर्व महसूस करते हुए भारत में उत्सव मनाते हैं, तो उससे कनाडा के सांसद को क्या लेना-देना है. एक सूत्र ने कहा कि यह उसी तरह का मामला हो सकता है. उन्होंने रिपुण बोरा पर पलटवार करते हुए कहा कि जिम्मेदार सांसद को पता होना चाहिए कि क्या गलत है और क्या सही.

मंत्री का जन्म स्थान हरिनाथपुर है, जो बांग्लादेश के गैबांधा जिले के पलासबाड़ी पुलिस थाने के अंतर्गत आता है. खबर है कि वह कंप्यूटर की पढ़ाई करने के लिए पश्चिम बंगाल आये थे.
रिपुण बोरा, कांग्रेस नेता, असम

Posted By: Mithilesh Jha

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें