1. home Home
  2. state
  3. west bengal
  4. mamata banerjee home minister amit shah attack tmc abhishek banerjee tripura amh

Tripura : 'अभिषेक बनर्जी पर हुए हमले के पीछे अमित शाह का हाथ', ममता बनर्जी ने अमित शाह पर लगाया बड़ा आरोप

Tripura BJP-TMC CLASH - पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने आरोप लगाया कि उनके भतीजे एवं तृणमूल कांग्रेस के महासचिव अभिषेक बनर्जी तथा पार्टी कार्यकर्ताओं पर त्रिपुरा में हाल में किए गए हमलों के लिए केन्द्रीय गृह मंत्री अमित शाह जिम्मेदार हैं.

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
Tripura, BJP-TMC CLASH
Tripura, BJP-TMC CLASH
pti

Tripura BJP-TMC CLASH : त्रिपुरा के खोवई जिले में ‘‘कोविड नियमों का उल्लंघन'' करने के आरोप में रविवार को तृणमूल कांग्रेस (TMC) के कम से कम 14 नेताओं और कार्यकर्ताओं को गिरफ्तार कर लिया गया. इस संबंध में पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी (mamata banerjee) का बयान सामने आया है. उन्होंने कहा है कि मैं त्रिपुरा में तृणमूल कांग्रेस के कार्यकर्ताओं पर हुए हमले की निंदा करती हूं, जिसे केन्द्रीय गृह मंत्री के निर्देश पर अंजाम देने का काम किया गया.

आगे ममता बनर्जी ने कहा कि त्रिपुरा के मुख्यमंत्री में तृणमूल कांग्रेस के कार्यकर्ताओं पर ऐसे हमले का आदेश देने की हिम्मत नहीं है, वहां अभिषेक बनर्जी की जान खतरे में थी. यहां चर्चा कर दें कि जिन्हें गिरफ्तार किया गया है उनमें वे कार्यकर्ता भी शामिल हैं, जो शनिवार को भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के कार्यकर्ताओं के कथित हमले में घायल हो गए थे.

अभिषेक, तृणमूल कार्यकर्ताओं पर हुए हमलों के पीछे अमित शाह का हाथ: पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने सोमवार को आरोप लगाया कि उनके भतीजे एवं तृणमूल कांग्रेस के महासचिव अभिषेक बनर्जी तथा पार्टी कार्यकर्ताओं पर त्रिपुरा में हाल में किए गए हमलों के लिए केन्द्रीय गृह मंत्री अमित शाह जिम्मेदार हैं. साथ ही उन्होंने कहा कि वह ऐसी हरकतों के आगे घुटने नहीं टेकेंगी. अभिषेक बनर्जी और तृणमूल कांग्रेस के छात्र कार्यकर्ताओं पर भाजपा शासित त्रिपुरा में अलग-अलग स्थानों पर हुए हमले के कुछ दिन बाद ममता ने यह बयान दिया है.

त्रिपुरा में 2023 में आसन्न विधानसभा चुनाव से पहले, पार्टी राज्य में अपनी पकड़ मजबूत करने की कोशिश में लगी हैं. सरकारी अस्पताल एसएसकेएम में घायल तृणमूल कार्यकर्ताओं से मिलने के बाद उन्होंने कहा कि त्रिपुरा, असम, उत्तर प्रदेश और जहां भी भाजपा सत्ता में है, वहां वह अराजक सरकार चला रही है। हम अभिषेक और हमारे पार्टी कार्यकर्ताओं पर हुए हमले की निंदा करते हैं. केन्द्रीय गृह मंत्री की मदद के बिना ऐसे हमलों को अंजाम नहीं दिया जा सकता. इन हमलों के पीछे उन्हीं का हाथ है, जिन्हें त्रिपुरा पुलिस की मौजूदगी में अंजाम दिया गया और वह मूकदर्शक बनी बनी हुई थी. त्रिपुरा के मुख्यमंत्री में ऐसे हमलों के निर्देश देने की हिम्मत नहीं है.

गिरफ्तार कार्यकर्ताओं को मिली जमानत : टीएमसी की त्रिपुरा इकाई के प्रवक्ता आशीष लाल सिंह ने बताया कि पार्टी के कार्यकर्ताओं को खोवई में मुख्य न्यायिक मजिस्ट्रेट (सीजेएम) अदालत में पेश किया गया, जहां से उन्हें जमानत मिल गई. वहीं टीएमसी के राष्ट्रीय महासचिव अभिषेक बनर्जी ने पार्टी के अन्य नेताओं के साथ कड़ी सुरक्षा व्यवस्था के बीच खोवई का दौरा किया. बनर्जी, पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी के भतीजे हैं और तृणमूल कांग्रेस प्रमुख (ममता बनर्जी) के बाद पार्टी में उनका दूसरा स्थान है.

क्या कहा पुलिस ने : पुलिस ने बताया कि रात सात बजे रात्रि कर्फ्यू लगने के बाद यात्रा कर कोविड पाबंदियों का उल्लंघन करने को लेकर टीएमसी के 14 सदस्यों को गिरफ्तार किया गया. सिंह ने बताया कि उन्हें और देबांग्शु भट्टाचार्य, तानिया पोद्दार, सुदीप राहा तथा जया दत्ता समेत पार्टी नेताओं को गिरफ्तार किया गया. गौरतलब है कि राहा और दत्ता को तब चोटें आयी थी, जब धलाई जिले के अंबासा में शनिवार को भाजपा कार्यकर्ताओं ने कथित तौर पर उनके वाहन पर हमला किया.

भाषा इनपुट के साथ

Posted By : Amitabh Kumar

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें