1. home Hindi News
  2. state
  3. west bengal
  4. mamata banerjee government has announced compensation from yaas cyclone after examining satellite images abk

यास चक्रवात के प्रभावितों को सैटेलाइट दिलाएगा मुआवजा, ममता बनर्जी सरकार के इस फैसले का मतलब जानते हैं?

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
यास चक्रवात के बाद सुंदरबन
यास चक्रवात के बाद सुंदरबन
सोशल मीडिया (फाइल फोटो)

Bengal Latest News: पिछले दिनों यास चक्रवात के कारण पश्चिम बंगाल के कई जिलों में काफी नुकसान पहुंचा था. पीएम नरेंद्र मोदी ने भी यास चक्रवात से हुए नुकसान को देखते हुए ओड़िशा, पश्चिम बंगाल और झारखंड के लिए 1,000 करोड़ रुपए के राहत का ऐलान किया था. अब, ममता बनर्जी सरकार ने 26 मई को पश्चिम बंगाल में आए यास चक्रवात से हुए नुकसान का आकलन करने के लिए सैटेलाइट की मदद लेने का फैसला लिया है. राज्य सरकार का दावा है कि सैटेलाइट के जरिए यास चक्रवात से हुए नुकसान का सही से आकलन किया जा सकता है.

राज्य सरकार का कहना है कि सैटेलाइट इमेज के आधार पर नुकसान की समीक्षा की जाएगी. इससे नुकसान की सही जानकारी मिल सकेगी. इसी के आधार पर चक्रवात पीड़ितो को राज्य सरकार मुआवजा भी देगी. पिछले साल अम्फान चक्रवात के बाद सरकार पर राहत सामग्रियों और मुआवजा देने में अनियमितता बरतने के आरोप लगाए गए थे. इसको देखते हुए सरकार ने फैसला लिया है कि जिले से आई रिपोर्ट के आधार पर मुआवजा नहीं दिया जाएगा. इसके लिए राज्य की ममता सरकार सैटेलाइट से मिली नुकसान की तसवीरों की मदद लेकर मुआवजा देगी.

पिछले दिनों में मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने यास चक्रवात प्रभावितों की मदद के लिए 'दुआरे त्रान' (दरवाजे पर राहत) योजना का ऐलान किया था. उस समय ममता बनर्जी ने कहा था कि 'दुआरे सरकार' (दरवाजे पर सरकार) की योजना की अगली कड़ी ‘दुआरे त्रान’ है. इस योजना के तहत लाभ लेने वालों को 18 जून तक आवेदन देने को कहा गया है. इसके बाद 19 से 30 जून तक सरकार मुआवजे के आवेदनों की जांच करेगी और मुआवजे को सीधे अकाउंट में भेजा जाएगा. जरूरतमंदों के बैंक अकाउंट में रुपए भेजने की तारीख एक से आठ जुलाई तक रखी गई है.

बंगाल में 10 जून को मॉनसून की दस्तक

पश्चिम बंगाल से यास चक्रवात के गुजरने के बाद मॉनसून की दस्तक होने वाली है. कोलकाता स्थित अलीपुर मौसम विभाग के मुताबिक इस साल बंगाल में 10 जून को मॉनसून की दस्तक हो जाएगी. इसके पहले प्री-मॉनसून बारिश का मजा भी मिलेगा. मौसम विभाग के मुताबिक अभी राज्य में जारी भीषण गर्मी से फिलहाल राहत की उम्मीद करना गलत है. मॉनसून के कारण कुछ दिनों में रूक-रूककर बारिश होती रहेगी. राजधानी कोलकाता से लेकर दूसरे जिलों में आने वाले दिनों में बारिश रिपोर्ट की जाएगी. मॉनसून आने के बाद भीषण गर्मी से निजात मिल जाएगी.

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें