1. home Hindi News
  2. state
  3. west bengal
  4. mamata banerjee chief advisor alapan bandhopadhyay replies central government show cause notice says whatever he did directed by cm abk

शोकॉज पर आलापन का जवाब- ‘जो मुख्यमंत्री ने कहा वो किया’, BJP ने बताया ममता के घोटालों का ‘राजदार’

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
शोकॉज पर आलापन का जवाब- ‘जो मुख्यमंत्री ने कहा वो किया’
शोकॉज पर आलापन का जवाब- ‘जो मुख्यमंत्री ने कहा वो किया’
सोशल मीडिया (फाइल फोटो)

Bengal Politics Latest Update: पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी के मुख्य सलाहकार आलापन बंद्योपाध्याय ने केंद्र सरकार के शोकॉज का जवाब दे दिया है. प्रभात खबर को मिली एक्सक्लूसिव जानकारी के मुताबिक आलापन बंद्योपाध्याय ने केंद्र सरकार को भेजे गए अपने जवाब में कहा है कि उन्हें जैसा सीएम ममता बनर्जी ने करने को कहा था, उन्होंने वैसा ही किया है. इसके पहले केंद्र सरकार ने तत्कालीन मुख्य सचिव आलापन बंद्योपाध्याय से 31 मई को शोकॉज पूछा था. उनसे पूछा गया था आखिर उनके खिलाफ कार्रवाई क्यों नहीं की जाए?

वो प्रधानमंत्री की बैठक में उपस्थित थे, जहां मुख्यमंत्री ने पीएम को चक्रवात से हुए नुकसान के बारे में रिपोर्ट सौंपी. इसके बाद मुख्यमंत्री ने उन्हें अपने साथ आने को कहा और वो राज्य के मुख्य सचिव होने के नाते मुख्यमंत्री के निर्देश को नजरअंदाज नहीं कर सकते थे.
आलापन बंद्योपाध्याय के जवाब का एक हिस्सा

पश्चिम बंगाल की सीएम ममता बनर्जी के मुख्य सलाहकार आलापन बंद्योपाध्याय ने केंद्र सरकार के शोकॉज के जवाब में अपनी बातें रखी हैं. उन्होंने कहा है कि जिस दिन पीएम मोदी का पश्चिम बंगाल का दौरा था, उसी दिन वो सीएम ममता बनर्जी के साथ यास चक्रवात प्रभावित उत्तर 24 परगना समेत कई इलाकों के हवाई दौरे पर थे. यहां तक कि सीएम ममता बनर्जी के आदेश पर वो यास चक्रवात के गुजरने के बाद इलाके में हुए नुकसान का जायजा लेने के लिए दीघा भी गए थे.

आलापन बंद्योपाध्याय के मुद्दे पर नेता प्रतिपक्ष शुभेंदु अधिकारी ने सीएम ममता बनर्जी पर बड़ा हमला बोला है. शुभेंदु अधिकारी ने कहा है कि कोरोना नियंत्रण समेत कई मामलों में जमकर भ्रष्टाचार किया गया है. इन मामलों में आलापन बंद्योपाध्याय सीएम ममता बनर्जी के राजदार की भूमिका में हैं. उन्हें टीएमसी के कई घोटालों की सारी जानकारी है. वो कई अनियमितताओं को भी जानते हैं. लिहाजा, पश्चिम बंगाल की ममता सरकार आलापन बंद्योपाध्याय को बचा रही है. शुभेंदु अधिकारी का बयान उस वक्त आया है, जब ममता बनर्जी कई बार कह चुकी हैं कि केंद्र की मोदी सरकार बदले की भावना के तहत पश्चिम बंगाल सरकार के खिलाफ काम कर रही है.

कोरोना नियंत्रण समेत कई मामलों में जमकर भ्रष्टाचार किया गया है. इन मामलों में आलापन बंद्योपाध्याय सीएम ममता बनर्जी के राजदार की भूमिका में हैं. उन्हें टीएमसी के कई घोटालों की सारी जानकारी है. वो कई अनियमितताओं को भी जानते हैं.
शुभेंदु अधिकारी, नेता प्रतिपक्ष और BJP विधायक

बता दें 28 मई को पीएम नरेंद्र मोदी यास चक्रवात के बाद पैदा हुए हालात का जायजा लेने के लिए ओड़िशा और पश्चिम बंगाल पहुंचे थे. बंगाल के कलाईकुंडा में पीएम मोदी ने यास चक्रवात से हुए नुकसान को लेकर समीक्षा बैठक की थी. इस मीटिंग में ना तो सीएम ममता बनर्जी शामिल हुई थीं और ना ही तत्कालीन मुख्य सचिव आलापन बंद्योपाध्याय. इसके बाद केंद्र सरकार ने आलापन बंद्योपाध्याय को दिल्ली तलब किया था. वो दिल्ली नहीं गए और 31 मई को रिटायरमेंट ले लिया था. बड़ी बात यह है कि उन्हें तीन महीने का एक्सटेंशन भी मिला था. दूसरी तरफ रिटायरमेंट के बाद मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने आलापन बंद्योपाध्याय को सीएम का मुख्य सलाहकार नियुक्त कर दिया था. इसके बाद केंद्र सरकार ने आलापन बंद्योपाध्याय से शोकॉज पूछ लिया था.

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें