1. home Hindi News
  2. state
  3. west bengal
  4. junior mamata banerjee on the stage with tmc supremo at kalighat the house of west bengal chief minister after bengal election results 2021 mtj

IN PICS: तृणमूल सुप्रीमो के साथ मंच पर बंगाल की ‘जूनियर ममता बनर्जी’!

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
अजानिया में दिखा जूनियर ममता बनर्जी का अंदाज
अजानिया में दिखा जूनियर ममता बनर्जी का अंदाज
PTI

कोलकाता : पश्चिम बंगाल विधानसभा चुनाव 2021 के परिणाम आने के बाद ममता बनर्जी व्हील चेयर की बजाय अपने पैरों पर चलकर लोगों के सामने आयीं. जिस वक्त ममता बनर्जी मीडिया को संबोधित कर रहीं थीं, उसी वक्त उनके पीछे से एक बच्ची आयी. 8-10 साल की एक बच्ची.

ममता बनर्जी के पास अभिषेक बनर्जी की बेटी अजानिया
ममता बनर्जी के पास अभिषेक बनर्जी की बेटी अजानिया
PTI

बच्ची ने काले रंग की टी-शर्ट और चेक पैंट पहन रखी थी. बच्ची ममता बनर्जी के पीछे मंच पर जाकर बैठ गयी. फिर वह कभी बायें, तो कभी दायें से झांकते हुए आगे बढ़ी. कुछ ही देर में वह ममता बनर्जी के बगल में आकर खड़ी हो गयी. ममता बनर्जी को वह निहार रही थी.

ममता बनर्जी के साथ अजानिया ने भी दिखायी विक्ट्री साइन
ममता बनर्जी के साथ अजानिया ने भी दिखायी विक्ट्री साइन
PTI

कमर पर दोनों हाथ रखकर ममता बनर्जी के पास में खड़ी इस बच्ची का कॉन्फिडेंस देखते ही बन रहा था. ममता बनर्जी ने कालीघाट स्थित अपने आवास पर मीडिया को संबोधित करने के बाद विजय प्रतीक दिखाना शुरू किया, तो इस बच्ची ने दोनों हाथों से विक्ट्री साइन बनायी.

यह बच्ची कोई और नहीं, ममता बनर्जी के भतीजे अभिषेक बनर्जी की बेटी अजानिया थी. अभिषेक और रुजिरा की बच्ची अजानिया. किसी राजनीतिक मंच पर संभवत: अजानिया को पहली बार देखा गया.

ममता बनर्जी ने बंगाल की जनता को दिया धन्यवाद
ममता बनर्जी ने बंगाल की जनता को दिया धन्यवाद
PTI

ममता बनर्जी के साथ जब यह बच्ची मंच पर देखी गयी, तब तक बंगाल के चुनाव परिणाम स्पष्ट हो गये थे. ममता बनर्जी की पार्टी तृणमूल कांग्रेस ने सभी दलों को ध्वस्त करते हुए 200 से अधिक सीटें जीत लीं थीं. इस जीत में अजानिका के पापा यानी अभिषेक बनर्जी की भी मेहनत शामिल है.

ममता बनर्जी के पीछे जाकर बैठ गयी अजानिया
ममता बनर्जी के पीछे जाकर बैठ गयी अजानिया
PTI

कई कद्दावर नेताओं के तृणमूल कांग्रेस छोड़कर भारतीय जनता पार्टी का दामन थाम लेने के बाद मुश्किलों में घिरी पार्टी के लिए अभिषेक बनर्जी ने जी-तोड़ मेहनत की. पूरे बंगाल में घूम-घूम कर रैलियां कीं और कार्यकर्ताओं में जोश भरा, जिसका नतीजा है कि बंगाल में लगातार तीसरी बार ममता बनर्जी की सरकार बनने का रास्ता साफ हुआ.

Posted By : Mithilesh Jha

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें