1. home Home
  2. state
  3. west bengal
  4. indian railway news kolkata is worse than delhi mumbai tracks submerged trains cancelled people helpless mtj

दिल्ली-मुंबई से भी बुरा हाल कोलकाता का, डूबी पटरियां, ट्रेनें रद्द, बारिश से लोग बेहाल

Indian Railway News|Heavy Rain|West Bengal News|Exclusive PICS|ट्रेनों की पटरियां जलमग्न हो गयीं हैं. फलस्वरूप पूर्व रेलवे और दक्षिण पूर्व रेलवे ने कई ट्रेनों को रद्द कर दिया है.

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
हावड़ा डिवीजन में रेलवे ट्रैक जलमग्न
हावड़ा डिवीजन में रेलवे ट्रैक जलमग्न
Prabhat Khabar

हावड़ा (जे कुंदन): बांग्लादेश और पश्चिम बंगाल में निम्न दबाव का क्षेत्र बनने से तीन दिन से लगातार बारिश हो रही है. मूसलाधार बारिश की वजह से कोलकाता का हाल मुंबई और दिल्ली से भी बदतर हो गया है. ट्रेनों की पटरियां जलमग्न हो गयीं हैं. फलस्वरूप पूर्व रेलवे और दक्षिण पूर्व रेलवे ने कई ट्रेनों को रद्द कर दिया है.

बुधवार रात से शुरू हुई बारिश गुरुवार को भी जारी रही. लगातार मूसलाधार बारिश से जनजीवन अस्त-व्यस्त हो गया. शुक्रवार सुबह से हावड़ा व खड़गपुर डिवीजन में ट्रेनों का परिचालन लगभग ठप हो गया. हावड़ा स्टेशन से झील साइडिंग व टिकियापाड़ा यार्ड तक रेलवे पटरियों पर पानी भर जाने से पूर्व व दक्षिण पूर्व रेलवे को कई ट्रेनें रद्द करनी पड़ी.

कई ट्रेनों की यात्रा संक्षिप्त की गयी
कई ट्रेनों की यात्रा संक्षिप्त की गयी
Prabhat Khabar

रेलवे से मिली जानकारी के अनुसार, टिकियापाड़ा यार्ड के पास सभी ट्रैक सर्किट व प्वाइंट जोन में पानी घुस जाने के कारण ट्रेनों का संचालन बंद करना पड़ा. हालांकि, इक्का-दुक्का ट्रेनों को मैनुअल पद्धति से हावड़ा स्टेशन से बाहर निकाला गया. रद्द की गयी ट्रेनों में सभी लंबी दूरी की ट्रेनें हैं.

इक्का-दुक्का ट्रेनों को मैनुअल पद्धति से हावड़ा स्टेशन से बाहर निकाला गया
इक्का-दुक्का ट्रेनों को मैनुअल पद्धति से हावड़ा स्टेशन से बाहर निकाला गया
Prabhat Khabar

दोपहर बाद तक ट्रेन सेवा सामान्य नहीं हो पायी थी. पंप के जरिये पानी को निकाला जा रहा है. शुक्रवार को बारिश नहीं होने पर रेलवे के अधिकारियों ने राहत की सांस ली है. बताया जा रहा है कि ट्रेन सेवा सुचारू होने में अभी समय लगेगा.

पंप के जरिये पानी को निकाला जा रहा है
पंप के जरिये पानी को निकाला जा रहा है
Prabhat Khabar

पूर्व रेलवे की ये ट्रेनें रद्द

पूर्वा एक्सप्रेस (02303), लालकुआं एक्सप्रेस (02353), हूल एक्सप्रेस (03001) व हावड़ा-भागलपुर एक्सप्रेस (03015) सहित कई ट्रेनों को रद्द कर दिया. कई ट्रेनों के समय में बदलाव किया गया है. रेल की पटरियों के पानी में डूब जाने के कारण डाउन स्पेशल ट्रेनें हावड़ा नहीं जा सकीं. ट्रेनों को लिलुआ, बेलूड़, बाली स्टेशन पर ही रोक दिया गया.

कई ट्रेनों को रद्द कर दिया गया
कई ट्रेनों को रद्द कर दिया गया
Prabhat Khabar

हजारों दैनिक यात्री अपने गंतव्य तक पैदल जाते दिखे. बारिश का असर सियालदह डिवीजन में भी देखा गया. कोलकाता-लालगोला हजारद्वारी एक्सप्रेस सहित स्टाफ स्पेशल ट्रेनों को रद्द कर दिया गया, जबकि कुछ ट्रेनों की यात्रा संक्षिप्त की गयी.

हजारों दैनिक यात्री अपने गंतव्य तक पैदल जाते दिखे
हजारों दैनिक यात्री अपने गंतव्य तक पैदल जाते दिखे
Prabhat Khabar

दक्षिण पूर्व रेलवे की छह जोड़ी ट्रेनें रद्द

दक्षिण पूर्व रेलवे ने छह जोड़ी स्पेशल ट्रेनों को रद्द कर दिया. शुक्रवार को हावड़ा से खुलने वाली 10 स्पेशल ट्रेनें सांतरागाछी व शालीमार स्टेशन से खुलीं. यात्रियों को सांतरागाछी व शालीमार स्टेशन पहुंचने में परेशानी नहीं हो, इसके लिए दपूरे की ओर से बस की व्यवस्था की गयी थी.

हावड़ा से खुलने वाली 10 स्पेशल ट्रेनें सांतरागाछी व शालीमार स्टेशन से खुलीं
हावड़ा से खुलने वाली 10 स्पेशल ट्रेनें सांतरागाछी व शालीमार स्टेशन से खुलीं
Prabhat Khabar

हावड़ा, खड़गपुर व सांतरागाछी स्टेशन पर हेल्प डेस्क के जरिये यात्रियों को ट्रेन से संबंधित जानकारियां दी जा रही थी. यात्रियों को उनके मोबाइल पर लगातार एसएमएस भेजे गये. हावड़ा आने वाली डाउन ट्रेनों की यात्रा खड़गपुर व सांतरागाछी स्टेशन पर खत्म कर दी गयी. हालांकि, इसे लेकर यात्रियों के बीच रोष देखा गया.

हावड़ा आने वाली डाउन ट्रेनों की यात्रा खड़गपुर व सांतरागाछी स्टेशन पर खत्म कर दी गयी
हावड़ा आने वाली डाउन ट्रेनों की यात्रा खड़गपुर व सांतरागाछी स्टेशन पर खत्म कर दी गयी
Prabhat Khabar

पानी में फंसा एंबुलेंस, चालक ने बचायी जान

एंबुलेंस चालक की बहादुरी से हार्ट अटैक से पीड़ित एक मरीज की जान बच गयी. लिलुआ थाना अंतर्गत कोना मोड़ इलाके में रहने वाले अशोक घोरई को शुक्रवार सुबह दिल का दौरा पड़ा. बड़ी मुश्किल से एक एंबुलेंस की व्यवस्था की गयी. मरीज को मध्य हावड़ा स्थित एक निजी अस्पताल में दाखिल करना था. सड़कों पर पानी जमने के कारण चालक रंजीत चटर्जी एंबुलेस को कोना मोड़ से लेकर कोना एक्सप्रेस वे पहुंचे.

ड्राइवर ने एंबुलेंस को धक्का लगाकर मरीज को अस्पताल पहुंचाया
ड्राइवर ने एंबुलेंस को धक्का लगाकर मरीज को अस्पताल पहुंचाया
Prabhat Khabar

वहां से ड्रेनेज कैनाल रोड होते हुए उन्हें अस्पताल पहुंचना था, लेकिन अस्पताल पहुंचने के पहले ही पानी के बीच में गाड़ी फंस गयी और गाड़ी बंद हो गयी. एंबुलेंस में मरीज के साथ उनकी पत्नी व बेटी सवार थीं. चालक रंजीत गाड़ी से बाहर निकले और खुद गाड़ी को धक्का देते हुए आगे बढ़ने लगे. उन्हें इस हालत में देखकर एक युवक ने उनका हाथ बंटाया. किसी तरह एंबुलेंस को धक्का देकर मरीज को अस्पताल पहुंचाया गया. मरीज की हालत स्थिर बतायी गयी है.

Posted By: Mithilesh Jha

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें