1. home Home
  2. state
  3. west bengal
  4. governor jagdeep dhankhar attacks tmc chief mamata banerjee after meeting mha amit shah said india never witnessed such violence mtj

अमित शाह से मिलने के बाद ममता सरकार पर बरसे राज्यपाल धनखड़, कहा- देश ने चुनाव के बाद ऐसी हिंसा कभी नहीं देखी

अमित शाह से मिलने के बाद ममता सरकार पर बरसे राज्यपाल धनखड़, कहा- देश ने चुनाव के बाद ऐसी हिंसा कभी नहीं देखी

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
अमित शाह से मिले बंगाल के गवर्नर जगदीप धनखड़
अमित शाह से मिले बंगाल के गवर्नर जगदीप धनखड़
File Photo

कोलकाता/नयी दिल्लीः नयी दिल्ली में केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह से मुलाकात के बाद पश्चिम बंगाल के राज्यपाल जगदीप धनखड़ एक बार फिर ममता बनर्जी पर बरसे. राज्यपाल ने शनिवार (19 जून) को कहा कि देश ने चुनाव के बाद ऐसी हिंसा कभी नहीं देखी. राज्यपाल जगदीप धनखड़ ने तीन दिन में दो बार अमित शाह से मुलाकात की.

अमित शाह से मुलाकात के बाद श्री धनखड़ ने कहा कि यह वक्त हमारे लिए लोकतंत्र, संविधान और कानून में विश्वास बनाये रखने का है. उन्होंने अपील की कि सभी नौकरशाह और पुलिसकर्मी अचार संहिता और नियमों का पालन करें. धनखड़ ने शुक्रवार को अंतिम समय में राज्य की कानून व्यवस्था की स्थिति पर केंद्रीय गृह मंत्री से चर्चा के लिए दिल्ली से कोलकाता लौटने का कार्यक्रम बदल दिया था.

श्री शाह से मिलने के बाद राज्यपाल ने कहा कि हम लोकतंत्र, संविधान और कानून के साथ समझौता नहीं कर सकते हैं. राज्यपाल ने आगे कहा कि जब मैंने चुनाव के बाद हुई हिंसा से प्रभावित इलाकों का दौरा किया. यह मेरे लिए काफी कष्टदायक था. देश ने चुनाव के बाद ऐसी हिंसा कभी नहीं देखी.

नौकरशाहों और पुलिस अफसरों से धनखड़ की अपील

जगदीप धनखड़ ने कहा कि लोकतंत्र में आपने अपनी मर्जी से और हमारे खिलाफ वोट करने की हिम्मत कैसे की, इसलिए आपके वोट के लिए आपको दंडित किया जायेगा. उन्होंने कहा कि चुनाव के बाद इस तरह की हिंसा आजादी के बाद की सबसे खराब स्थिति है. साथ ही राज्यपाल ने कहा कि यह हमारे लिए लोकतंत्र, संविधान, कानून के शासन में विश्वास करने का अवसर है. वह नौकरशाहाें और पुलिस से अपील करते हैं कि वे अपनी आचार संहिता और नियमों को सीमित रहें.

राज्यपाल जगदीप धनखड़ ने अपने पांच दिवसीय दिल्ली दौरे के दौरान राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद, लोकसभा अध्यक्ष ओम बिरला, गृह मंत्री अमित शाह और कांग्रेस के नेता अधीर रंजन चौधरी से मुलाकात की. इसके अलावा उन्होंने केंद्रीय कोयला मंत्री प्रह्लाद जोशी, केंद्रीय सूचना व संस्कृति मंत्री प्रह्लाह सिंह पटेल, राष्ट्रीय मानवाधिकार आयोग के चेयरमैन जस्टिस अरुण कुमार मिश्रा सहित अन्य पदाधिकारियों के साथ बैठक की.

राष्ट्रपति, गृह मंत्री को कानून-व्यवस्था पर दी रिपोर्ट

सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार, राज्यपाल ने राष्ट्रपति व गृहमंत्री को बंगाल में कानून-व्यवस्था की मौजूदा स्थिति पर रिपोर्ट सौंपी है और हस्तक्षेप करने का अनुरोध किया है. कोलकाता से नयी दिल्ली रवाना होने के पहले भाजपा विधायकों के एक प्रतिनिधिमंडल ने उन्हें राज्य में कानून-व्यवस्था की खराब स्थिति को लेकर रिपोर्ट सौंपी थी. इसके बाद राज्यपाल ने संवाददाता सम्मेलन कर कहा था कि बंगाल में लोकतंत्र आखिरी सांसें गिन रहा है.

दिल्ली रवाना होने से पहले उन्होंने मुख्यमंत्री ममता बनर्जी को कड़ी चिट्ठी भी लिखी थी और चुनाव बाद हिंसा पर उनकी खामोशी पर सवाल उठाया था. उन्होंने आरोप लगाया था कि एक माह बीत जाने के बावजूद हिंसा को लेकर राज्य मंत्रिमंडल की बैठक में कोई चर्चा नहीं हुई है. उन्होंने ट्विटर पर इस पत्र को शेयर भी किया था. उनके इस कदम की राज्य के गृह विभाग ने मानदंडों का उल्लंघन बताकर आलोचना की थी.

राज्यपाल के दिल्ली दौरे पर सवाल

पश्चिम बंगाल में लगातार तीसरी बार सत्ता पर काबिज होने वाली ममता बनर्जी की पार्टी तृणमूल कांग्रेस ने राज्यपाल जगदीप धनखड़ के दिल्ली दौरे पर सवाल उठाया है. गौरतलब है कि गुरुवार को मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने बंगाल में हिंसा को सिरे से खारिज करते हुए केंद्र सरकार और राज्यपाल पर ही गंभीर आरोप लगाये थे.

Posted By: Mithilesh Jha

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें