1. home Hindi News
  2. state
  3. west bengal
  4. cocaine case bjp leader pamela goswami and rakesh singhs personnal affair became political drama

कोलकाता कोकीन केस: पामेला गोस्वामी और राकेश सिंह के अफेयर को दिया गया राजनीतिक रंग !

By Guest Contributor
Updated Date
पामेला गोस्वामी ड्रग्स केस में हर दिन हो रहे हैं नये खुलासे.
पामेला गोस्वामी ड्रग्स केस में हर दिन हो रहे हैं नये खुलासे.
Facebook

कोलकाता : न्यू अलीपुर थाना इलाके से 90 ग्राम कोकीन के साथ गिरफ्तार हुई भाजपा युवा मोर्चा की सचिव पामेला गोस्वामी और भाजपा नेता राकेश सिंह की गिरफ्तारी ने राजनीति माहौल को गरमा दिया है, वहीं इस मामले की जांच में पता चला कि मामले का राजनीति से कोई लेना देना नहीं है. यह पामेला और राकेश का निहायत की निजी विवाद का मामला है. दो लोगों के अफेयर को राजनीतिक रंग दिया जा रहा है.

जब पामेला गोस्वामी को गिरफ्तार किया गया था, तब राजनीतिक गिलयारे में हड़कंप मच गया था. मामला और बड़ा हो गया, जब एक भाजपा नेता ने अपनी ही पार्टी के एक नेता का नाम लिया. राकेश सिंह से हर कोई परिचित है. राकेश के खिलाफ पहले से ही 56 मामले दर्ज हैं. राकेश पहले कांग्रेस में थे और कुछ महीनों पहले ही भाजपा में शामिल हुए हैं.

राकेश सिंह का नाम उस समय सुर्खियों में आया, जब पामेला ने उनका ना सिर्फ नाम लिया. साथ ही गंभीर आरोप भी लगा दिये. दअरसल, गिरफ्तारी के बाद खुद भाजपा नेता पामेला ने कैलाश विजयवर्गीय के करीबी राकेश पर गंभीर आरोप लगाते हुए उसकी गिरफ्तारी की मांग की. इसके बाद ही मामले ने तूल पकड़ा. विधानसभा चुनाव की तारीख घोषित होने वाली थी और उससे पहले ही यह धमाका हो गया. राकेश की गिरफ्तारी ने इस मामले को और हवा दे दी.

विरोधी दलों के लिए यह विधानसभा चुनाव का मुद्दा बन गया, लेकिन मामले की प्राथमिक जांच में जो बातें सामने आ रही हैं, उससे पता चलता है कि जिस मामले को राजनीतिक रंग दिया जा रहा है, दरअसल वह दो लोगों का आपसी मामला है. सूत्र बताते हैं कि राकेश और पामेला के बीच घनिष्ठ संबंध थे. हालांकि, पामेला ने अदालत के बाहर राकेश पर गंभीर आरोप लगाये थे. दूसरी तरफ, पामेला के करीबियों की मानें, तो दोनों में घनिष्ठता थी और बाद में उनके रिश्तों में दरार आ गयी.

रिश्तों में दरार क्यों आयी, इसका खुलासा अभी तक नहीं हुआ है. विश्वस्त सूत्र बताते हैं कि कुछ महीनों पहले ही उनके रिश्तों में खटास आ गयी थी. मामले को ब्लैकमेलिंग और रुपये के लेन-देन से जोड़ा जा रहा है. इस केस को अब राजनीतिक रंग दिया जा चुका है. मालूम हो कि 19 फरवरी 2021 को पामेला गोस्वामी को उसके एक दोस्त तथा सिक्यूरिटी गार्ड के साथ गिरफ्तार किया गया था. इसके बाद घटना के कथित मास्टरमाइंड राकेश सिंह और उसके दो करीबियों को भी बाद में गिरफ्तार कर लिया गया.

Posted by : Babita Mali

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें