1. home Hindi News
  2. state
  3. west bengal
  4. chairman in all standing committees are now from ruling party tmc in bengal mtj

West Bengal Politics: विधानसभा की सभी स्टैंडिंग कमेटी में सरकार का चेयरमैन, मदन मित्रा को भी मिली जगह

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
West Bengal Politics: विधानसभा की सभी स्टैंडिंग कमेटी में सरकार का चेयरमैन
West Bengal Politics: विधानसभा की सभी स्टैंडिंग कमेटी में सरकार का चेयरमैन
Prabhat Khabar

कोलकाता: पश्चिम बंगाल की सभी स्टैंडिंग कमेटियों पर सरकार का कब्जा हो गया है. भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के आठ विधायकों ने विधायक मुकुल रॉय की लोक लेखा समिति (पीएसी) के अध्यक्ष के रूप में नियुक्ति के विरोध में मंगलवार को विधानसभा की विभिन्न समितियों के प्रमुखों के रूप में इस्तीफा दे दिया था. विधानसभा अध्यक्ष ने उन सभी कमेटियों का चेयरमैन सत्तारूढ़ तृणमूल कांग्रेस के विधायकों को नियुक्त कर दिया है.

इससे पहले स्पीकर ने एक बार फिर भाजपा विधायकों को अपने फैसले पर पुनर्विचार करने का आग्रह किया. भाजपा विधायक जब अपनी मांग पर अड़े रहे, तो स्पीकर ने भाजपा विधायकों द्वारा छोड़ी गयी समितियों में तृणमूल कांग्रेस के विधायकों को चेयरमैन बना दिया.

शुक्रवार को राज्य के संसदीय कार्य मंत्री पार्थ चटर्जी ने विधानसभा में इसकी घोषणा की. उन्होंने संवाददाताओं को बताया कि भाजपा विधायकों ने जिन समितियों के चेयरमैन पद से इस्तीफा दे दिया था, उसी समितियों के तृणमूल कांग्रेस सदस्यों में से एक को चेयरमैन बनाया गया है.

गौरतलब है कि शुक्रवार को विधानसभा अध्यक्ष विमान बनर्जी ने सभी स्टैंडिंग कमेटियों के चेयरमैन की बैठक बुलायी थी, जिसमें भाजपा विधायक शामिल नहीं हुए. विपक्षी पार्टी का कहना है कि पीएसी अध्यक्ष मुख्य विपक्षी दल के विधायक को बनाया जाता है. मुकुल रॉय ने पार्टी बदल ली है, लेकिन स्पीकर ने उन्हें चेयरमैन बना दिया.

भाजपा का कहना है कि मुकुल रॉय की पीएसी चेयरमैन के पद पर नियुक्ति अलोकतांत्रिक व पक्षपातपूर्ण राजनीति का नग्न प्रदर्शन है. इसके विरोध में, हमने पद छोड़ने का फैसला किया है. शुक्रवार को संसदीय कार्य मंत्री ने नये चेयरमैन के नामों की घोषणा की. इसमें कमरहट्टी से तृणमूल विधायक व हेवीवेट नेता मदन मित्रा का नाम भी शामिल है.

मदन मित्रा को भी स्टैंडिंग कमेटी का चेयरमैन बनाया

मदन मित्रा को मनोज तिग्गा की जगह विधानसभा की श्रम संबंधी स्टैंडिंग कमेटी का चेयरमैन बनाया गया है. श्री चटर्जी ने बताया कि आगामी 26-30 जुलाई तक नये कमिटी के चेयरमैन अपने सदस्यों के साथ बैठक करेंगे और कमेटी के क्रिया-कलापों के बारे में चर्चा करेंगे.

लोक लेखा समिति के चेयरमैन के रूप में मुकुल रॉय इस बैठक में शामिल हुए. पीएसी चेयरमैन पद के बारे में पूछे जाने पर श्री चटर्जी ने कहा कि विधानसभा अध्यक्ष ने अपने अधिकार के अनुसार अपना फैसला लिया है. अब इस मामले में सुनवाई चल रही है. इसलिए अभी वह इस बारे में कोई टिप्पणी नहीं करेंगे.

Posted By: Mithilesh Jha

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें