1. home Hindi News
  2. state
  3. west bengal
  4. cbi probe may be affected due to illness of tmc birbhum district president anuvrat mandal vwt

बीरभूम हिंसा मामला : टीएमसी नेता अनुव्रत मंडल की तबीयत हुई खराब, सीबीआई जांच हो सकती है प्रभावित

ताते चलें कि पिछले बुधवार को बीरभूम जिले के टीएमसी अध्यक्ष अनुव्रत मंडल को एसएसकेएम अस्पताल के वुडबर्न वार्ड में भर्ती कराया गया था. पांचवीं बार पशु तस्करी मामले में पूछताछ के बुलाए जाने के बाद निजाम पैलेस में पेशी के दिन उन्हें अस्पताल में भर्ती कराया गया था.

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
टीएमसी नेता अनुव्रत मंडल
टीएमसी नेता अनुव्रत मंडल
फोटो : ट्विटर

बीरभूम : बागतुई गांव में 21 मार्च की देर रात हुई हिंसा मामले में सीबीआई जांच की जद में आए पशु तस्करी मामले में शामिल तृणमूल कांग्रेस (टीएमसी) के लिए बीरभूम के जिलाध्यक्ष अनुव्रत मंडल की तबीयत काफी खराब हो गई है. बता दें कि ये वही अनुव्रत मंडल हैं, जिन्होंने डिप्टी स्पीकर आशीष बंदोपाध्याय की चिट्ठी मिलने के बाद बागतुई गांव हिंसा मामले के प्रमुख आरोपी और टीएमसी के प्रखंड अध्यक्ष अनारुल हुसैन को विधानसभा चुनाव में पार्टी के खिलाफ गतिविधियों में शामिल होने के बावजूद पद पर बने रहने दिया था. इस समय अनुव्रत मंडल कोलकाता के एसएसकेएम अस्पताल में भर्ती हैं और उनके दोनों अंडकोष में खराबी आने की खबर बताई जा रही है, जिससे सीबीआई जांच प्रभावित होने की आशंका जाहिर की जा रही है.

सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार, पशु तस्करी मामले में बीरभूम जिले के टीएमसी अध्यक्ष अनुव्रत मंडल और सीबीआई के बीच इस समय आंखमिचौली का खेल चल रहा है. कोलकाता एसएसकेएम अस्पताल में भर्ती अनुव्रत मंडल के दोनों अंडकोष की हालत खराब बताई जा रही है. अस्पताल की ओर से जारी मेडिकल रिपोर्ट के अनुसार, अनुव्रत मंडल के दोनों अंडकोष का ऑपरेशन किया जा सकता है. ऐसे में पशु तस्करी मामले में सीबीआई जांच एक बार फिर प्रभावित हो सकता है.

सात दिनों से अस्पताल में भर्ती हैं अनुव्रत मंडल

बताते चलें कि पिछले बुधवार को बीरभूम जिले के टीएमसी अध्यक्ष अनुव्रत मंडल को एसएसकेएम अस्पताल के वुडबर्न वार्ड में भर्ती कराया गया था. पांचवीं बार पशु तस्करी मामले में पूछताछ के बुलाए जाने के बाद निजाम पैलेस में पेशी के दिन उन्हें अस्पताल में भर्ती कराया गया था. उनके इलाज के लिए मेडिकल बोर्ड का गठन किया गया है. बताया जाता है कि सात दिनों तक अस्पताल में भर्ती रहने के बाद अनुव्रत मंडल के इलाज के लिए गठित मेडिकल बोर्ड के सदस्यों ने उनके स्वास्थ्य की दोबारा जांच की. पार्टी सूत्रों के अनुसार, बीरभूम जिले के टीएमसी अध्यक्ष के दो अंडकोष खराब हो गया है. उनमें मवाद जमा हो गया हैं.

फेफड़ों में भी हो गया है संक्रमण

पार्टी के सूत्रों ने बताया कि अनुव्रत मंडल के फेफड़ों की जांच के परिणाम बहुत अच्छे नहीं रहे हैं. फेफड़ों में पानी जमा होने की सूचना मिली है. इसके अलावा 6 मिनट के वॉक टेस्ट में 72 मीटर से ज्यादा चलने के बाद ही उनका ऑक्सीजन सेचुरेशन गिर रहा है. उन्हें ऑक्सीजन सपोर्ट पर रखने की सलाह दी गई है. इसी वजह से मेडिकल बोर्ड ने उन्हें अस्पताल में रखने का फैसला किया है.

क्या सीबीआई के साथ आंखमिचौली खेल रहे हैं अनुव्रत

वहीं, आम नागरिकों का कहना है कि अनुव्रत सीबीआई के साथ आंख-मिचौली का खेल खेल रहे हैं. अनुव्रत मंडल को सीबीआई पहले भी एक से अधिक बार तलब कर चुकी है, लेकिन उन तमाम समन को देखते हुए उन्हें कभी भी सीबीआई कार्यालय में पेश होते नहीं देखा गया. प्रत्येक मामले में उन्होंने इसे जब्त कर लिया है. एक बार फिर जब सीबीआई अदालत का आदेश लेकर गई और अनुव्रत को तलब किया गया, तो वे दोबारा अस्पताल में भर्ती हो गए.

स्वास्थ्य कामना के लिए नानूर में महायज्ञ

वहीं, बीरभूम में टीएमसी कार्यकर्ताओं ने अनुव्रत मंडल के शीघ्र स्वस्थ होने के लिए मंगलवार से नानूर स्थित काली मंदिर में पूजा-अर्चना और महायज्ञ शुरू किया गया है. बीरभूम जिला परिषद लोक निर्माण एवं परिवहन विभाग के मुख्य कार्यपालन अधिकारी करीम खां की देखरेख में गृह महायज्ञ की शुरुआत की गई है. बताया जाता है कि इस महायज्ञ में 10 किलो बेल की लकड़ी, 5 किलो शॉल की लकड़ी, 3 किलो चंदन की लकड़ी, 5 किलो घी और 108 बेल के पत्ते सामग्री के रूप में रखे गए थे.

रिपोर्ट : मुकेश तिवारी

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें