1. home Hindi News
  2. state
  3. west bengal
  4. calcutta
  5. war of words between west bengal governor and trinamool congress government bjp demands nia enquiry death toll mounts to 6 twitter war between jagdeep dhankhar mamata banerjee mtj

मालदा ब्लास्ट पर बंगाल के राज्यपाल-तृणमूल सरकार में जुबानी जंग, भाजपा ने की एनआइए जांच की मांग, मृतकों की संख्या 6 पहुंची

By Prabhat Khabar Digital Desk
Updated Date
Malda Blast News: मालदा ब्लास्ट पर बंगाल के राज्यपाल-तृणमूल सरकार में जुबानी जंग, भाजपा ने की एनआइए जांच की मांग, मृतकों की संख्या 6 पहुंची.
Malda Blast News: मालदा ब्लास्ट पर बंगाल के राज्यपाल-तृणमूल सरकार में जुबानी जंग, भाजपा ने की एनआइए जांच की मांग, मृतकों की संख्या 6 पहुंची.
Prabhat Khabar

Malda Blast News: मालदा/कोलकाता : पश्चिम बंगाल के मालदा जिले में एक प्लास्टिक फैक्ट्री में हुए विस्फोट में 6 लोगों की मौत के बाद राजभवन और राज्य सरकार के बीच एक बार फिर जंग छिड़ गयी है. भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) ने घटना की एनआईए जांच की मांग की है, तो सत्तारूढ़ दल तृणमूल कांग्रेस ने उससे मुद्दे का राजनीतिकरण नहीं करने को कहा है.

मालदा के सुजापुर क्षेत्र में विस्फोट को लेकर राजभवन और प्रदेश सरकार के बीच जुबानी जंग छिड़ गयी है. बंगाल के राज्यपाल जगदीप धनखड़ ने मुख्यमंत्री ममता बनर्जी से कहा कि ‘अवैध बम बनाने’ पर रोक लगायें. इस पर राज्य के गृह विभाग ने तीखी प्रतिक्रिया जतायी, जिसका प्रभार खुद मुख्यमंत्री ममता बनर्जी संभालती हैं.

विभाग ने कहा, ‘विस्फोट का अवैध बम बनाने से कोई लेना-देना नहीं है, जैसा कि कुछ वर्गों की ओर से गैर-जिम्मेदार तरीके से कहा गया है.’ वहीं, पुलिस ने बताया कि मालदा जिले के सुजापुर इलाके में एक प्लास्टिक फैक्ट्री में गुरुवार को पूर्वाह्न 11:30 बजे के आसपास विस्फोट हुआ.

उन्होंने कहा, ‘फैक्ट्री में काम करने वाले 4 श्रमिकों की मौके पर ही मौत हो गयी, जबकि एक अन्य को अस्पताल में मृत घोषित किया गया. इस विस्फोट में पांच अन्य गंभीर रूप से घायल हुए हैं.’ एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया कि गंभीर रूप से घायल एक व्यक्ति को जब कोलकाता के अस्पताल में भर्ती कराया जा रहा था, तभी उसकी मौत हो गयी.

मालदा के एसपी आलोक राजोरिया ने कहा कि प्रारंभिक जांच से पता चला है कि कारखाने के अंदर एक भारी मशीन में तकनीकी खराबी के कारण उच्च तीव्रता का विस्फोट हुआ. प्लास्टिक निर्माण के दौरान यह विस्फोट हुआ. हम सभी कोणों से जांच कर रहे हैं और एक फॉरेंसिक टीम घटनास्थल का दौरा करेगी.

राज्यपाल बनाम मुख्यमंत्री

राज्य के राज्यपाल जगदीप धनखड़ ने इस घटना पर दुख जताया और मुख्यमंत्री ममता बनर्जी को ‘अवैध बम बनाने’ पर रोक लगाने और ‘पेशेवर एवं बिना पक्षपात के जांच’ सुनिश्चित करने के लिए कहा. उन्होंने ट्वीट किया, ‘मालदा जिले के सुजापुर इलाके में विस्फोट में हुई मौतों से व्यथित हूं. एसपी के मुताबिक 5 लोगों की मौत हुई है और 5 अन्य घायल हुए हैं. यह समय है कि ममता बनर्जी अवैध रूप से बम निर्माण पर रोक लगायें और पेशेवर एवं बिना पक्षपात के जांच सुनिश्चित करें.’

श्री धनखड़ ने प्रशासन से घायलों को चिकित्सा सहायता मुहैया कराने के लिए भी कहा. उनकी टिप्पणी पर गृह विभाग की ओर से एक तीखी प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुए ट्वीट किया गया, ‘मालदा सुजापुर प्लास्टिक कारखाने की आज की घटना उत्पादन प्रक्रिया से संबंधित है और इसका गैरकानूनी बम बनाने से कोई लेना-देना नहीं है, जैसा कि कुछ वर्गों द्वारा गैर-जिम्मेदारी से कहा गया है.’

इसमें कहा गया, ‘मौके पर मौजूद डीएम और एसपी तत्काल जांच के बाद राज्य के अधिकारियों को सूचित कर रहे हैं और मुआवजे के लिए कदम उठाये गये हैं. एक वरिष्ठ मंत्री को मौके पर भेजा गया है और यह तथ्यात्मक रूप से सही होने का समय है. सरकार पीड़ितों और उनके परिवार की मदद कर रही है.’

श्री धनखड़ ने पलटवार करते हुए कहा, ‘कानून और व्यवस्था तथा जांच स्थिति ‘चिंताजनक है’ और इसे ‘बिना पक्षपात के संभाले जाने की जरूरत है.’ उन्होंने ट्वीट करके कहा कि पश्चिम बंगाल पुलिस पेशेवर तरीके से जांच क्यों न करे. उन्होंने कहा कि ममता बनर्जी ऐसे बम धमाकों में मरने वालों की संख्या का खुलासा क्यों नहीं करतीं.

हर दूसरे दिन बंगाल में होता है विस्फोट : कैलाश

भाजपा ने घटना की एनआईए से जांच कराने की मांग की. भाजपा के राष्ट्रीय महासचिव एवं बंगाल प्रभारी कैलाश विजयवर्गीय ने कहा, ‘पश्चिम बंगाल में बम विस्फोट एक नियमित घटना बन गयी है. हर दूसरे दिन, राज्य में बम विस्फोट की कोई घटना होती है. हम मालदा विस्फोट की घटना की एनआईए जांच की मांग करते हैं.’

उन्होंने कहा, ‘हम केंद्रीय गृह मंत्रालय को पत्र लिखकर एनआईए जांच का अनुरोध करेंगे, ताकि सच्चाई सामने आ सके, क्योंकि राज्य पुलिस इस मामले को दबाने की कोशिश करेगी.’ आरोपों का खंडन करते हुए बंगाल के मंत्री फिरहाद हकीम ने कहा, ‘हम केंद्रीय एजेंसियों का सम्मान करते हैं, लेकिन भाजपा को अपने निहित राजनीतिक हितों के लिए उनका उपयोग करना बंद करना चाहिए. भाजपा को शवों पर राजनीति करना बंद करना चाहिए.’

Posted By : Mithilesh Jha

Share Via :
Published Date
Comments (0)
metype

संबंधित खबरें

अन्य खबरें