1. home Hindi News
  2. state
  3. west bengal
  4. calcutta
  5. udayan sentenced to life imprisonment in the murder of parents and female friends bankura district court sentenced sam

माता- पिता और महिला दोस्त की हत्या मामले में उदयन को उम्रकैद, बांकुड़ा जिला अदालत ने सुनायी सजा

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
Bengal news : माता- पिता और महिला दोस्त की हत्या का दोषी उदयन दास को ले जाती पुलिस.
Bengal news : माता- पिता और महिला दोस्त की हत्या का दोषी उदयन दास को ले जाती पुलिस.
प्रभात खबर.

Bengal news, Asansol news : आसनसोल/बांकुड़ा : 23 जुलाई, 2016 को अपनी महिला दोस्त की नृशंस हत्या के मामले में आरोपी उदयन दास को बांकुड़ा जिला अदालत ने उम्रकैद की सजा सुनायी. जिला अदालत के फर्स्ट कोर्ट के अतिरिक्त सत्र न्यायाधीश सुरेश विश्वकर्मा ने आरोपी को हत्या एवं सबूत मिटाने के जुर्म में उम्रकैद के साथ 20 हजार रुपये का जुर्माना भुगतान करने का आदेश भी दिया. दोषी उदयन पर अपने माता-पिता का हत्या करने का भी आरोप है. इस घटना को लेकर उदयन दास जिले में चर्चा का विषय बना हुआ था.

मालूम हो कि 23 जुलाई, 2016 को बांकुड़ा शहर के एक बैंक मैनेजर की बेटी आकांक्षा श्वेता अपने पिता से यह कहकर भोपाल चली गयी कि उसका दोस्त उदयन दास उसकी नौकरी अमेरिका में लगाया है. घर से निकलने के दौरान आकांक्षा अपने साथ लैपटॉप, मोबाइल, बैंक पासबुक, आधार कार्ड, वोटर कार्ड एवं ड्राइविंग लाइसेंस ले गयी थी.

आकांक्षा के जाने के बाद से सिर्फ व्हाट्सएप चैटिंग के जरिये ही परिजनों को उससे संपर्क हो रही थी. फोन पर उससे कोई बात नहीं हो पा रहा था. 5 अक्टूबर, 2016 को उदयन अकेले ही रवींद्र सरणी स्थित आकांक्षा के घर आया. उसने बताया कि आकांक्षा अमेरिका में है. यदि वे लोग अमेरिका जाना चाहते हैं, तो वह इसकी व्यवस्था कर देगा. 4 दिन रहने के बाद उदयन 8 अक्टूबर, 2016 को वहां से निकल गया. उसने भोपाल का अपना ठिकाना गोविंदपुरा थाना स्थित साकेतनगर बताया था.

इधर, बेटी से संपर्क नहीं होने पर नवंबर 2016 में आकांक्षा के पिता एवं भाई दोनों भोपाल गये एवं पड़ोसियों से बातचीत की. पड़ोसियों ने बताया कि यहां एक लड़की आयी थी. उसके बाद उसकी कोई जानकारी नहीं मिल पायी. बांकुड़ा लौट कर आकांक्षा के परिजनों ने बांकुड़ा थाने में गुमशुदगी की रिपोर्ट दर्ज करायी. इसके बाद पुलिस ने जांच शुरू की.

2 फरवरी, 2017 को भोपाल के गोविंदपुरा थाना के साथ बांकुड़ा पुलिस ने उदयन के निवास पर जाकर छापेमारी कर उदयन को गिरफ्तार किया. वह दूसरे तल्ले पर रहता था. उदयन से पूछताछ में उसने कबूल किया कि आकांक्षा को मारकर सूटकेस में डालकर दफन कर दिया है. दफन किये गये स्थान पर चबूतरा बना दिया है. जब शव को वहां से निकाला गया, तो ताबीज देखकर उसके भाई ने आकांक्षा की शिनाख्त की. वहां से आकांक्षा का सामान भी बरामद किया गया.

उदयन ने स्वीकार किया कि 2010 में रायपुर स्थित घर में अपने माता- पिता को भी मारकर दफन कर दिया था. उदयन को ट्रांसिट रिमांड पर रायपुर लाया गया एवं घर से 2 कंकाल बरामद किया गया. बाद में उसे बांकुड़ा लाया गया.

Posted By : Samir Ranjan.

Share Via :
Published Date
Comments (0)
metype

संबंधित खबरें

अन्य खबरें