1. home Hindi News
  2. state
  3. west bengal
  4. calcutta
  5. six bjp warriors of amit shah is working on ground to conquer west bengal election 2021 mtj

सबकी नजर अमित शाह पर, लेकिन खामोशी से बंगाल में भाजपा की जमीन तैयार कर रहे शाह के सिपहसालार

By Prabhat Khabar Digital Desk
Updated Date
सबकी नजर अमित शाह पर, लेकिन खामोशी से बंगाल में भाजपा की जमीन तैयार कर रहे शाह के सिपहसालार.
सबकी नजर अमित शाह पर, लेकिन खामोशी से बंगाल में भाजपा की जमीन तैयार कर रहे शाह के सिपहसालार.
Prabhat Khabar

कोलकाता (नवीन कुमार राय) : किसी भी चुनाव में भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) की रणनीति बनाने में अमित शाह और पार्टी के पक्ष में हवा बनाने में नरेंद्र मोदी की भूमिका अहम होती है. सबकी नजर राजनीति के आधुनिक चाणक्य कहे जाने वाले अमित शाह पर होती है. बंगाल में भी सबकी नजर शाह पर ही थी. अमितशाह बोलपुर में रोड शो कर रहे थे और दूसरी तरफ बंगाल के अलग-अलग जिलों में उनके सिपहसालार पार्टी की जमीन मजबूत करने में लगे थे.

भाजपा नेताओं के लगातार बंगाल दौरों को देखते हुए ही तृणमूल कांग्रेस ने चुनाव का मुद्दा स्थानीय बनाम बाहरी कर दिया है. दो दिन के बंगाल दौरे पर जब अमित शाह बोलपुर में व्यस्त थे, तो कोलकाता में उत्तर प्रदेश के उप मुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य संगठन को मजबूत करने के लिए आ चुके थे. कोलकाता में भाजपा के युवा नेता आकाश मिश्रा ने अपने समर्थकों के साथ उनका जोरदार स्वागत किया.

केशव प्रसाद मौर्य को अमित शाह ने बंगाल चुनाव में विशेष जिम्मेदारी दी है. जिम्मेवारी मिलते ही केशव प्रसाद मौर्य हुगली के चुंचुड़ा पहुंचे. वहां संगठनात्मक बैठक के अलावा वह पार्टी के ‘जनसंपर्क’ कार्यक्रम में भी शामिल हुए. श्री मौर्य ही नहीं, अमित शाह ने पश्चिम बंगाल विधानसभा चुनाव 2021 के लिए 6 नेताओं को विशेष जिम्मेदारी दे रखी है. उन नेताओं में पांच केंद्रीय मंत्री अर्जुन मुंडा, संजीव कुमार बालियान, गजेंद्र सिंह शेखावत, मुकेश मंडाविया और प्रसाद सिंह पटेल शामिल हैं.

इतना ही नहीं, मध्यप्रदेश के गृह मंत्री नरोत्तम मिश्रा को भी अहम जिम्मेवारी सौंपी गयी है. भाजपा सूत्रों की मानें, तो अमित शाह ने इन 6 लोगों को राज्य की 6-6 लोकसभा सीटों की जिम्मेदारी दी है. बीते दिन राजारहाट के एक होटल में चुनावी रणनीति पर अमित शाह ने प्रदेश के भाजपा नेताओं की एक बैठक ली. बैठक में केंद्रीय पेट्रोलियम मंत्री धर्मेंद्र प्रधान भी मौजूद थे. जिन लोगों को जिम्मेदारी दी गयी है, उस सूची में धर्मेंद्र प्रधान का नाम नहीं है, लेकिन अमित शाह ने विशेष रूप से उन्हें चुनाव से पहले बंगाल आने को कहा है.

अमित शाह ने सभी 6 प्रभारियों को निर्देश दिया है कि विधानसभा चुनाव तक हर हफ्ते वे लोग बंगाल आयें और पार्टी को मजबूत करें. अमित शाह के निर्देशों के अनुसार, सभी 7 नेता हर शनिवार और रविवार को बंगाल का दौरा करेंगे, भले ही उनके पास सप्ताह के बाकी दिनों में दिल्ली या अपने राज्य में काम हो. राज्य भाजपा को इस तरह का कार्यक्रम तय करना होगा. केशव प्रसाद मौर्य को हावड़ा और हुगली जिला का प्रभार दिया गया है. रविवार को, उन्होंने चुंचड़ा के लोहापट्टी में स्थानीय बुद्धिजीवियों के साथ बैठक की.

Posted By : Mithilesh Jha

Share Via :
Published Date
Comments (0)
metype

संबंधित खबरें

अन्य खबरें