1. home Hindi News
  2. state
  3. west bengal
  4. calcutta
  5. police prevented bjp from tarpan in bagbazar tarpna in golbari vijayvargiya attacked mamata sam

बागबाजार में तर्पण करने से भाजपा को पुलिस ने रोका, गोलाबाड़ी में किया तर्पण, विजयवर्गीय ने ममता पर बोला हमला

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
Bengal news : राजनीतिक हिंसा में शिकार हुए भाजपा कार्यकर्ताओं के परिजन गोलाबाड़ी घाट पर तर्पण करते हुए.
Bengal news : राजनीतिक हिंसा में शिकार हुए भाजपा कार्यकर्ताओं के परिजन गोलाबाड़ी घाट पर तर्पण करते हुए.
प्रभात खबर.

Bengal news, Kolkata news : कोलकाता : उत्तर कोलकाता के बागबाजार घाट पर राजनीतिक हिंसा के शिकार हुए भाजपा कार्यकर्ताओं को तर्पण देने के लिए उनके परिजन और भाजपा कार्यकर्ता जमा हुए, लेकिन तर्पण कार्यक्रम को पुलिस ने रोक दिया. विरोध में भाजपा कार्यकर्ताओं ने प्रदर्शन किया और गिरफ्तारी दी. इस बीच पुलिस को चमका देते हुए 17 मृत भाजपा कार्यकर्ताओं के परिजनों से गोलाबाड़ी घाट में तर्पण का कार्यक्रम करवाया गया.

बुधवार को सुबह से भाजपा के तर्पण कार्यक्रम को लेकर बागबाजार घाट में तनाव था. भारी संख्या में पुलिसकर्मियों की तैनाती की गयी थी. भाजपा द्वारा लगाये गये बांस- बल्लियों को पुलिस ने हटा दिया था और बैरेकेडिंग कर दी थी. पुलिस कोरोना महामारी के मद्देनजर सामूहिक कार्यक्रम करने की अनुमति देने से इनकार कर दिया था. इस बात को लेकर काफी देर तक भाजपा नेता और पुलिस के बीच बातचीत हुई. लेकिन, पुलिस द्वारा अनुमति नहीं दिये जाने पर भाजपा समर्थकों ने प्रदर्शन शुरू कर दिया.

इस बीच, बागबाजार घाट के पास भाजपा के महासचिव व प्रदेश भाजपा के केंद्रीय प्रभारी कैलाश विजयवर्गीय (Kailash Vijayvargiya), सह पर्यवेक्षक अरविंद मेनन (Arvind Menon), राष्ट्रीय सचिव राहुल सिन्हा (Rahul Sinha), केंद्रीय कमेटी के सदस्य मुकुल रॉय (Mukul Roy) सहित अन्य नेता पहुंचे और सड़क पर बैठकर धरना देना शुरू कर दिया. इस बीच पुलिस ने कार्रवाई करते हुए कुछ भाजपा समर्थकों को गिरफ्तार भी कर लिया.

इधर, श्री विजयवर्गीय ने ममता सरकार (Mamata government) पर हमला बोलते हुए कहा कि आज आश्विन माह की चतुदर्शी है. भारतीय विधान के अनुसार, मृत्यु हुए लोगों को आज तर्पण देने का प्रावधान है. हमलोगों ने उत्तर कोलकाता के बागबाजार घाट पर गंगा के किनारे देश के लिए आहूति देने वाले 4000 सैनिकों और 112 भाजपा कार्यकर्ताओं के तपर्ण के लिए इकट्ठा हुए थे, लेकिन ममता सरकार की पुलिस ने तर्पण नहीं होने दिया. घुसपैठियों के साथ रहते हुए क्या ममता जी हिंदू परंपरा भूल गयी हैं.

उन्होंने कहा कि तर्पण करना हमारा अधिकार है, हालांकि इसके लिए पुलिस से अनुमति भी मांगी गयी थी, लेकिन पुलिस ने अनुमति नहीं दी. यह सरकार 30 फीसदी लोगों के काम कर रही है और 70 फीसदी लोगों की अवहेलना कर रही है. भाजपा के राष्ट्रीय सचिव राहुल सिन्हा ने कहा कि ममता बनर्जी की सरकार हिंदू विरोधी सरकार है. यह दुर्भाग्यपूर्ण है कि हिंदुओं से तर्पण करने का अधिकार भी छीना जा रहा है. ममता बनर्जी हिंदुओं की संस्कृति को विध्वंस करना चाहती हैं और पश्चिम बंगाल को पाकिस्तान बनाना चाहती हैं. यह बंगाल के हिंदुओं पर कुठराघाट है.

Posted By : Samir Ranjan.

Share Via :
Published Date
Comments (0)
metype

संबंधित खबरें

अन्य खबरें