1. home Hindi News
  2. state
  3. west bengal
  4. calcutta
  5. meghalaya governor tathagata roy wants to return in active politics of west bengal

पश्चिम बंगाल की सक्रिय राजनीति में लौटना चाहते हैं मेघालय के राज्यपाल तथागत रॉय

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
तथागत रॉय वर्ष 2002 से वर्ष 2006 तक पश्चिम बंगाल प्रदेश भाजपा के अध्यक्ष थे.
तथागत रॉय वर्ष 2002 से वर्ष 2006 तक पश्चिम बंगाल प्रदेश भाजपा के अध्यक्ष थे.
Twitter

कोलकाता : मेघालय के राज्यपाल तथागत रॉय पश्चिम बंगाल की सक्रिय राजनीति में लौटना चाहते हैं. पश्चिम बंगाल विधानसभा चुनाव में कुछ महीने शेष रहने के बीच मेघालय के राज्यपाल और पूर्व भाजपा नेता तथागत रॉय ने खुद यह इच्छा व्यक्त की है. उन्होंने कहा है कि राज्यपाल के तौर पर कार्यकाल खत्म होने के बाद अपने गृह राज्य की सक्रिय राजनीति में लौटना चाहते हैं.

पश्चिम बंगाल भाजपा के 74 वर्षीय पूर्व प्रमुख ने भारतीय जनता पार्टी के प्रदेश नेतृत्व द्वारा की गयी कुछ टिप्पणियों से असहमति जताते हुए कहा कि पश्चिम बंगाल की जनता को ये बातें रास नहीं आयेंगी. एक वेबिनार (ऑनलाइन संगोष्ठी) के दौरान श्री रॉय ने पश्चिम बंगाल की सक्रिय राजनीति में लौटने की अपनी इच्छा जाहिर की.

तथागत रॉय ने कहा, ‘राज्यपाल के तौर पर मेरा कार्यकाल खत्म होने के बाद, मैं सक्रिय राजनीति में लौटना तथा पश्चिम बंगाल की सेवा करना चाहूंगा. मैं अपने राज्य लौटने के बाद, पार्टी से (इस बारे में) बात करूंगा. इसे स्वीकारना या खारिज करना उन पर है.’

तथागत रॉय वर्ष 2002 से वर्ष 2006 तक पश्चिम बंगाल प्रदेश भाजपा के मुखिया थे और वर्ष 2002 से वर्ष 2015 तक भाजपा की राष्ट्रीय कार्यकारिणी के सदस्य थे. उन्हें मई, 2015 में त्रिपुरा का राज्यपाल नियुक्त किया गया और अगस्त, 2018 में उन्हें मेघालय का राज्यपाल बनाया गया. राज्यपाल के तौर पर उनका कार्यकाल मई में खत्म हो गया, लेकिन कोविड-19 महामारी के कारण इसे बढ़ा दिया गया.

तथागत रॉय ने किसी का भी नाम लिये बिना कहा, ‘पश्चिम बंगाल में गाय हमारी माता है वाली उत्तर भारत की संस्कृति काम नहीं करेगी. गाय के दूध में सोना होता है या गोमूत्र से कोविड-19 का उपचार हो सकता है, जैसे बयान भाजपा की पश्चिम बंगाल में मदद नहीं करेंगे.’

बहरहाल, भाजपा के प्रदेश प्रमुख दिलीप घोष ने मुद्दे पर टिप्पणी करने से इन्कार कर दिया. वहीं भगवा दल का एक धड़ा मानता है कि श्री रॉय की टिप्पणी में घोष पर निशाना साधा गया.

Posted By : Mithilesh Jha

Share Via :
Published Date
Comments (0)
metype

संबंधित खबरें

अन्य खबरें