1. home Home
  2. state
  3. west bengal
  4. calcutta
  5. in up the fire of physical exploitation of dalit daughter reached kolkata youth congress and students parishad protested outside raj bhavan sam

उप्र में दलित बेटी के साथ सामूहिक दुष्कर्म की आग कोलकाता तक पहुंचीं, यूथ कांग्रेस व छात्र परिषद ने राजभवन के बाहर जताया विरोध

उत्तर प्रदेश के हाथरस में दबंगों द्वारा दलित युवती के साथ हुई सामूहिक दुष्कर्म की घटना के विरोध में यूथ कांग्रेस की पश्चिम बंगाल इकाई एवं छात्र परिषद ने संयुक्त रूप से राजभवन के मुख्य द्वार पर विरोध प्रदर्शन किया.

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
Bengal news : यूपी के हाथरस में दलित युवती के साथ सामूहिक दुष्कर्म के खिलाफ राजभवन के बाहर यूथ कांग्रेस और छात्र परिषद के कार्यकर्ताओं ने जताया विरोध प्रदर्शन.
Bengal news : यूपी के हाथरस में दलित युवती के साथ सामूहिक दुष्कर्म के खिलाफ राजभवन के बाहर यूथ कांग्रेस और छात्र परिषद के कार्यकर्ताओं ने जताया विरोध प्रदर्शन.
सोशल मीडिया.

Bengal news, Kolkata news : कोलकाता : उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) के हाथरस में दबंगों द्वारा दलित युवती के साथ हुई सामूहिक दुष्कर्म की घटना के विरोध में यूथ कांग्रेस (Youth congress) की पश्चिम बंगाल इकाई एवं छात्र परिषद ने संयुक्त रूप से राजभवन के मुख्य द्वार पर विरोध प्रदर्शन किया. इस दौरान उप्र के मुख्यमंत्री का पुतला भी फूंका. आंदोलन का नेतृत्व यूथ कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष शादाब खान एवं छात्र परिषद के अध्यक्ष सौरभ प्रसाद ने संयुक्त रूप से किया.

सैकड़ों की तादाद में प्रदर्शनकारी पुलिस की सुरक्षा व्यवस्था को धत्ता बताते हुए राजभवन पहुंचे और प्रदर्शन करने लगे. प्रदर्शनकारियों को काबू में करने के लिए पुलिस को काफी मशक्कत करनी पड़ी. बाद में पुलिस ने मौके से कई प्रदर्शनकारियों को गिरफ्तार कर स्थिति पर काबू पाया.

युवा कांग्रेस के अध्यक्ष शादाब खान ने कहा कि उत्तर प्रदेश जिसे भाजपा उत्तम प्रदेश का खिताब देती है वह पूरी तरह से अपराधियों और दबंगों के चुंगल में फंस गया है. यह लोग सत्ता के प्रत्यक्ष संरक्षण में आपराधिक घटनाओं को बेखौफ होकर अंजाम देते हैं.

यही वजह है कि उत्तर प्रदेश दलित एवं आदिवासी के साथ महिलाओं के लिए नर्क प्रदेश बन गया है. जिसका वह लोग पूरजोर विरोध करते हैं. साथ ही प्रशासन से मांग किया कि इस तरह की घटना दोबारा नहीं हो, इसके लिए राज्य सरकार सख्त कदम उठाये.

इसके साथ ही केंद्र सरकार से दुष्कर्मियों को कड़ी सजा का प्रावधान सुनिश्चित करने की मांग भी की है. इस तरह के मामलों की त्वरित सुनवाई कर अपराधियों को कड़ी सजा मिले, ताकि इस तरह की घटनाओं को अंजाम देने वालों के मन में डर भर जाये.

Posted By : Samir Ranjan.

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें