1. home Hindi News
  2. state
  3. west bengal
  4. calcutta
  5. iit kharagpur is giving farming advice to 3 lakhs farmers of west bengal on mobile

बंगाल के 3 लाख किसानों को मोबाइल पर खेती से संबंधित परामर्श दे रहा है IIT-खड़गपुर

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
किसानों की मदद के लिए आईआईटी-खड़गपुर ने विकसित की है मौसम पूर्वानुमान प्रणाली.
किसानों की मदद के लिए आईआईटी-खड़गपुर ने विकसित की है मौसम पूर्वानुमान प्रणाली.
Prabhat Khabar

कोलकाता : पश्चिम बंगाल में स्थित आईआईटी खड़गपुर के अनुसंधानकर्ताओं ने कृषि गतिविधियों में किसानों की मदद और जलवायु संबंधी जोखिमों को कम करने के लिए एक उन्नत मौसम पूर्वानुमान प्रणाली विकसित की है. एक अधिकारी ने यह जानकारी दी है.

आईआईटी खड़गपुर के प्रवक्ता ने कहा है कि संस्थान ने भारत मौसम विज्ञान विभाग के साथ मिलकर किसानों को विभिन्न मौसमी परिस्थितियों में उत्पादन बढ़ाने के लिए कृषि-परामर्श देना भी शुरू कर दिया है.

अधिकारी ने कहा कि पृथ्वी विज्ञान मंत्रालय द्वारा प्रायोजित दो परियोजनाएं ‘ग्रामीण कृषि मौसम सेवा’ और ‘अंतरिक्ष, कृषि मौसम विज्ञान और भू-आधारित पर्यवेक्षण का इस्तेमाल कर कृषि उत्पादन पूर्वानुमान लगाना’ किसानों को आर्थिक फायदा दिलाने के लिए उन्हें मौसम संबंधी जानकारी उपलब्ध कराती हैं.

संस्थान के कृषि एवं खाद्य अभियांत्रिकी विभाग के प्रोफेसर दिलीप कुमार स्वैन ने कहा, ‘कृषि पूर्वानुमान में फसल चयन, बुवाई का समय, जमीन को तैयार करने और अपज आदि की जानकारी उपलब्ध करायी जाती है. यह भविष्य के मौसम और खास जगह पर जमीन के चरित्र पर आधारित है.’

किसानों को खाद, सिंचाई, कीटनाशक देने के बारे में हर फसल चक्र में प्रत्येक हफ्ते जानकारी उपलब्ध करायी जाती है. उन्होंने कहा, ‘पांच दिन के मौसम पूर्वानुमान पर आधारित कृषि परामर्श हर हफ्ते मंगलवार और शुक्रवार को तैयार कर किसानों के मोबाइल फोन पर भेजा जाता है.’

यह परामर्श अभी बांग्ला भाषा में पश्चिम बंगाल के पश्चिमी मेदिनीपुर, झाड़ग्राम, बांकुड़ा, बीरभूम और पुरुलिया जिलों के करीब तीन लाख किसानों को भेजा जा रहा है.

Posted By : Mithilesh Jha

Share Via :
Published Date
Comments (0)
metype

संबंधित खबरें

अन्य खबरें