1. home Hindi News
  2. state
  3. west bengal
  4. calcutta
  5. farmers of west bengal not getting pm kisan samman nidhi yojana money due to cut money culture in mamata banerjee ruled tmc government said bjp state president dilip ghosh mtj

‘कट मनी’ कल्चर की वजह से किसानों को नहीं मिला PM Kisan सम्मान निधि योजना का लाभ, ममता बनर्जी पर बीजेपी नेता दिलीप घोष का आरोप

By Prabhat Khabar Digital Desk
Updated Date
‘कट मनी’ कल्चर की वजह से किसानों को नहीं मिला PM Kisan सम्मान  निधि योजना का लाभ, ममता बनर्जी पर बीजेपी नेता दिलीप घोष का आरोप.
‘कट मनी’ कल्चर की वजह से किसानों को नहीं मिला PM Kisan सम्मान निधि योजना का लाभ, ममता बनर्जी पर बीजेपी नेता दिलीप घोष का आरोप.
Prabhat Khabar

कोलकाता : पश्चिम बंगाल विधानसभा चुनाव 2021 से पहले प्रदेश भाजपा अध्यक्ष दिलीप घोष ने राज्य की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी एवं सत्तारूढ़ दल तृणमूल कांग्रेस पर हमला किया है. दिलीप घोष ने कहा है कि ममता बनर्जी और तृणमूल कांग्रेस के राज में ‘कट मनी’ कल्चर की वजह से ही राज्य के 72 लाख किसानों को हर साल 6,000-6,000 रुपये के लाभ से वंचित होना पड़ा.

भाजपा नेता ने कहा कि सत्तारूढ़ तृणमूल कांग्रेस की ‘कट मनी' संस्कृति के कारण केंद्र किसानों के बीच वितरित करने के लिए पश्चिम बंगाल सरकार को नगद राशि नहीं भेजी जा रही है. कहा कि तृणमूल कांग्रेस मांग कर रही है कि जो राशि केंद्र द्वारा किसानों को वितरित की जा रही है, वह राशि आगे वितरित करने के लिए राज्य सरकार को भेज दी जाये.

श्री घोष ने आरोप लगाया, ‘हमने देखा है कि नरेंद्र मोदी द्वारा पश्चिम बंगाल सरकार को चक्रवात अम्फान आपदा से निपटने के लिए दी गयी राशि का कैसे दुरुपयोग किया गया. यह राशि तृणमूल कांग्रेस के नेताओं के बैंक खातों में चली गयी.’ श्री घोष ने कहा कि इसी कारण पैसा राज्य सरकार को नहीं भेजा जायेगा, बल्कि किसानों के बैंक अकाउंट में सीधे भेजा जायेगा.

तृणमूल कांग्रेस ने कहा है कि केंद्र एक झूठी कहानी फैला रहा है कि पश्चिम बंगाल सरकार किसानों को नकद लाभ प्राप्त करने से वंचित कर रही है और मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने केवल यह कहा था कि राशि सीधे उनके खातों में भेजने के बजाय राज्य के माध्यम से दी जाये.

सत्ता में आने पर किसानों की राशि उन्हें देगी भाजपा

दिलीप घोष ने कहा कि राज्य के किसानों का नुकसान हो रहा है और ‘पश्चिम बंगाल में भाजपा के सत्ता में आने पर (2021 के विधानसभा चुनावों में) उनका बकाया दिया जायेगा.’ उन्होंने भाजपा की चुनावी तैयारियों के बारे में कहा कि उसने एक नया अभियान शुरू किया है, जो बूथ-आधारित होगा और स्थानीय पार्टी नेताओं के लिए दिशा-निर्देश जारी किये गये हैं.

बंगाल में औद्योगिकीकरण के सपने देख रही ममता सरकार

पश्चिम बंगाल में लगभग 78,000 बूथ हैं और पार्टी पश्चिम बंगाल में ‘अराजकता और अंतहीन भ्रष्टाचार’ को उजागर करेगी. ममता बनर्जी की इस घोषणा का उल्लेख करते हुए कि सिंगूर में कृषि आधारित पार्क स्थापित किया जायेगा, श्री घोष ने कहा कि सरकार पश्चिम बंगाल में औद्योगिकीकरण लाने के दिन में सपने देख रही है.

Posted By : Mithilesh Jha

Share Via :
Published Date
Comments (0)
metype

संबंधित खबरें

अन्य खबरें