1. home Hindi News
  2. state
  3. west bengal
  4. calcutta
  5. chief minister mamata banerjee writes to governor jagdeep dhankar stay within the limits of constitution mth

बंगाल में फिर राज्यपाल बनाम मुख्यमंत्री, ममता ने कहा : संविधान के दायरे में रहें

By Prabhat Khabar Digital Desk
Updated Date
पश्चिम बंगाल के राज्यपाल जगदीप धनखड़ और मुख्यमंत्री ममता बनर्जी का कई मुद्दों पर हो चुका है आमना-सामना.
पश्चिम बंगाल के राज्यपाल जगदीप धनखड़ और मुख्यमंत्री ममता बनर्जी का कई मुद्दों पर हो चुका है आमना-सामना.
Prabhat Khabar

कोलकाता : पश्चिम बंगाल में मुख्यमंत्री और राज्यपाल के बीच फिर से तकरार बढ़ता दिख रहा है. प्रदेश की मुख्यमंत्री और सत्तारूढ़ दल तृणमूल कांग्रेस की सुप्रीमो ममता बनर्जी ने राज्यपाल जगदीप धनखड़ को पत्र लिखकर उन्हें संविधान के दायरे में रहने की नसीहत दी है.

राज्यपाल जगदीप धनखड़ द्वारा कानून एवं व्यवस्था को लेकर राज्य के पुलिस प्रमुख को लिखे गये पत्र के मद्देनजर मुख्यमंत्री ने क्षोभ व्यक्त किया. ममता बनर्जी ने पश्चिम बंगाल के राज्यपाल जगदीप धनखड़ को लिखे नौ पृष्ठों के पत्र में कहा कि राज्यपाल की ओर से लगाये गये आक्षेपों में पुलिस और राज्य सरकार के खिलाफ अपुष्ट निर्णय और कटाक्ष शामिल हैं.

उन्होंने कहा, ‘मैं आपके पत्र और पुलिस महानिदेशक को संबोधित टिप्पणी को पढ़ने के बाद बेहद उदास और दुखी हुई, जिसे मेरे समक्ष प्रस्तुत किया गया था. साथ ही साथ इस बारे में आपके ट्विटर पोस्ट को देखकर भी दुख हुआ.’

ममता बनर्जी ने लिखा, ‘अनुच्छेद 163 के अनुसार, आपको अपने मुख्यमंत्री और उनके मंत्रिपरिषद की सहायता और सलाह के अनुसार कार्य करना अनिवार्य है, जो हमारे लोकतंत्र का सार है.’

मुख्यमंत्री ने कहा, ‘शक्तियों की सीमा पार कर मुख्यमंत्री पद की अनदेखी करने और राज्य के अधिकारियों को आदेश देने से दूर रहें.’ इस महीने की शुरुआत में पुलिस महानिदेशक वीरेंद्र को लिखे पत्र में धनखड़ ने राज्य की कानून व्यवस्था को लेकर चिंता जाहिर की थी.

इस पर पश्चिम बंगाल के पुलिस महानिदेशक की ओर से दो लाइन का जवाब दिये जाने के बाद राज्यपाल जगदीप धनखड़ ने उन्हें 26 सितंबर, 2020 तक मुलाकात करने और कानून एवं व्यवस्था में सुधार के लिए उठाये गये कदमों का विवरण देने को कहा था. ममता बनर्जी ने इसी मुद्दे पर राज्यपाल को चिट्ठी लिखी है.

Posted By : Mithilesh Jha

Share Via :
Published Date
Comments (0)
metype

संबंधित खबरें

अन्य खबरें