1. home Hindi News
  2. state
  3. west bengal
  4. calcutta
  5. bjps attack on completion of 9 years of mamta government said mamta has proved to be the most unsuccessful chief minister of the country

ममता सरकार के 9 साल पूरे होने पर भाजपा का हमला, कहा- देश की सबसे असफल मुख्यमंत्री साबित हुई हैं ममता

By Prabhat Khabar Digital Desk
Updated Date
भाजपा के महासचिव और प्रदेश भाजपा के केंद्रीय प्रभारी  कैलाश विजयवर्गीय.
भाजपा के महासचिव और प्रदेश भाजपा के केंद्रीय प्रभारी कैलाश विजयवर्गीय.
फोटो : सोशल मीडिया.

कोलकाता : भाजपा के महासचिव और प्रदेश भाजपा के केंद्रीय प्रभारी कैलाश विजयवर्गीय (Kailash Vijayvargiya) ने कहा कि मुख्यमंत्री ममता बनर्जी (CM Mamta Banerjee) देश की सबसे असफल मुख्यमंत्री साबित हुई हैं. श्री विजयवर्गीय तृणमूल शासन के नौ वर्ष पूरे होने पर टिप्पणी करते हुए कहा कि नौ साल के शासनकाल में ममता जी ने राज्य में कितने उद्योग लगवाएं ? कितने लोगों को रोजगार दिया? राज्य की कानून-व्यवस्था की स्थिति पूरी तरह से चरमरा गयी है. स्वास्थ्य व्यवस्था पूरी तरह से बिगड़ गयी है.वह देश की सबसे असफल मुख्यमंत्री साबित हुई हैं.

मुख्यमंत्री ममता बनर्जी (CM Mamta Banerjee) द्वारा आर्थिक पैकेज की घोषणा की आलोचना किये जाने पर श्री विजयवर्गीय ने कहा कि ममता जी को यह समझ नहीं है कि यह पैकेज किसके लिए है? यह पैकेज राज्य सरकार के लिए नहीं है, बल्कि यह छोटे और मंझोले स्तर के कारोबारियों के लिए है. यदि मुख्यमंत्री को यह समझ नहीं है कि यह पैकेज मुख्यमंत्री के लिए नहीं है, तो उन्हें अपने पद पर बने रहने का कोई अधिकार नहीं है.

उन्होंने सवाल किया कि मुख्यमंत्री ने अपने कार्यकाल में उद्योग को बढ़ावा देने के लिए क्या किया? केंद्र सरकार ने तो आर्थिक पैकेज की घोषणा की है, लेकिन मुख्यमंत्री ने अभी तक कोई पैकेज क्यों नहीं दी है? उन्होंने कहा कि लॉकडाउन के दौरान जो उद्योग बंद हो गये थे, उनका बिजली बिल भी माफ राज्य सरकार नहीं कर रही है. केंद्र सरकार के पैकेज से ना केवल उद्योग बढ़ेंगे, वरन रोजगार के अवसर भी बढ़ेंगे. देश आत्मनिर्भर बनेगा.

श्री विजयवर्गीय ने हुगली में हिंसा पर मुख्यमंत्री की कड़ी आलोचना करते हुए कहा कि लॉकडाउन का पालन करने वाले लोगों पर एक विशेष संप्रदाय के लोगों ने हमले किये. उनके मकान तोड़े गये. उनके घरों को जलाया गया और ममता जी तुष्टिकरण की नीति के कारण कोई भी कार्रवाई नहीं की. लॉकडाउन के दौरान चार बड़ी हिंसक वारदातें हुई हैं, लेकिन उनलोगों के खिलाफ कोई दंडात्मक कार्यवाई नहीं हुई. केवल कागजी कार्रवाई हुई है. ममता जी के शासनकाल में राज्य की जनता सुरक्षित नहीं है.

Share Via :
Published Date
Comments (0)
metype

संबंधित खबरें

अन्य खबरें