1. home Hindi News
  2. state
  3. west bengal
  4. calcutta
  5. bjp mps from bengal protest outside parliament outspoken against islamic terrorism and political violence sam

बंगाल के भाजपा सांसदों ने संसद के बाहर किया प्रदर्शन, इस्लामिक आंतकवाद व राजनीतिक हिंसा के खिलाफ हुए मुखर

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
Bengal news : संसद भवन परिसर में गांधी प्रतिमा के पास विरोध प्रदर्शन करते बंगाल भाजपा के सांसद.
Bengal news : संसद भवन परिसर में गांधी प्रतिमा के पास विरोध प्रदर्शन करते बंगाल भाजपा के सांसद.
प्रभात खबर.

Bengal news, Kolkata news : कोलकाता : बंगाल के भाजपा सांसदों ने बंगाल में भाजपा कार्यकर्ताओं के खिलाफ राजनीतिक हिंसा और इस्लामिक आतंकवाद के खिलाफ नयी दिल्ली में संसद परिसर में महात्मा गांधी की प्रतिमा के समक्ष धरना-प्रदर्शन किया और तृणमूल सरकार के खिलाफ नारेबाजी की. प्रदर्शन का नेतृत्व भाजपा सांसद व प्रदेश भाजपा के अध्यक्ष दिलीप घोष (Dilip ghosh) ने किया. उनके साथ सांसद अर्जुन सिंह (Arjun Singh), लॉकेट चटर्जी (Lockett Chatterjee), जॉन बारला (John Barla), राजू बिष्ट (Raju Bisht), सुभाष सरकार (Subhash Sarkar) व अन्य सांसद भी उपस्थित थे.

भाजपा सांसदों ने अपने हाथों में तख्तियां ले रखी थीं, जिन पर स्टॉप इ स्लामिक टेरोरिज्म (Stop E Islamic Terrorism), बदल होबे हाल फिरबे (Bad Hobe Hall Firbe), गणतंत्र बचाओ (Save the Republic), सेव बंगाल सेव डेमोक्रेसी (Save Bengal Save Democracy), नो मोर एट्रोसिटिज ऑफ टीएमसी (No More Atrocities of TMC), स्टॉप पोलिटिकल टेरोरिज्ज्म (Stop Political Terrorism) जैसे नारे लिखे हुए थे. दार्जिलिंग के भाजपा सांसद राजू बिष्ट ने बताया कि बंगाल महान विचारकों, दार्शनिकों, शिक्षाविदों, कलाकारों, संगीतकारों एवं सामाजिक सुधारकों की भूमि रही है, जिन्होंने न केवल भारत, बल्कि पूरे विश्व को प्रेरित किया है.

उन्होंने कहा कि राजा राममोहन राय, स्वामी विवेकानंद, ईश्वर चंद्र विद्यासागर, गुरुदेव रवींद्रनाथ टैगोर, नेताजी सुभाष चंद्र बोस, डॉ श्यामा प्रसाद मुखर्जी सहित सैकड़ों महान विभूतियों की भूमि रही है, लेकिन आज बंगाल पिछड़ गया है. पहले माकपा और तृणमूल के शासन ने बंगाल को काफी नुकसान पहुंचाया है.

उन्होंने कहा कि तृणमूल के शासन में पश्चिम बंगाल पूरे देश में आतंकवाद के केंद्र के रूप में तब्दील हो रहा है. तृणमूल कांग्रेस ने रोहिंग्या और बांग्लादेश से अवैध घुसपैठियों को अपने वोट बैंक को बढ़ाने के लिए सीमावर्ती जिलों में उन्हें बसने की अनुमति दी है. इसने सीमा क्षेत्र में व्यापक जनसांख्यिकीय बदलाव लाकर मूल आबादी को कमजोर किया है. इससे गंभीर राष्ट्रीय सुरक्षा खतरा है.

उन्होंने कहा कि बम विस्फोट (Bombings), ड्रग्स (drugs) और मानव तस्करी (Human trafficking) पश्चिम बंगाल (West Bengal) में सबसे अधिक हैं. पश्चिम बंगाल के कई आईएसआई (ISI) लिंक उजागर हुए हैं. एनआईए (NIA) द्वारा आतंकियों की गिरफ्तारी इसका ताजा सबूत है. बंगाल में भाजपा कार्यकर्ताओं की हत्या की जा रही है. अत्याचार किया जा रहा है और उनके खिलाफ बोलने वालों को सताया जाता है. राज्य की कानून व्यवस्था पूरी तरह से ध्वस्त हो गयी है. इस सरकार को अब सत्ता में बने रहने का अधिकार नहीं है.

Posted By : Samir Ranjan.

Share Via :
Published Date
Comments (0)
metype

संबंधित खबरें

अन्य खबरें