1. home Hindi News
  2. state
  3. west bengal
  4. calcutta
  5. bjp congress and cpi leaders meet central observers know what is the demand of all

भाजपा, कांग्रेस और माकपा नेताओं ने केंद्रीय पर्यवेक्षकों से की मुलाकात, जानें क्या है सभी की मांग

By Prabhat Khabar Digital Desk
Updated Date
बंगाल पहुंची केंद्रीय पर्यवेक्षकों से मुलाकात करते बंगाल भाजपा के प्रतिनिधिमंडल.
बंगाल पहुंची केंद्रीय पर्यवेक्षकों से मुलाकात करते बंगाल भाजपा के प्रतिनिधिमंडल.
फोटो : प्रभात खबर.

कोलकाता : चक्रवाती तूफान अम्फान के आकलन के लिए बंगाल पहुंची केंद्रीय पर्यवेक्षकों से भाजपा, कांग्रेस और माकपा प्रतिनिधियों ने मुलाकात किया. बंगाल भाजपा ने प्रभावित लोगों के एकाउंट में सीधे अनुदान भेजते हुए शिकायतों के लिए वेबसाइट और एप बनाने की मांग की, वहीं कांग्रेस व माकपा के प्रतिनिधियों ने अम्फन चक्रवाती तूफान की आपदा को राष्ट्रीय आपदा घोषित करते हुए केंद्रीय फंड का इस्तेमाल राजनीतिक उद्देश्य से नहीं करने की मांग की है.

बंगाल प्रदेश भाजपा के अध्यक्ष दिलीप घोष के नेतृत्व में प्रतिनिधिमंडल ने केंद्रीय पर्यवेक्षक दल के अधिकारियों से मुलाकात कर ज्ञापन सौंपा. इस प्रतिनिधिमंडल में उपाध्यक्ष जयप्रकाश मजूमदार, विश्वप्रिय रायचौधरी व राजू बनर्जी शामिल थे. प्रतिनिधिमंडल से मुलाकात के बाद श्री घोष ने कहा कि मुख्यमंत्री 5 लाख प्रभावित परिवार को 20 हजार रुपये देने की बात कही है, लेकिन 2.5 लाख परिवार को भी यह राशि नहीं मिली है. इसमें भी कट मनी खाया जा रहा है. उन्होंने कहा कि भाजपा उपाध्यक्ष प्रताप बनर्जी प्रभावित इलाकों का दौरा कर लौटे हैं. बांध टूट गये हैं, लेकिन उनका मरम्मत मिट्टी से किया जा रहा है.

उन्होंने केंद्रीय एजेंसी की अगुआई में कंक्रीट बांध का निर्माण करने की मांग की, ताकि वे स्थायी रह सके. इसके साथ ही पूरे कामकाज को देखने के लिए 6 माह के लिए एक नोडल ऑफिसर की नियुक्ति की जाये. उन्होंने कहा कि आइला चक्रवाती तूफान के समय केंद्र सरकार ने 5,032 करोड़ रुपये आवंटित किये थे, लेकिन उनका हिसाब अभी तक नहीं दिया गया है.

उन्होंने कहा कि राहत सामग्री वितरण में राजनीति की जा रही है और जब इसकी शिकायत अधिकारी के पास करने भाजपा के कार्यकर्ता जा रहे हैं, तो उनके साथ मारपीट की जा रही है. उन्होंने कहा कि केंद्र सरकार इस बाबत वेबसाइट या एप बनायें, जिसमें सीधे प्रभावित लोग शिकायत दर्ज कर सकें.

कांग्रेस- माकपा ने की अम्फान तूफान को राष्ट्रीय आपदा घोषित करने की मांग

वहीं दूसरी ओर, कांग्रेस और माकपा के प्रतिनिधिमंडल ने अम्फान तूफान को राष्ट्रीय आपदा घोषित करने की मांग केंद्रीय पर्यवेक्षकों से की है. साथ ही केंद्रीय फंड का इस्तेमाल राजनीतिक उद्देश्य के लिए नहीं करने की अपील की है. वहीं, भाजपा ने तूफान से प्रभावित लोगों को सीधे उनके एकाउंट में अनुदान भेजने की मांग करते हुए शिकायत और सूचना देने के लिए वेबसाइट व एप बनाने की मांग की है.

शनिवार को बंगाल प्रदेश कांग्रेस के अध्यक्ष सोमेन मित्रा और विधानसभा में विरोधी दल के नेता अब्दुल मन्नान के नेतृत्व में चार सदस्यीय प्रतिनिधिमंडल ने केंद्रीय पर्यवेक्षकों से मुलाकात की. प्रतिनिधिमंडल में अमिताभ चक्रवर्ती भी शामिल रहे. दूसरी ओर, माकपा विधायक दल के नेता सुजन चक्रवर्ती के नेतृत्व में माकपा प्रतिनिधिमंडल ने भी केंद्रीय मुलाकात के बाद श्री मित्रा ने कहा कि केंद्रीय फंड का इस्तेमाल राजनीतिक उद्देश्य के लिए नहीं हो. केंद्रीय टीम से यह देखने का आग्रह किया गया.

श्री मन्नान ने कहा कि उनलोगों ने पूरी परिस्थिति से केंद्रीय टीम को अवगत कराया है. दो दिन पहले उनके नेतृत्व में एक प्रतिनिधिमंडल चक्रवात प्रभावित इलाकों का दौरा किया था. प्रभावित लोगों को राहत नहीं मिल रही है. लोग परेशान हैं. मुख्यमंत्री जो तथ्य दे रहे हैं. वास्तव से उनका मेल नहीं है. राहत वितरण में भी राजनीति की जा रही है और वास्तव में जो क्षतिग्रस्त हैं, उन्हें मुआवजा नहीं मिल रहा है.

माकपा विधायक दल के नेता सुजन चक्रवर्ती ने कहा कि इसे राष्ट्रीय आपदा घोषित किया जाये. इससे अन्य गैर सरकारी संगठन भी मदद कर पायेंगे और प्रभावित लोगों को मदद मिलेगी.

Posted By : Samir ranjan.

Share Via :
Published Date
Comments (0)
metype

संबंधित खबरें

अन्य खबरें