1. home Hindi News
  2. state
  3. west bengal
  4. calcutta
  5. bengal urban development minister firhad hakim will become a volunteer in the clinical trial of corona vaccine may be vaccinated on wednesday smj

बंगाल के शहरी विकास मंत्री फिरहाद हकीम कोरोना वैक्सीन के क्लीनिकल ट्रायल में बनेंगे वॉलेंटियर, बुधवार को लग सकता है टीका

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
Bengal news : पश्चिम बंगाल के शहरी विकास मंत्री फिरहाद हकीम ने कोरोना वैक्सीन के क्लीनिकल ट्रायल में वॉलेंटियर बनने की जतायी इच्छा.
Bengal news : पश्चिम बंगाल के शहरी विकास मंत्री फिरहाद हकीम ने कोरोना वैक्सीन के क्लीनिकल ट्रायल में वॉलेंटियर बनने की जतायी इच्छा.
सोशल मीडिया.

Bengal news, Kolkata news : कोलकाता : पश्चिम बंगाल के शहरी विकास मंत्री (Urban Development Minister) एवं कोलकाता नगर निगम के प्रशासक (Kolkata Municipal Corporation Administrator) फिरहाद हकीम ने नेशनल इंस्टीच्यूट ऑफ कॉलेरा एंड एंटेरिक डिजीजेज (National Institute of Cholera and Enteric Diseases- NICED) कोलकाता में होनेवाले कोरोना वैक्सीन के तीसरे चरण के क्लीनिकल ट्रायल (Clinical trial) में वॉलेंटियर (Volunteer) के तौर पर शामिल होने का प्रस्ताव दिया था. नाइसेड ने उनके इस प्रस्ताव को मान लिया है. अब उन्हें बुधावर (2 दिसंबर, 2020) को कोरोना का टीका लगाया जा सकता है.

61 वर्षीय हकीम ने खुद इसकी जानकारी देते हुए कहा कि इस बाबत नाइसेड की निदेशक शांता दत्ता से प्राथमिक स्तर की मेरी बातचीत हुई है. मैंने उन्हें राज्य सरकार की तरफ से ट्रायल में हर तरह से मदद करने का आश्वासन दिया है. उन्होंने कहा कि क्लीनिकल ट्रायल संबंधी मापदंडों को पूरा करने के लिए उन्होंने अपनी सेहत से संबंधित हर प्रकार की जानकारी नाइसेड को दे दी है.

प्रो तारिक मंसूर और स्वास्थ्य मंत्री अनिल विज की इच्छा

बता दें कि फिरहाद हकीम से पहले अलीगढ़ मुस्लिम यूनिवर्सिटी के वाइस चांसलर प्रोफेसर तारिक मंसूर (Aligarh Muslim University Vice Chancellor Professor Tariq Mansoor) और हरियाणा के स्वास्थ्य मंत्री अनिल विज (Haryana Health Minister Anil Vij) भी यह इच्छा जाहिर कर चुके हैं. कोलकाता स्थित स्कूल ऑफ ट्रॉपिकल मेडिकल (School of Tropical Medical, kolkata- STM) के निदेशक भी बतौर वॉलेंटियर जुड़ने की इच्छा जाहिर कर चुके हैं.

क्लीनिकल ट्रायल में 28,500 वॉलेंटियर शामिल होंगे

मालूम हो कि भारत बायोटेक (Bharat Biotech) व आइसीएमआर (ICMR) द्वारा देशी तौर पर निर्मित कोविड-19 की वैक्सीन 'कोवैक्सीन' के तीसरे चरण के क्लीनिकल ट्रायल में देशभर से 28,500 वॉलेंटियर शामिल होंगे. उधर, नाइसेड में होने वाले क्लीनिकल ट्रायल में 1,000 वॉलेंटियर भाग लेंगे.

मंत्री फिरहाद हकीम के आवेदन को नाइसेड ने स्वीकार किया : प्राे डॉ शांता दत्ता

नाइसेड के निदेशक प्रो डॉ शांता दत्ता ने बताया कि ट्रायल में हिस्सा लेने के लिए फिरहाद हकीम ने नाइसेड में आवेदन किया था, जिसे नाइसेड ने स्वीकार किया है. अब उन्हें बुधवार (2 दिसंबर, 2020) शाम नाइसेड में बुलाया गया है. जहां चिकित्सक सभी तरह के जांच के बाद यह तय करेंगे कि उन्हें टीका लगाया जा सकता है या नहीं.

Posted By : Samir Ranjan.

Share Via :
Published Date
Comments (0)
metype

संबंधित खबरें

अन्य खबरें