1. home Hindi News
  2. state
  3. west bengal
  4. calcutta
  5. bengal chunav 2021 union home ministeramit shah to visit west bengal on 30 january will address matua community at thakurnagar mtj

Bengal Chunav 2021: फिर बंगाल दौरे पर अमित शाह, 30 जनवरी को मतुआ समुदाय के गढ़ में गरजेंगे

By Prabhat Khabar Digital Desk
Updated Date
Bengal Chunav 2021: फिर बंगाल दौरे पर अमित शाह, 30 जनवरी को मतुआ समुदाय के गढ़ में गरजेंगे.
Bengal Chunav 2021: फिर बंगाल दौरे पर अमित शाह, 30 जनवरी को मतुआ समुदाय के गढ़ में गरजेंगे.
File Photo

Bengal Chunav 2021, Amit Shah: कोलकाता : केंद्रीय गृह मंत्री (Union Home Minister) एवं भारतीय जनता पार्टी (BJP) के पूर्व राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह (Amit Shah) फिर पश्चिम बंगाल (West Bengal) के दौरे पर आ रहे हैं. 30 जनवरी, 2021 को वह उत्तर 24 परगना के ठाकुरनगर (Thakurnagar) में एक जनसभा को संबोधित करेंगे. इस जनसभा में भाजपा के सांसद शांतनु ठाकुर (Shantanu Thakur) भी मौजूद रहेंगे.

ठाकुरनगर को मतुआ संप्रदाय (Matua Community) के लोगों का गढ़ कहा जाता है. इस समाज के लोग पश्चिम बंगाल में कई विधानसभा (West Bengal Election 2021) क्षेत्रों में निर्णायक भूमिका निभाते हैं. संशोधित नागरिकता कानून की वजह से लोकसभा चुनाव में इस समाज ने भाजपा का समर्थन किया था.

सीएए के लागू नहीं होने की वजह से ही पिछले दिनों मतुआ संप्रदाय के बड़े नेता और भाजपा सांसद शांतनु ठाकुर पार्टी से नाराज हो गये थे. पश्चिम बंगाल विधानसभा चुनाव 2021 में भाजपा राज्य की सत्ता पर काबिज होना चाहती है. इसके लिए बंगाल भाजपा के साथ-साथ पार्टी के राष्ट्रीय नेताओं ने भी पूरा जोर लगा दिया है.

नवंबर और दिसंबर में केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह का दौरा हो चुका है. 12 जनवरी को तीन दिन की यात्रा पर उनका आने का कार्यक्रम था, लेकिन अब कहा जा रहा है कि वह 30 जनवरी को बंगाल आयेंगे. इसके पहले दिसंबर में ही भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा ने डायमंड हार्बर में जनसभा की थी.

भारतीय जनता पार्टी का दावा है कि इस बार विधानसभा चुनाव में 200 से अधिक सीटें जीतकर सत्ता पर काबिज होगी और ममता बनर्जी की तृणमूल कांग्रेस सरकार को बुरी तरह से पराजित कर देगी. अमित शाह ने मेदिनीपुर में कहा था कि चुनाव आते-आते ममता दीदी अकेली रह जायेंगी, तो बोलपुर में उन्होंने रोड शो करके शक्ति प्रदर्शन किया था.

बोलपुर में केंद्रीय गृह मंत्री ने कहा था कि बंगाल ने ममता दीदी की सरकार को बाहर का रास्ता दिखाने का निश्चय कर लिया है. उन्होंने राज्य में हो रही हिंसा की निंदा की थी. हालांकि, राज्य में राष्ट्रपति शासन लगाने से इनकार कर दिया था. श्री शाह ने कहा था कि वह चाहते हैं कि सरकार अपना कार्यकाल पूरा करे.

भाजपा के पूर्व राष्ट्रीय अध्यक्ष ने कहा था कि वह चाहते हैं कि राज्य की जनता जनमत के माध्यम से ममता बनर्जी एवं तृणमूल कांग्रेस को सत्ता से बेदखल करे. तृणमूल कांग्रेस के भितरी एवं बाहरी के मुद्दे पर भी अमित शाह ने दीदी की जमकर आलोचना की थी.

Posted By : Mithilesh Jha

Share Via :
Published Date
Comments (0)
metype

संबंधित खबरें

अन्य खबरें