1. home Hindi News
  2. state
  3. west bengal
  4. calcutta
  5. belur math closed for outsiders due to increasing cases of covid19 in west bengal

पश्चिम बंगाल में कोविड-19 के बढ़ते मामलों की वजह से बेलूर मठ में प्रवेश पर लगी रोक

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
23 जून को रथ यात्रा वाले दिन से सभी सुरक्षा प्रोटोकॉल के साथ मंदिर के द्वार खोले गये थे.
23 जून को रथ यात्रा वाले दिन से सभी सुरक्षा प्रोटोकॉल के साथ मंदिर के द्वार खोले गये थे.
Social Media

कोलकाता : रामकृष्ण मठ और मिशन के अंतरराष्ट्रीय मुख्यालय बेलूर मठ ने शनिवार को घोषणा की कि कोविड-19 महामारी का प्रकोप बढ़ने के कारण दो अगस्त से उसके परिसर में श्रद्धालुओं के प्रवेश पर रोक रहेगी. बेलूर रामकृष्ण मठ और रामकृष्ण मिशन के सचिव स्वामी सुवीरानंद ने शनिवार को एक वीडियो संदेश में कहा कि दो अगस्त से दूसरी बार आंगतुकों के मठ में प्रवेश पर रोक लगायी जा रही है.

हावड़ा जिले में हुगली नदी के किनारे स्थित मठ परिसर को 24 मार्च को लॉकडाउन लगने के साथ ही आंगतुकों के लिए पूरी तरह बंद कर दिया गया था. बाद में अधिकारियों ने 15 जून से कुछ नियमों और सुरक्षा प्रोटोकॉल के साथ मठ के दरवाजे पुन: खोल दिये थे. स्वामी सुवीरानंद ने कहा, ‘हम दो अगस्त से अगले नोटिस तक श्रद्धालुओं के लिए मठ और मंदिर को बंद कर रहे हैं.’

स्वामी विवेकानंद द्वारा स्थापित मठ के एक अधिकारी ने कहा कि पश्चिम बंगाल में कोविड-19 के मामलों में तेजी से इजाफा होने के बाद जिला प्रशासन से परामर्श करके यह निर्णय लिया गया. इस बीच देश की प्रमुख शक्तिपीठ तारापीठ काली मंदिर के अधिकारियों ने भी शनिवार से मंदिर परिसर में श्रद्धालुओं के प्रवेश पर रोक लगा दी. 23 जून को रथ यात्रा वाले दिन से सभी सुरक्षा प्रोटोकॉल के साथ मंदिर के द्वार खोले गये थे.

मंदिर पुन: खुलने के बाद बड़ी संख्या में श्रद्धालु आ रहे हैं और हमें मंदिर को दोबारा बंद करना पड़ा. एक समय में अधिक लोगों को प्रवेश की अनुमति नहीं होने, सैनिटाइजर टनल का उपयोग करने और अन्य सुरक्षा उपायों को अपनाने के बावजूद हम लोगों के स्वास्थ्य को लेकर चिंतित हैं.
सदस्य, मंदिर समिति

मंदिर समिति के एक सदस्य ने कहा, ‘मंदिर पुन: खुलने के बाद बड़ी संख्या में श्रद्धालु आ रहे हैं और हमें मंदिर को दोबारा बंद करना पड़ा. एक समय में अधिक लोगों को प्रवेश की अनुमति नहीं होने, सैनिटाइजर टनल का उपयोग करने और अन्य सुरक्षा उपायों को अपनाने के बावजूद हम लोगों के स्वास्थ्य को लेकर चिंतित हैं.’

ज्ञात हो कि पश्चिम बंगाल में कोरोना से संक्रमित लोगों की संख्या 70 हजार को पार कर गयी है. शुक्रवार की शाम को स्वास्थ्य विभाग ने जो बुलेटिन जारी किया, उसमें कहा गया कि पिछले 24 घंटे के दौरान कोविड-19 के एक दिन में सर्वाधिक 2,496 नये मामले आये. इसके साथ ही राज्य में संक्रमित पाये गये लोगों की कुल संख्या बढ़कर 70,188 हो गयी.

इसके अलावा 46 और लोगों की मौत होने के बाद राज्य में संक्रमण से मरने वालों की संख्या बढ़कर 1,581 हो गयी. स्वास्थ्य विभाग द्वारा जारी एक बुलेटिन के अनुसार, राज्य में फिलहाल 20,233 लोगों का उपचार चल रहा है. राज्य में संक्रमण से ठीक होने की दर 68.92 फीसदी है.

विभाग ने बताया कि संक्रमण के कारण कोलकाता में एक दिन में 21 लोगों की मौत हो गयी. इसके अलावा शुक्रवार को उत्तर 24 परगना में 13, दक्षिण 24 परगना में तीन, हावड़ा, हुगली एवं मुर्शिदाबाद में दो-दो तथा नदिया, मालदा और अलीपुरद्वार जिलों में एक-एक व्यक्ति की मौत हो गयी.

Posted By : Mithilesh Jha

Share Via :
Published Date
Comments (0)
metype

संबंधित खबरें

अन्य खबरें