1. home Hindi News
  2. state
  3. west bengal
  4. calcutta
  5. amit shah lashed out at mamata banerjee in bankura after having meal in the house of tribal said we can feel peoples anger against trinamool government of west bengal mtj

आदिवासी के घर भोजन कर बांकुरा में ममता सरकार पर बरसे अमित शाह, बोले, तृणमूल के खिलाफ लोगों के गुस्से को महसूस कर सकते हैं

By Prabhat Khabar Digital Desk
Updated Date
Amit Shah, West Bengal: आदिवासी के घर भोजन कर बांकुरा में ममता सरकार पर बरसे अमित शाह, बोले, तृणमूल के खिलाफ लोगों के गुस्से को महसूस कर सकते हैं.
Amit Shah, West Bengal: आदिवासी के घर भोजन कर बांकुरा में ममता सरकार पर बरसे अमित शाह, बोले, तृणमूल के खिलाफ लोगों के गुस्से को महसूस कर सकते हैं.
Twitter

Amit Shah, West Bengal: बांकुरा : केंद्रीय गृह मंत्री और भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के वरिष्ठ नेता अमित शाह गुरुवार (5 नवंबर, 2020) को बांकुरा में पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी और तृणमूल कांग्रेस की सरकार पर जमकर बरसे. श्री शाह ने कहा कि वह पश्चिम बंगाल की ममता बनर्जी सरकार के खिलाफ भारी रोष को महसूस कर रहे हैं. साथ ही उन्होंने कहा कि इस सरकार के पतन की शुरुआत हो चुकी है.

श्री शाह ने लोगों का आह्वान किया कि ‘सोनार बांग्ला’ के सपने को पूरा करने के लिए भाजपा को अगली सरकार बनाने का मौका दें. क्रांतिकारी बिरसा मुंडा की प्रतिमा पर माल्यार्पण करने के बाद अमित शाह ने पत्रकारों से कहा, ‘कल रात से मैं पश्चिम बंगाल में हूं और ममता बनर्जी के खिलाफ लोगों की भारी नाराजगी महसूस कर सकता हूं. हमें नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में राज्य में बदलाव लाने का पूरा भरोसा है.’

पश्चिम बंगाल के दो दिवसीय दौरे पर आये अमित शाह ने भाजपा सदस्यों की ‘हत्या’ को लेकर तृणमूल कांग्रेस सरकार की आलोचना की. उन्होंने कहा, ‘जिस तरह से भाजपा कार्यकर्ताओं पर हमले हो रहे हैं और उन पर अत्याचार हो रहा है, मैं महसूस कर सकता हूं कि ममता बनर्जी सरकार के पतन की शुरुआत हो चुकी है.’

अमित शाह ने कहा, ‘मुझे भरोसा है कि बंगाल में अगली सरकार हम दो तिहाई बहुमत से बनायेंगे.’ गृह मंत्री ने पश्चिम बंगाल सरकार पर हमला करते हुए कहा कि प्रधानमंत्री किसान और आयुष्मान भारत सहित केंद्र की करीब 80 योजनाओं का लाभ राज्य के गरीबों तक नहीं पहुंच रहा है.

उन्होंने दावा किया, ‘ममता बनर्जी सरकार केंद्र सरकार की योजनाओं का लाभ गरीबों तक पहुंचने नहीं दे रही. गरीबों, आदिवासियों और पिछड़े समुदायों के लिए बनायी गयी 80 से अधिक योजनाओं को राज्य में लागू नहीं करने दिया जा रहा.’

श्री शाह ने कहा, ‘ममता दीदी की गलत धारणा है कि केंद्रीय योजनाओं को लागू नहीं कर वह भाजपा को राज्य में रोक सकती हैं. मैं उनसे कहना चाहता हूं कि अगर इन योजनाओं की वह अनुमति दें, तो हो सकता है कि गरीब उन पर भी विचार करें.’

वर्ष 2021 में राज्य में होने वाले विधानसभा चुनाव के मद्देनजर पार्टी संगठन की तैयारियों का जायजा लेने के लिए अमित शाह बुधवार रात को कोलकाता पहुंचे. उन्होंने कहा कि पश्चिम बंगाल सीमावर्ती राज्य है और देश की सुरक्षा इससे जुड़ी हुई है. बांकुरा के एक दिवसीय दौरे पर आये श्री शाह के साथ भाजपा प्रदेश अध्यक्ष दिलीप घोष, पार्टी के राष्ट्रीय महासचिव कैलाश विजयवर्गीय, राष्ट्रीय उपाध्यक्ष मुकुल रॉय भी मौजूद थे.

उनका जिले में पार्टी की बैठक करने का कार्यक्रम है. वह विभिन्न समुदायों और सामाजिक समूहों के प्रतिनिधियों से भी मुलाकात करेंगे. उल्लेखनीय है कि बांकुरा आदिवासी और पिछड़े समुदाय की आबादी वाला जिला है और यह उन जिलों में शामिल है, जहां पर भाजपा ने वर्ष 2019 के लोकसभा चुनाव में अपनी गहरी पैठ बनायी.

Posted By : Mithilesh Jha

Share Via :
Published Date
Comments (0)
metype

संबंधित खबरें

अन्य खबरें