क्रमबद्ध आंदोलन चलाने का एलान

By Prabhat Khabar Digital Desk
Updated Date

कोलकाता. पूर्व मेदिनीपुर अंतर्गत कांथी के सुनिया स्थित घोड़ाघाटा गांव में माकपा नेता की पत्नी की दुष्कर्म के बाद हत्या का आरोप लगाते हुए माकपा ने मंगलवार को राज्यभर में धिक्कार दिवस मनाया. इसके तहत पूर्व मेदिनीपुर, पश्चिम मेदिनीपुर, कोलकाता समेत राज्य के तमाम जिलों में रैलियां निकाली गयीं और प्रदर्शन किया गया.

माकपा नेता रॉबिन देव ने आरोप लगाया है कि कांथी में माकपा नेता बंकेश गिरि की पत्नी दिपाली गिरि (45) की दुष्कर्म के बाद हत्या की गयी है. यह घटना काफी निंदनीय है. उन्होंने पुलिस प्रशासन की भूमिका पर भी सवाल खड़े किये हैं. इस घटना के विरोध में माकपा ने क्रमबद्ध आंदोलन का एलान किया है, जो 22 अगस्त तक चलेगा. इस मामले की सटीक जांच की मांग को लेकर राज्यपाल समेत अन्य प्रशासनिक अधिकारियों को पार्टी की ओर से ज्ञापन दिया जायेगा. माकपा नेता ने आरोप लगाया है कि राज्य में तृणमूल कांग्रेस की सरकार बनने के बाद से ही राज्यभर में वाम मोरचा कार्यकर्ताओं पर हमले हो रहे हैं. मृतका के पति बंकेश गिरि और बेटा गांव छोड़ने को मजबूर हुए. दीपाली घर में अकेली रहती थी. दीपाली को निर्वस्त्र कर पीटा गया. पति व बेटा के नहीं लौटने पर उसे 12 लाख रुपये देने की धमकी दी गयी. माकपा नेता ने आरोप लगाया कि इतनी बड़ी घटना के बावजूद पुलिस व प्रशासन की ओर से ठोस कदम नहीं उठाया गया. आखिरकार घर पर संदिग्ध अवस्था में उसकी लाश मिली. इस मामले को लेकर पुलिस और स्थानीय तृणमूल नेता भ्रमित करने की कोशिश कर रहे हैं. मूल दोषियों को बचाने का प्रयास किया जा रहा है. मृतका के परिजनों ने जिन आरोपियों के नाम लिये हैं, उनके खिलाफ कार्रवाई नहीं हो रही है.

इस घटना को लेकर मृतका के घर अखिल भारतीय जनवादी महिला समिति (ऑल इंडिया डेमोक्रेटिक वूमन्स कमेटी) के एक प्रतिनिधिमंडल ने दौरा किया. साथ ही महानगर के कॉलेज स्क्वायर में शाम करीब चार पर कमेटी की ओर से पथावरोध व विरोध प्रदर्शन भी किये गये. कमेटी की नेता मिनती घोष ने मांग की है कि इस कांड के दोषियों को कड़ी सजा मिले. उन्होंने राज्य में महिलाओं के खिलाफ बढ़े आपराधिक मामलों पर चिंता जतायी.

    Share Via :
    Published Date
    Comments (0)
    metype

    संबंधित खबरें

    अन्य खबरें