मालदा में पुल ढहने के लिए भाजपा-टीएमसी ने एक-दूसरे को बताया जिम्मेदार

By Prabhat Khabar Digital Desk
Updated Date

मालदा : पश्चिम बंगाल के मालदा जिले में निर्माणाधीन पुल का एक हिस्सा ढहने की घटना को लेकर सोमवार को सत्तारूढ़ तृणमूल कांग्रेस और भाजपा के बीच तीखी नोकझोंक हुई. रविवार को हुई इस घटना में तीन लोगों की मौत हो गयी थी, जबकि सात अन्य घायल हुए थे. पुलिस के एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया कि मृतकों में एक कनिष्ठ अभियंता और दो श्रमिक शामिल हैं, जिनके शव बरामद कर लिये गये है.

तृणमूल कांग्रेस की मालदा जिला इकाई के वरिष्ठ नेता और राज्य के पूर्व मंत्री कृष्णेंदु नारायण चौधरी ने यह पता लगाने के लिए जांच की मांग की कि ‘‘इसमें कट मनी की कोई भूमिका या परियोजना के लिए केन्द्र द्वारा नियुक्त एजेंसी के स्थानीय प्रतिनिधियों की भाजपा के करीबी स्थानीय गुंडों के साथ कोई साठगांठ तो नहीं थी.''

कट मनी एक परियोजना के लिए स्थानीय बाहुबलियों या राजनीतिज्ञों द्वारा मांगी गई रिश्वत या कमीशन को संदर्भित करती है. भाजपा की राज्य इकाई के अध्यक्ष और सांसद दिलीप घोष ने पलटवार करते हुए कहा, ‘‘जो लोग कट मनी खुद लेते हैं, उनके पास ऐसी ही सोच होती है.'' उन्होंने कहा कि पुल ढहने के कारण का पता लगाने की जरूरत है, क्या योजना, संरचनात्मक डिजाइन में कोई त्रुटि थी या यह घटना लापरवाही के कारण हुई है.'

Share Via :
Published Date
Comments (0)
metype

संबंधित खबरें

अन्य खबरें