आंदोलन के लिए कांग्रेस व वाममोर्चा की जरूरत नहीं: ममता

By Prabhat Khabar Digital Desk
Updated Date

कोलकाता : मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने साफ कहा कि प्रदेश में तृणमूल कांग्रेस मजबूत स्थिति में हैं और वह सीएए व एनआरसी के खिलाफ अकेले ही आंदोलन करने में सक्षम है. प्रदेश के इन नेताओं की स्थिति देखकर ही उन्होने दिल्ली में होने वाली बैठक में हिस्सा नहीं लेने का फैसला लिया है. भाजपा के अध्यक्ष दिलीप घोष द्वारा लोगों को गोली मारने संबंधी बयान पर ममता बनर्जी ने नाम लिये बगैर दिलीप घोष पर निशाना साधा. धर्मतला में टीएमसीपी के धरना मंच से उन्होंने कहा कि नाम लेने में शर्म आ रही है.

आप बोल रहे हैं गोली चलाने के लिए, यही तो आप लोग चाह रहे हैं. कुछ होने पर आप लोगों को तो जिम्मेवारी नहीं लेनी होगी. कुछ होगा तो जिम्मेवारी तो हम लोगों को लेनी पड़ेगी. ममता ने कांग्रेस और वाममोर्चा पर भी निशाना साधा और कहा कि भाजपा के साथ इनका कोई फर्क नहीं है. प्रदेश में तृणमूल कांग्रेस ताकतवर है. इसलिए सीएए-एनआरसी का विरोध तृणमूल करेगी.

उन्होंने पहले ही बता दिया था कि वह दिल्ली में विरोधी दलों की बैठक में हिस्सा नहीं लेंगी. उन्होंने सभी लोगों को मोदी का विरोध करने के लिए सड़कों पर उतरने का संदेश दिया.
Share Via :
Published Date
Comments (0)
metype

संबंधित खबरें

अन्य खबरें