संसद के शीतकालीन सत्र में पेश होगा नागरिकता संशोधन विधेयक, शरणार्थियों को मिलेगा लाभ : विजयवर्गीय

By Prabhat Khabar Digital Desk
Updated Date

।। अजय विद्यार्थी ।।

कोलकाता : भाजपा के महासचिव व प्रदेश भाजपा के केंद्रीय प्रभारी कैलाश विजयवर्गीय ने कहा कि सोमवार से शुरू हो रहे संसद के शीतकालीन सत्र के दौरान बहुप्रतीक्षित नागरिकता संशोधन विधेयक पेश किया जायेगा.इस विधेयक के माध्यम से विदेशों व देश में रह रहे शरणार्थियों को नागरिकता दी जायेगी. विजयवर्गीय ने प्रभात खबर से बातचीत करते हुए ये बातें कहीं.

उल्लेखनीय है कि भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह ने कोलकाता दौरे के दौरान साफ कर दिया था कि भाजपा नागरिकता संशोधन विधेयक लायेगी और शरणार्थियों को नागरिकता देगी.

इस संशोधन विधेयक में घुसैपैठियों के पहचान का भी प्रावधान होगा. विजयवर्गीय ने रविवार को जैन संत ‘नेपाल केसरी’ डॉ मणिभद्र मुनि महाराज ने उनके आवास पर उनसे मुलाकात की. डॉ विजयवर्जीय ने हाल में डॉ मणिभद्र मुनि महाराज के कार्यक्रम में शिरकत की थी. चूंकि डॉ मणिभद्र मुनि महाराज दो दिनों के बाद कोलकाता से प्रस्थान करने वाले हैं. इसलिए औपचारिक मुलाकात के लिए उन्होंने विजयवर्गीय से मुलाकात की.

विजयवर्गीय ने कहा कि नागरिकता संशोधन विधेयक के तहत पाकिस्तान, अफगानिस्तान और बांग्लादेश के शरणार्थी सिख, इसाई और येहुदियों नागरिकता देने का प्रावधान है. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने देश की जनता से वादा किया था. वह उस वादे को पूरा कर रहे हैं.यह पश्चिम बंगाल में शरणार्थियों के लिए बहुत ही बड़ी बात है.

पहले 34 वर्षों के वाममोर्चा के शासन और अब तृणमूल कांग्रेस के साढ़े सात वर्ष के शासनकाल में बंगाल में रह रहे शरणार्थियों को नागरिकता नहीं मिली है. उनके नाम पर इन पार्टियों ने केवल राजनीति की है, लेकिन भाजपा उन्हें उनका अधिकार देगी और नागरिकता देकर सम्मान देगी.

    Share Via :
    Published Date
    Comments (0)
    metype

    संबंधित खबरें

    अन्य खबरें