ममता ने कहा देश में सुपर इमरजेंसी जैसे हालात, संविधान द्वारा दिये गये अधिकारों और स्वतंत्रता की रक्षा करने की अपील

By Prabhat Khabar Digital Desk
Updated Date

कोलकाता : मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने कहा कि देश ‘घोर आपातकाल' से गुजर रहा है. उन्होंने लोगों से संविधान द्वारा दिये गये अधिकारों और स्वतंत्रता की रक्षा करने की अपील की है. उन्होंने रविवार को अंतरराष्ट्रीय लोकतंत्र दिवस पर लोगों से अपील की कि वह उन संवैधानिक मूल्यों की रक्षा करें, जिस पर स्वतंत्र भारत की नींव रखी गयी थी. उन्होंने ट्वीट किया : अंतरराष्ट्रीय लोकतंत्र दिवस पर एक बार और हम अपने उन संवैधानिक मूल्यों की रक्षा करने का संकल्प लें, जिस पर देश की नींव रखी गयी थी.

उन्होंने कहा : घोर आपातकाल के दौर में हमें वह सभी चीजें करनी चाहिए, जिससे हम संविधान द्वारा दिये गये अधिकारों और स्वतंत्रता की रक्षा कर सकते हैं. तृणमूल कांग्रेस की प्रमुख कई बार कह चुकी हैं कि देश केंद्र में भाजपा नीत राजग सरकार के शासन में ‘घोर आपातकाल' से गुजर रहा है. उधर, भाजपा ने कड़ा पलटवार किया है. पार्टी प्रवक्ता नलिन कोहली ने कहा वास्तव में सुपर इमरजेंसी तृणमूल चीफ ममता के बंगाल में है, जहां जय श्रीराम का नारा लगाने पर ही जेल में डाल दिया जाता है.
बंगाल में क्या कर रहीं ममता, वह सोचें : भाजपा
भाजपा प्रवक्ता नलिन कोहली ने कहा कि ममता बनर्जी को आत्म निरीक्षण करना चाहिए. सुपर इमरजेंसी वह चीज है, जो उन्होंने लागू की है. अगर कोई व्यक्ति बंगाल में जय श्रीराम का नारा लगाता है, तो उसे जेल में डाल दिया जाता है. उन्हें यह देखना चाहिए कि उन्होंने बंगाल में क्या कर रखा है. लोग वहां शांति और खुशहाली चाहते हैं.
तो चिदंबरम जैसा हश्र होगा ममता बनर्जी का : भाजपा विधायक
बलिया (उप्र). अपने बयानों के लिये अक्सर चर्चा में रहने वाले भाजपा विधायक सुरेंद्र सिंह ने पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी पर विदेशी ताकतों के बल पर राजनीति करने का आरोप लगाते हुए कहा है कि वह अपनी भाषा और भाव बदल दें , वरना उनका हश्र भी कांग्रेस नेता पी चिदंबरम जैसा ही होगा. बलिया जिले के बैरिया के भाजपा विधायक सिंह ने शनिवार को संवाददाताओं से बातचीत में ममता बनर्जी पर जमकर प्रहार किये.
उन्होंने पश्चिम बंगाल में राष्ट्रीय नागरिक पंजी (एनआरसी) के जरिये नागरिकता की पुष्टि कराने के सिलसिले में ममता के बयान पर कहा कि ममता विदेशी ताकतों के बल पर राजनीति करती हैं. उन्होंने कहा कि ममता भूल जाती हैं कि अब उनके बुरे दिन आने वाले हैं. वह अपने भाव और भाषा बदल दें, वरना उनका हश्र भी कांग्रेस नेता पी चिदंबरम जैसा ही होगा.
कहा कि ममता को बांग्‍लादेशी घुसपैठियों के बल पर ही राजनीति करनी है तो उन्हें बांग्‍लादेश का प्रधानमंत्री बनना चाहिए. उन्होंने कहा कि बंगाल में भगवान राम तथा हनुमान के रूप में अमित शाह और योगी आदित्यनाथ का प्रवेश हो गया है. अगले विधानसभा चुनाव में वहां सत्ता परिवर्तन निश्चित है.
Share Via :
Published Date
Comments (0)
metype

संबंधित खबरें

अन्य खबरें