सहायक प्रोफेसर पद के लिए पीजी में 55 प्रतिशत अंक अनिवार्य

By Prabhat Khabar Digital Desk
Updated Date

कोलकाता :राज्य के कई कॉलेजों में प्रोफेसर व सहायक प्रोफेसर के काफी पद रिक्त हैं. इन पदों पर नाैकरी पाने के लिए आवेदक का सेट (स्टेट एलिजिबिलिटी टेस्ट) व नेट (नेशनल एलिजिबिलिटी टेस्ट) पास करना अनिवार्य है. इस पद पर नाैकरी पाने के लिए योग्य उम्मीदवार कॉलेज सर्विस कमिशन (सीएससी) में आवेदन कर सकते हैं.

पश्चिम बंगाल कॉलेज सर्विस कमिशन के अध्यक्ष दीपक कर ने जानकारी दी कि असिस्टेंट प्रोफेसर की नाैकरी के लिए सेट व नेट क्वालीफाई करना अनिवार्य है. पहले बंगाल के आवेदकों के लिए सेट अनिवार्य था. अब दोनों ही अनिवार्य कर दिया गया है.
इसके अलावा कॉलेज में असिस्टेंट प्रोफेसर बनने के इच्छुक उम्मीदवार के पीजी स्तर पर परीक्षा में 55 प्रतिशत अंक होना अनिवार्य है. यूजीसी द्वारा जारी योग्यता क्राइटेरिया के अनुसार ही नियुक्ति की जायेगी. इसमें पोस्ट ग्रेजुएट की परीक्षा के साथ माध्यमिक व उच्च माध्यमिक के अंकों को ज्यादा महत्व दिया जाता है.
इसमें कम अंक होने पर आवेदक को साक्षात्कार के लिए नहीं बुलाया जायेगा. अंकों के अलावा चयन करते समय कमिशन द्वारा प्रत्येक उम्मीदवार के जरनल्स में प्रकाशित किये गये रिसर्च पेपर व सेमिनार में सहभागिता का स्कोर भी देखा जायेगा. राज्य के सरकारी अनुदान प्राप्त कॉलेजों में वर्तमान में प्रोफेसरों के कई पद खाली पड़े हैं लेकिन आवेदन इससे कहीं अधिक प्राप्त हुए हैं. इसमें योग्य उम्मीदवारों का चयन मेरिट के आधार पर किया जायेगा. इसमें बीए, बीएड, एमए बीएड व एमफिल आवेदक भी आवेदन कर सकते हैं. फाइनल चयन लिखित परीक्षा व इन्टरव्यू के बाद किया जायेगा.
Share Via :
Published Date
Comments (0)
metype

संबंधित खबरें

अन्य खबरें