दंगा करनेवाले को नहीं छोड़ा जायेगा : मुख्यमंत्री

By Prabhat Khabar Digital Desk
Updated Date
कोलकाता. मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने चेतावनी दी है कि दंगा करनेवालों को किसी भी हाल में नहीं छोड़ा जायेगा. भाजपा का नाम लिये बगैर उस पर निशाना साधते हुए मुख्यमंत्री ने कहा कि आज सभी लोग सोशल मीडिया का इस्तेमाल कर रहे हैं. इससे हमें काफी कुछ सीखने को मिलता है. पर केंद्र की शासक दल अपने एजेंड के तहत सोशल मीडिया का इस्तेमाल कर रहा है. कहीं गौरक्षा के नाम पर लोगों को पीटा जा रहा है, तो कहीं नफरत फैलानेवाले ग्रुप तैयार कर दंगा करवाने की कोशिश की जा रही है.

उत्तर 24 परगना के बशीरहाट के बादुड़िया में दो गुटों के बीच हुए तनाव एवं हिंसक घटनाआें का उल्लेख करते हुए मुख्यमंत्री ने कहा कि सोशल मीडिया पर एक आपत्तिजनक पोस्ट करने के आरोप में पुलिस ने एक युवक को गिरफ्तार किया. एक पुरानी तसवीर दी गयी, जिसका हकीकत से कोई लेना-देना नहीं था. पुलिस ने आरोप मिलने के फौरन बाद कार्रवाई की. पर, इसे सांप्रदायिक रंग दे दिया गया. स्थिति को नियंत्रण में करने के लिए हम लोग रात भर नहीं सोये. कितनों का फेसबुक व टवी्टर अकाउंट रोकेंगे. लाखों लोग इसका इस्तेमाल कर रहे हैं.

अगर फेसबुक के एक पोस्ट से दंगा हो जाये, तो इससे दुखद दिन आैर नहीं देखने काे मिलेगा. मैं इसकी निंदा करती हूं. लड़के को गिरफ्तार करने के बावजूद जिस गुट ने पथावरोध व प्रदर्शन किया है, मेरा मानना है कि वह राज्य के पक्ष में नहीं है. दोनों पक्ष से मेरा आवेदन है कि दंगे की राजनीति न करें. भाजपा अगर भड़का रही है, तो आप उसमें न फंसें. भाजपा का तो काम ही भड़काना है. पर, अगर इससे किसी का घर जलेगा, तो मैं किसी को नहीं छोड़ूंगी. मेरे लिए सभी समान हैं. मैं किसी एक समुदाय के पक्ष में नहीं हूं. मैं सभी के साथ हूं. भाजपा की तरह एक से दूसरे को नहीं लड़ाती हूं. हिंदू-मुसलमान किसी को भी तकलीफ पहुंचेगी, तो मुझे तकलीफ होगी. कुछ नेता पुलिस की गाड़ी में आग लगा रहे हैं आैर थाने का घेराव कर रहे हैं. दोनों पक्ष के कुछ धार्मिक नेता पैसा लेकर काम कर रहे हैं. वे पैसे लेकर आग लगा रहे हैं. उन्हें कह देना चाहती हूं कि आग से न खेलें. जिस गाड़ी में उन्होंने आग लगायी है, उसके पैसे उन्हें भी भरने होंगे. आग लगानेवालों की सूची मेरे पास है. किसी भी दंगा करनेवाले को नहीं छोड़ा जायेगा.
जिला स्तर पर हो सर्वदलीय बैठक : सूर्यकांत
राज्य के विभिन्न क्षेत्रों में शांति और सद्भावना को प्रभावित करनेे में सांप्रदायिक शक्तियां जुटी हैं. यह काफी चिंता का विषय है. सबसे पहले शांति और सद्भावना का माहौल स्थापित करने की जरूरत है. मौजूदा समय राज्यपाल और मुख्यमंत्री के बीच संबंधों की आलोचना का नहीं है. धर्म के नाम पर विभेद की राजनीति जारी है. यह आरोप माकपा के राज्य सचिव डॉ सूर्यकांत मिश्रा ने लगाया है. मिश्रा ने कहा है कि माकपा की ओर से मांग की जा रही है कि मौजूदा विषम स्थिति से निबटने के लिए राज्य सरकार की ओर से जिला स्तर पर सर्वदलीय बैठक का आयोजन किया जाये. शांति व सद्भावना का माहौल स्थापित करने के लिए जरूरत पड़े तो सेना की तैनाती भी हो. राज्यवासियों को भी सांप्रदायिक शक्तियों के झांसे में आने से बचना चाहिए. सांप्रदायिक शक्तियों के खिलाफ वामपंथी, धर्मनिरपेक्ष और लोकतांत्रिक शक्तियों के एकजुट होने का माकपा ने आह्वान किया है.
शांति व सौहार्द्र कायम करे सरकार : विमान
राज्य के कई इलाकों में सांप्रदायिक शक्तियों की ओर से शांति व सौहार्द्र को बिगाड़ने की कोशिश शुरू हुई है. यह गंभीर विषय है. राज्य सरकार और प्रशासन को जल्द से जल्द उन इलाकों में शांतिपूर्ण और सौहार्द्र के वातावरण के लिए उचित कदम उठाने चाहिए. ये बातें राज्य में वाम मोरचा के चेयरमैन विमान बसु ने कही हैं. मुख्यमंत्री ममता बनर्जी और राज्यपाल केशरी नाथ त्रिपाठी के बीच कथित मतभेद पर अप्रत्यक्ष रूप से उन्होंने कहा कि मौजूदा समय में राज्य के संवैधानिक प्रधान और प्रशासनिक प्रधान को मतभेदवाले मनोभाव का त्याग करना उचित है. मौजूदा समय में सांप्रदायिक शक्तियों के खिलाफ लड़ाई जरूरी है. जिन इलाकों में सांप्रदायिक उत्तेजना का माहौल है, वहां जिलास्तर पर प्रशासनिक व सर्वदलीय बैठक करने की आवश्यकता है. जरूरत पड़ने पर सेना की तैनाती भी की जाये. वाम मोरचा की ओर से राज्यवासियों से अपील की गयी है कि सांप्रदायिक शक्तियों के आपसी विभेद की नीति के खिलाफ वे एकजुट हों.
तैनात हो सेना : अधीर
प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष अधीर चौधरी ने उत्तर 24 परगना में दो गुटों के बीच हुई झड़प के बाद व्याप्त तनाव पर चिंता व्यक्त की है. उन्होंने कहा कि उत्तर 24 परगना के बड़े हिस्से में यह तनाव फैल गया है. जितनी जल्दी हो सके, सेना को तौनात करना चाहिए, ताकि जनजीवन सामान्य हो सके.
Share Via :
Published Date
Comments (0)
metype

संबंधित खबरें

अन्य खबरें