कांग्रेस पार्षद को मिला बीपीएल कार्ड

By Prabhat Khabar Digital Desk
Updated Date
कोलकाता: कोलकाता नगर निगम के कांग्रेस पार्षद प्रकाश उपाध्याय को बीपीएल कार्ड तालिका में शामिल किया गया है. सरकारी नियमानुसार बीपीएल तालिका के अंतर्गत आनेवाले लोगों को दो रुपये प्रति किलो की दर से चावल व गेहूं मुहैया कराया जाता है. तो क्या अब निगम के इस प्रार्षद को भी दो रुपये की दर से अनाज मिलेगा? श्री उपाध्याय व उनकी पत्नी ममता उपाध्याय को बीपीएल तालिका में शामिल किया गया है.

निगम के द्वारा उन्हें डिजिटल राशन कार्ड (येलो) भी दिया गया है. इधर इस घटना को लेकर श्री उपाध्याय आग बबूला हैं. श्री उपाध्याय इस पूरी घटना को निगम के मासिक अधिवेशन में सदन के सामने रखनेवाले हैं. बता दें कि प्रकाश उपाध्याय 29 नंबर वार्ड के काउंसिलर है. उनके वार्ड में कई लोगों के साथ इस तरह की घटना घटी है.
क्या है मामला
प्राप्त जानकारी के अनुसार गत आम चुनाव के पहले से डिजिटल कार्ड तैयार करने की प्रक्रिया चल रही है. अपर पॉवर्टी लाइन (गरीबी रेखा से ऊपर) तथा गरीबी रेखा से नीचे रहनेवाले दोनों को डिजिटल कार्ड दिया जा रहा है. कार्ड को तैयार करने के दौरान आवेदनकर्ता को यह जानकारी देनी पड़ती है कि वह एपीएल है या बीपीएल. जानकारी के अनुसार बीपीएल तालिका के अंतर्गत आनेवाले लोगों को खाद्य साथी योजना के अंतर्गत पीला कार्ड दिया जाता है. ऐसे लोगों को दो रुपये प्रति किलो चावल व गेहूं दिया जाता है. श्री उपाध्याय को करीब 10 दिन पहले यह कार्ड सौंपा गया है. पार्षद श्री उपाध्याय 12 जुलाई को होने वाले निगम के मासिक अधिवेशन में मेयर शोभन चटर्जी को इस घटना से अवगत करायेंगे.
खाद्य भवन व नगर निगम से हुई गलती
गौरतलब है कि डिजिटल राशन कार्ड को तैयार करने का जिम्मा राज्य के खाद्द विभाग पर है. वहीं कोलकाता नगर निगम एक नोडल एजेंसी की भूमिका निभा रहा है. कार्ड को तैयार करने लिए आवेदन ग्रहण करने तथा वितरण का जिम्मा निगम पर है यानी यह गलती निगम और खाद्य विभाग दोनो की है.
डिजिटल राशन कार्ड को तैयार करने में विपक्षी पार्षदों की मदद नहीं ली जा रही है. तृणमूल कांग्रेस के कार्यकर्ता विरोधी पार्षदों की भूमिका निभा रहे हैं, इसलिए इस तरह की गलतियां देखी जा रही हैं. 29 नंबर वार्ड में कई लोगों के साथ भी यह घटना घटी है. बीपीएल तालिका के अंतर्गत आनेवाले लोगों को एपीएल तथा एपीएल को बीपीएल तालिका में शामिल कर दिया गया है.
प्रकाश उपाध्याय, कांग्रेस पार्षद, वार्ड-29
इसकी पूरी जानकारी मेरे पास नहीं है. वहीं पार्षद की ओर से भी अब तक निगम से शिकायत नहीं की गयी है.
इंद्राणी साहा बनर्जी, मेयर परिषद सदस्य
    Share Via :
    Published Date
    Comments (0)
    metype

    संबंधित खबरें

    अन्य खबरें