1. home Hindi News
  2. state
  3. west bengal
  4. calcutta high court denies cbi probe in fake vaccination case in kolkata west bengal latest news mtj

कोलकाता में फर्जी वैक्सीन कांड की सीबीआई जांच से कलकत्ता हाइकोर्ट का इनकार

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
देबांजन मामले की सीबीआई जांच का आदेश देने से कलकत्ता हाइकोर्ट का इनकार
देबांजन मामले की सीबीआई जांच का आदेश देने से कलकत्ता हाइकोर्ट का इनकार
File Photo

कोलकाताः फर्जी वैक्सीन कांड में फिलहाल सीबीआई जांच की जरूरत नहीं है. कलकत्ता हाइकोर्ट ने राज्य की प्राथमिक जांच पर संतोष जाहिर करते हुए यह टिप्पणी की. जस्टिस आइपी मुखर्जी एवं जस्टिस अनिरुद्ध राय की खंडपीठ ने राज्य को कानूनी प्रक्रिया का पालन करते हुए जांच को जल्द से जल्द पूरा करने का निर्देश दिया है.

फर्जी आईएएस अधिकारी और खुद को कोलकाता नगर निगम का ज्वाइंट कमिश्नर बताने वाले देबांजन देव के फर्जी वैक्सीनेशन कांड का मामला सामने आने के बाद कलकत्ता हाइकोर्ट में चार जनहित याचिकाएं दाखिल की गयीं. इनमें पूरे मामले की सीबीआई जांच की मांग की गयी थी.

हाइकोर्ट की खंडपीठ ने शुक्रवार को कहा कि फिलहाल सीबीआई जांच की जरूरत नहीं है. भविष्य में जरूरत होने पर सीबीआई जांच की याचिका पर गौर किया जा सकता है. प्राथमिक तौर पर अदालत को नहीं लगता कि पुलिस की जांच में कोई खामी है. इसलिए राज्य सरकार की जांच में अदालत हस्तक्षेप नहीं करना चाहती.

अदालत ने अपनी टिप्पणी में कहा कि ऐसे अपराध विरल हैं. यह बेहद आश्चर्य की बात है कि देबांजन देव ने किस तरह से ऐसा कांड किया. हाइकोर्ट का यह भी कहना था कि इससे आम लोगों को नुकसान हुआ है. अदालत में राज्य के एडवोकेट जनरल किशोर दत्त ने कहा कि राज्यपाल के साथ देबांजन के बॉडीगार्ड की तस्वीर है, तो क्या इसका यह मतलब है कि राज्यपाल को कठघरे में खड़ा करना होगा?

उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के साथ टीकाकरण के एक शिविर में एक महिला की तस्वीर देखी गयी थी. महिला का कहना था कि उन्होंने प्रधानमंत्री के साथ कभी मुलाकात नहीं की. प्रधानमंत्री को क्या कठघरे में खड़ा करना होगा? सुनवाई के दौरान कुछ इस तरह के तर्क ही एडवोकेट जनरल किशोर दत्त ने सामने रखे.

30 जून तक 4 लोगों को पुलिस ने किया गिरफ्तार

उन्होंने अदालत में कहा कि जल्द ही फर्जी वैक्सीन मामले में चार्जशीट पेश की जायेगी. कुछ रिपोर्ट का इंतजार है. उनके मिलते ही चार्जशीट दाखिल की जायेगी. उन्होंने यह भी बताया कि 30 जून तक इस मामले में चार लोगों को गिरफ्तार किया गया है. मामले में 50 लोगों के बयान लिये गये हैं. दो लोगों के गुप्त बयान रिकॉर्ड किये गये हैं.

Posted By: Mithilesh Jha

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें