1. home Hindi News
  2. state
  3. west bengal
  4. bjp two mlas jagannath sarkar and nisith pramanik to resign from west bengal assembly after central committee direction abk

बंगाल विधानसभा से दो BJP के नवनिर्वाचित MLA का इस्तीफा, केंद्रीय नेतृत्व ने इस कारण लिया बड़ा फैसला

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
बंगाल विधानसभा से दो BJP के नवनिर्वाचित MLA का इस्तीफा
बंगाल विधानसभा से दो BJP के नवनिर्वाचित MLA का इस्तीफा
प्रभात खबर

पश्चिम बंगाल विधानसभा चुनाव के रिजल्ट में बीजेपी ने 77 सीटें जीती. अब, उसकी कुल सीटों की संख्या घटकर 75 हो गई है. दरअसल, सभी नवनिर्वाचित विधायकों को शपथ दिलाई जा चुकी है. इसी बीच ऐसी खबरें आई हैं कि बीजेपी के दो नवनिर्वाचित विधायक विधानसभा से त्यागपत्र दे दिया है. शांतिपुर के जगन्नाथ सरकार और दिनहाटा सीट के बीजेपी विधायक निसिथ प्रमाणिक के विधायक पद छोड़ने की खबर आई है. दोनों नवनिर्वाचित विधायकों ने बुधवार को विधानसभा अध्यक्ष बिमान बनर्जी को इस्तीफा सौंप दिया है. दोनों को सांसद के रूप में काम करने का निर्देश मिला है. जिसके बाद दोनों विधायकों ने अपना पद छोड़ने का फैसला लिया है.

पश्चिम बंगाल विधानसभा में पांच सीटें होंगी खाली

जगन्नाथ सरकार और निसिथ प्रमाणिक की बात करें तो दोनों ने साल 2019 के लोकसभा चुनाव में जीत दर्ज की थी. जगन्नाथ सरकार ने राणाघाट और निसिथ प्रमाणिक ने कूच बिहार की लोकसभा सीट से जीत हासिल की थी. बीजेपी के इन दोनों विधायकों के इस्तीफे के बाद पश्चिम बंगाल विधानसभा में कुल पांच सीटें खाली हो गई हैं. जबकि, जंगीपुर और शमशेरगंज सीट पर एक-एक प्रत्याशियों की कोरोना से मौत के बाद चुनाव स्थगित कर दिया गया था. अब, इन सीटों पर 16 मई को वोटिंग होगी. वहीं, उत्तर 24 परगना के खारदा से चुनाव जीते टीएमसी के काजल सिन्हा की कोरोना संक्रमण से मौत हो गई थी. इस कारण सदन में पांच सीटें खाली हो जाएगी.

आठ चरणों में वोटिंग के बाद 2 मई को रिजल्ट

बंगाल विधानसभा चुनाव की बात करें तो इस बार आठ चरणों में वोटिंग हुई थी. आठ चरणों की वोटिंग के दौरान हिंसा की कई घटनाएं सामने आई. चौथे फेज की वोटिंग के दौरान शीतलकुची में सीआईएसएफ की फायरिंग में चार लोगों की मौत हो गई थी. इस पर आज भी हंगामा हो रहा है. पश्चिम बंगाल विधानसभा चुनाव के नतीजे दो मई को निकले थे. इसमें टीएमसी को 213 और बीजेपी को 77 सीटें मिली थी. एक-एक सीट निर्दलीय और राष्ट्रीय सेक्युलर मजलिस पार्टी के खाते में गई थी. बड़ी बात यह है कि लेफ्ट और कांग्रेस का चुनावी रिजल्ट में सफाया हो गया था.

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें