1. home Hindi News
  2. state
  3. west bengal
  4. birbhum violence case deputy speaker wrote a letter to keep anarul hussain as block president vwt

बीरभूम हिंसा : अनारुल हुसैन को ब्लॉक अध्यक्ष बनाए रखने के लिए डिप्टी स्पीकर ने लिखी चिट्ठी, मची है खलबली

ममता बनर्जी के निर्देश के बाद गिरफ्तार अनारुल हुसैन से जुड़ा यह मामला प्रकाश में आने के बाद बीरभूम में टीएमसी के जिलाध्यक्ष अनुव्रत मंडल ने भी इस बात को स्वीकार किया है. मीडिया से बातचीत के दौरान उन्होंने कहा कि विधानसभा के डिप्टी स्पीकर की ओर से चिट्ठी लिखे जाने के बाद मुझे उनकी बात माननी पड़ी.

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
बीरभूम जिलाध्यक्ष अनुव्रत मंडल (बाएं) और विधानसभा के डिप्टी स्पीकर आशीष बंदोपाध्याय (दाहिने).
बीरभूम जिलाध्यक्ष अनुव्रत मंडल (बाएं) और विधानसभा के डिप्टी स्पीकर आशीष बंदोपाध्याय (दाहिने).
फोटो : प्रभात खबर

बीरभूम : पश्चिम बंगाल के बीरभूम जिले के रामपुरहाट स्थित एक नंबर ब्लॉक के बोगतुई गांव में 21 मार्च की रात हुई हिंसा मामले की जांच सीबीआई के हाथों में जाने और मुख्यमंत्री ममता बनर्जी के निर्देश के बाद रोजाना कोई न कोई बड़ा खुलासा सामने आ रहा है. खासकर, इस मामले में रामपुरहाट ब्लॉक के तृणमूल कांग्रेस (टीएमसी) पार्टी के अध्यक्ष अनारुल हुसैन की गिरफ्तारी के बाद एक के बाद एक खुलासे हो रहा है.

सीबीआई की पूछताछ में यह बात सामने आई है कि रामपुरहाट के टीएमसी विधायक और पश्चिम बंगाल विधानसभा के डिप्टी स्पीकर आशीष बंदोपाध्याय ने विधानसभा चुनावों के दौरान अनारुल हुसैन को ब्लॉक अध्यक्ष बनाए रखने के लिए बीरभूम जिले में टीएमसी अध्यक्ष अनुव्रत मंडल को चिट्ठी लिखी थी.

विधानसभा के डिप्टी स्पीकर द्वारा लिखी गई चिट्ठी

विधानसभा के डिप्टी स्पीकर द्वारा लिखी गई चिट्ठी
विधानसभा के डिप्टी स्पीकर द्वारा लिखी गई चिट्ठी
फोटो : प्रभात खबर

गिरफ्तार अनारुल हुसैन

रामपुरहाट में टीएमसी के ब्लॉक अध्यक्ष अनारुल हुसैन
रामपुरहाट में टीएमसी के ब्लॉक अध्यक्ष अनारुल हुसैन
फोटो : प्रभात खबर

अनुव्रत मंडल ने मानी बात

मुख्यमंत्री ममता बनर्जी के निर्देश के बाद गिरफ्तार अनारुल हुसैन से जुड़ा यह मामला प्रकाश में आने के बाद बीरभूम में टीएमसी के जिलाध्यक्ष अनुव्रत मंडल ने भी इस बात को स्वीकार किया है. मीडिया से बातचीत के दौरान उन्होंने कहा कि विधानसभा के डिप्टी स्पीकर की ओर से चिट्ठी लिखे जाने के बाद मुझे उनकी बात माननी पड़ी और हमने अनारुल हुसैन को ब्लॉक अध्यक्ष बनाए रखा.

पार्टी में मची खलबली

सूत्र बताते हैं कि गिरफ्तार टीएमसी नेता अनारुल हुसैन को ब्लॉक अध्यक्ष बनाए रखने के लिए डिप्टी स्पीकर आशीष बंदोपाध्याय की ओर से अनुव्रत मंडल को चिट्ठी लिखे जाने का मामला प्रकाश में आने के बाद पार्टी में खलबली मची हुई है. बताया जा रहा है कि अनारुल हुसैन को पार्टी के ब्लॉक अध्यक्ष पद से हटाने के लिए पिछले विधानसभा चुनाव में बीरभूम के जिलाध्यक्ष अनुव्रत मंडल ने कमर कस ली थी. अनारुल हुसैन पर पार्टी विरोधी कार्यकलाप और माफियाराज चलाने का आरोप लगा था. इसके बाद ही अनुव्रत मंडल ने उन्हें ब्लॉक अध्यक्ष के पद से हटाने का फैसला किया था. अनारुल हुसैन को पदमुक्त करने से पहले ही डिप्टी स्पीकर आशीष बंदोपाध्याय ने चिट्ठी लिखकर अनुशासनात्मक कार्रवाई पर रोक लगा दी.

10 जून 2021 को डिप्टी स्पीकर ने लिखी चिट्ठी

आधिकारिक सूत्र बताते हैं कि अनारुल हुसैन को रामपुरहाट का ब्लॉक अध्यक्ष बनाए रखने के लिए डिप्टी स्पीकर आशीष बंदोपाध्याय ने 10 जून 2021 को ही चिट्ठी लिखी थी. बताया जाता है कि पिछले विधानसभा चुनाव में रामपुरहाट में टीएमसी को अच्छी बढ़त नहीं मिली थी. इससे खफा होकर अनुव्रत मंडल ने अनारुल हुसैन को ब्लॉक अध्यक्ष पद से हटाने का फैसला किया था, लेकिन डिप्टटी स्पीकर और रामपुरहाट के विधायक आशीष बंदोपाध्याय ने अनारुल हुसैन को पद पर बनाए रखने के लिए जिलाध्यक्ष अनुव्रत मंडल को कार्रवाई करने से रोक दिया.

रिपोर्ट : मुकेश तिवारी

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें