1. home Hindi News
  2. state
  3. west bengal
  4. bengal vidhan sabah chunav 2021 latest update dinesh trivedi rajyasabha jerk to mamata banerjee west bengal hindi voters avh

Exclusive : बंगाल चुनाव में इस वजह से ममता बनर्जी को हो सकता है लाखों वोटों का नुकसान? पढ़िए दिनेश त्रिवेदी के इस्तीफे पर सियासी पंडितों का अनुमान

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
Bengal Chunav 2021
Bengal Chunav 2021
Prabhat Khabar

Bengal Chunav 2021 : पश्चिम बंगाल में विधानसभा चुनाव 2021 से पहले सीएम ममता बनर्जी को बड़ा झटका लगा है. तृणमूल कांग्रेस ( Trinmool Congress) के दिग्गज नेता और पार्टी हिंदी प्रकोष्ठ के चेयरमैन दिनेश त्रिवेदी ने इस्तीफा दे दिया है. बताया जा रहा है कि त्रिवेदी के हटने से टीएमसी को दोहरा नुकसान हो सकता है. एक तो बैरकपुर इलाके में पार्टी की पकड़ कमजोर हो जाएगी, वहीं बंगाल में लाखों हिंदी भाषियों के वोट का भी नुकसान हो सकता है.

बताते चलें कि बीते दिनों ममता बनर्जी (Mamata banerjee) की पार्टी द्वारा हिंदी वोटरों पर पकड़ बनाने के लिए एक विशेष कार्यक्रम किया गया था. बताया जा रहा है कि इसके मास्टरमाइंड दिनेश त्रिवेदी ही थे. इस कार्यक्रम ने खूब सुर्खियां भी बटोरी थी, लेकिन कार्यक्रम के कुछ दिनों के बाद ही त्रिवेदी के इस्तीफे से पार्टी हाईकमान की टेंशन बढ़ा दी है.

इस वजह से दिए इस्तीफा?- राज्यसभा सदस्यता से इस्तीफे का ऐलान कर दिनेश त्रिवेदी (Dinesh Trivedi) ने सबको जहां चौंका दिया. सियासी गलियारों में उनकी ममता बनर्जी से पुरानी अदावत का जिक्र भी होने लगा. वहीं बंगाल में लगातार अब भी सवाल बना हुआ है कि बैरकपुर लोकसभा से हारने के बाद भी ममता ने दिनेश त्रिवेदी को राज्यसभा भेजा था, फिर अब ऐसा क्या हुआ कि उन्हें पार्टी छोड़नी पड़ी.

गौरतलब है कि केंद्र में यूपीए सरकार के सत्ता में रहने के दौरान दिनेश त्रिवेदी रेल मंत्री थे. उन्होंने बतौर रेल मंत्री वर्ष 2012 में संसद में रेल बजट पेश किया था. इसके बाद जो हुआ, संभवत: उसने ही बनर्जी और दिनेश त्रिवेदी के बीच शायद खटास की नींव रख दी थी, जिसका परिणाम आज देखा जा रहा है. त्रिवेदी आज संसद के बाहर इस घटना का भी जिक्र किए.

Posted By : Avinish kumar mishra

Share Via :
Published Date
Comments (0)
metype

संबंधित खबरें

अन्य खबरें