1. home Hindi News
  2. state
  3. west bengal
  4. bengal news the fake policeman used to threaten to get caught on the charge of murder arrested from lalbazar

Bengal News: पुलिस वाला बनकर कत्ल के आरोप में फंसाने की धमकी देने वाला लालबाजार से गिरफ्तार

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
फर्जी पुलिस वाला बन कत्ल के आरोप में फसाने की देता था धमकी
फर्जी पुलिस वाला बन कत्ल के आरोप में फसाने की देता था धमकी
प्रतीकात्मक तस्वीर

कोलकाता: हैलो साहेब, जरा रुकिये, हम पुलिसवाले हैं. आप के नाम पर अरेस्ट वारंट है. जहां भागने की कोशिश की, तो कत्ल के आरोप में तुरंत गिरफ्तार कर लेंगे. महानगर के विभिन्न इलाके में अकेले दिखनेवाले लोगों को सड़क पर पकड़कर उन्हें इस तरह का डर दिखाकर रुपये और गहने लूटकर भागनेवाले महाराष्ट्र गैंग के एक सदस्य को लालबाजार के वाॅच सेक्शन की टीम ने गिरफ्तार किया है.

पकड़े गये आरोपी का नाम अब्दुल हमीद शेख (45) है. वह मुंबई के कुर्ला (इस्ट) के संगम कॉलोनी का रहनेवाला है. उसके पास से लूट के गहने व रुपये जब्त किये गये हैं. कोलकाता पुलिस के ज्वायंट सीपी (क्राइम) मुरलीधर शर्मा ने बताया कि मामले की गंभीरता को देखते हुए पुलिस ने जांच शुरू की, तो पता चला कि इस तरह की शिकायतें महानगर के बहूबाजार, बड़ाबाजार, हेयर स्ट्रीट, मोचीपाड़ा, अम्हर्स्ट स्ट्रीट व इंटाली थाने में भी दर्ज हैं. इसके बाद उन इलाकों में लगे सीसीटीवी कैमरे की जांच करने पर एक ही गैंग के इसमें शामिल होने का पता चला.

इसके बाद इस गिरोह के एक सदस्य को दक्षिण 24 परगना जिले के नरेंद्रपुर से गिरफ्तार किया गया. जांच में पता चला कि मुंबई से वह कोलकाता आकर किराये पर कमरा लेकर रहते हुए इस तरह की वारदातों को अंजाम दे रहा था. पता चला है कि इससे पहले, वह मुंबई पुलिस के हाथों भी गिरफ्तार हो चुका है. जमानत पर रिहा होकर वह कोलकाता आ गया और पुलिसवाला बनकर लोगों को लूटने लगा. उसके साथ और कौन-कौन शामिल हैं, उससे पूछताछ कर गिरोह के बाकी सदस्यों तक पहुंचने की कोशिश की जा रही है.

पुलिस सूत्रों के मुताबिक हुगली के चंदननगर के हल्दरपाड़ा के निवासी तपन कुमार दास (66) ने इसकी शिकायत छह अप्रैल को हेयर स्ट्रीट थाने में दर्ज करायी थी. उन्होंने बताया कि वह ज्वेलरी कारीगर हैं. पोर्तुगीस चर्च स्ट्रीट में वह तैयार गहने ज्वेलरी दुकान के मालिक को सप्लाई करने जा रहे थे. अचानक एक व्यक्ति ने उन्हें रास्ते में रोका. उसने खुद को पुलिसवाला बताकर कत्ल के आरोप में गिरफ्तार करने का डर दिखाया. उसे गिरफ्तार नहीं करने के बदले उसके पास से गहनों से भरा बैग छीन लिया और वहां से फरार हो गया. जब वह नजदीकी थाने में पूरे मामले की जानकारी लेने पहुंचे, तब पता चला कि वह फर्जी पुलिसवाले के हाथों लूट के शिकार हुए हैं.

Posted By: Aditi Singh

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें