1. home Hindi News
  2. state
  3. west bengal
  4. bengal latest news update today gazetts of chinese intruder han junwei not yet decoded mtj

बांग्लादेश के रास्ते चीन से आये हान जुनवे के गैजेट को अब तक डी-कोड नहीं कर पायी एजेंसियां

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
हान जुनवे के रहस्य का पता लगाने में एजेंसियों के छूट रहे पसीने
हान जुनवे के रहस्य का पता लगाने में एजेंसियों के छूट रहे पसीने
Prabhat Khabar

कोलकाताः बांग्लादेश के रास्ते भारत में घुसपैठ करने वाले संदिग्ध चीनी नागरिक हान जनवे के गैजेट को अब तक जांच एजेंसियां डी-कोड नहीं कर पायी हैं. मामले की जांच कर रही स्पेशल टास्क फोर्स (एसटीएफ) के अधिकारी हान के गैजेट्स को डी-कोड करने के लिए साइबर एक्सपर्ट की मदद लेने की सोच रहे हैं.

पश्चिम बंगाल के मालदा जिला स्थित सीमा पर सीमा सुरक्षा बल (बीएसएफ) के हत्थे चढ़े चीनी घुसपैठिये हान जुनवे से यहां एसटीएफ मुख्यालय में समय-समय पर पूछताछ चल रही है. आरोपी अंगरेजी में पूछे जा रहे प्रश्नों का उत्तर चीनी भाषा में ही दे रहा है. इससे एसटीएफ की टीम को काफी परेशानी हो रही है.

हान से परेशान एजेंसियां

  • हान जुनवे से एसटीएफ की पूछताछ में भाषा बनी रोड़ा

  • चाहिए ऐसा दुभाषिया, जो अंगरेजी-चीनी के साथ हिंदी भी जानता हो

  • हान के गैजेट को डी-कोड करने में साइबर एक्सपर्ट की मदद लेगी जांच एजेंसी

एसटीएफ हान जुनवे से पूछताछ में दुभाषिये की मदद लेगा. एसटीएफ को ऐसा दुभाषिया चाहिए, जो अंग्रेजी और चीनी (मंदारिन) के साथ-साथ हिंदी भी जानता हो. एसटीएफ से जुड़े सूत्रों की मानें, तो चीनी घुसपैठिये के मैकबुक को अभी डी-कोड नहीं किया जा सका है. समझा जाता है कि उस गैजेट में कई राज हैं.

हान जुनवे के गैजेट्स खुलने के बाद कई चौंकाने वाले तथ्यों के खुलासे की उम्मीद एसटीएफ को है. उनका कहना है कि गैजेट्स जब तक डीकोड नहीं हो जाते, यह पता नहीं चल पायेगा कि उसने भारत से अब तक क्या-क्या व कितनी जानकारी चीन को भेजी है. आरोपी बार-बार यही कह रहा है कि वह अपना पासवर्ड भूल गया है.

पत्नी और बेटे के साथ पहले भारत आया था जुनवे

पासवर्ड नहीं मालूम होने की वजह से हान जुनवे के मोबाइल फोन व मैकबुक को अब तक नहीं खोला जा सका है. पासवर्ड को तोड़ने के लिए साइबर एक्सपर्ट की मदद ली जा रही है. अधिकारियों के अनुसार, आरोपी से पूछताछ में पता चला है कि वह इसके पहले अपनी पत्नी व बेटे के साथ भारत आ चुका है. दोबारा जब वह यहां आया, तो बीएसएफ ने उसे गिरफ्तार कर लिया.

नेपाल के रास्ते चीन लौटने वाला था हान

चीनी घुसपैठिये ने यह भी खुलासा किया है कि इस बार वह नेपाल के रास्ते अपने देश लौटने के फेर में था. नेपाली जैसा दिखने के कारण वह इस पहाड़ी देश के जरिये चीन भागना चाहता था. भारत से अंडरगार्मेंट्स में छिपाकर 1300 भारतीय सिमकार्ड चीन पहुंचाने वाले हान के एक दोस्त को उत्तर प्रदेश की पुलिस ने पिछले दिनों गिरफ्तार किया था.

Posted By: Mithilesh Jha

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें