1. home Hindi News
  2. state
  3. west bengal
  4. bengal elections 2021 congress party bengal president adhir ranjan choudhary released party manifesto banglar disha bengal election manifesto abk

BJP के ‘सोनार बांग्ला’ के मुकाबले कांग्रेस का ‘बांग्लार दिशा’, चुनावी घोषणापत्र का मतलब जानते हैं?

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
BJP के ‘सोनार बांग्ला’ के मुकाबले कांग्रेस का ‘बांग्लार दिशा’
BJP के ‘सोनार बांग्ला’ के मुकाबले कांग्रेस का ‘बांग्लार दिशा’
सोशल मीडिया

Congress Bengal Manifesto: बंगाल विधानसभा चुनाव में कांग्रेस ने भी सोमवार को घोषणापत्र जारी कर दिया. कांग्रेस पार्टी के बंगाल अध्यक्ष अधीर रंजन चौधरी ने मेनिफेस्टो जारी करते हुए सभी तबके के विकास की बातें दोहराई. कांग्रेस ने मेनिफेस्टो को बांग्लार दिशा (बंगाल की दिशा) नाम से जारी किया है. इसके फ्रंट पेज पर पार्टी की अध्यक्ष सोनिया गांधी के अलावा राहुल गांधी, प्रियंका गांधी वाड्रा और अधीर रंजन चौधरी की तसवीर है. कांग्रेस ने मेनिफेस्टो से पश्चिम बंगाल में शिक्षा, स्वास्थ्य, कानून व्यवस्था, उद्योग, सामाजिक सुरक्षा समेत आठ सेक्टर्स को बढ़ावा देने का भरोसा दिया है.

कांग्रेस के ‘बांग्लार दिशा’ की बड़ी बातें

  • बंगाल में कानून का राज स्थापित करना

  • शिक्षा के क्षेत्र में उल्लेखनीय विकास

  • स्वास्थ्य व्यवस्था के बुनियादी ढांचे में सुधार

  • पश्चिम बंगाल में इंडस्ट्रीज की स्थापना

  • बंगाल की समृद्ध संस्कृति की रक्षा करना

  • राज्य के लोगों को सामाजिक सुरक्षा देना

‘ममता के शासन में कानून व्यवस्था खत्म’

कांग्रेस के चुनावी घोषणापत्र को जारी करने के दौरान अधीर रंजन चौधरी ने बंगाल की सीएम और टीएमसी प्रमुख ममता बनर्जी पर तीखा हमला किया. अधीर रंजन चौधरी ने कहा कि पश्चिम बंगाल में कानून व्यवस्था का राज खत्म हो चुका है. ममता बनर्जी के शासनकाल में राज्य में किसी तरह का विकास नहीं हुआ है. आज पश्चिम बंगाल देश के सबसे पिछड़े राज्यों में शामिल है. देश में विकास के मामले में पश्चिम बंगाल काफी पीछे पहुंच चुका है. देश में सिर्फ पश्चिम बंगाल के दरिद्रता की बात होती है.

बंगाल चुनाव में कांग्रेस की स्थिति क्या है?

बंगाल में कांग्रेस ने लेफ्ट, आईएसएफ से हाथ मिलाया है. तीनों गठबंधन बनाकर चुनाव लड़ रही हैं. गठबंधन की सीट शेयरिंग में राज्य की कुल 294 विधानसभा सीटों में कांग्रेस को 92 सीटें मिली हैं. बाकी बची सीटों पर लेफ्ट और आईएसएफ ने प्रत्याशियों को उतारने का एलान किया है. कांग्रेस के पहले टीएमसी और बीजेपी भी अपने-अपने घोषणापत्र को जारी कर चुकी हैं. बंगाल में आठ चरण में होने वाले चुनाव का पहला चरण 27 मार्च को है. इसके बाद 1, 6, 10, 17, 22, 26 और 29 अप्रैल को वोटिंग होगी.

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें