1. home Hindi News
  2. state
  3. west bengal
  4. bengal election latest news isf and tmc cadres fight in north 24 parganas four injured

Bengal election 2021: उत्तर 24 परगना में ISF और TMC के कार्यकर्ताओं में मारपीट, चार लोग घायल

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
उत्तर 24 परगना के TMC और ISF  कार्यकर्ताओं में मारपीट
उत्तर 24 परगना के TMC और ISF कार्यकर्ताओं में मारपीट
Prabhat Khabar

कोलकाता: उत्तर 24 परगना जिले में आइएसएफ कार्यकर्ताओं के साथ अन्य राजनीतिक दलों कार्यकर्ताओं की मारपीट की घटनाएं थमने का नाम नहीं ले रही हैं. देगंगा के बाद अब हाबरा में आइएसएफ और तृणमूल कार्यकर्ताओं में मारपीट की घटना हुई. इसमें चार आइएसएफ कार्यकर्ताओं को चोटें आयी हैं. उन्हें अस्पताल में भर्ती कराया गया है.

बताया जा रहा है कि पार्टी का झंडा लगाने को लेकर ही दोनों तरफ के कार्यकर्ताओं में मारपीट हुई. आइएसएफ कार्यकर्ताओं का आरोप है कि चुनावी प्रचार को लेकर इलाके में झंडे व बैनर लगाये जा रहे थे. इसी दौरान तृणमूल कांग्रेस के कार्यकर्ताओं ने विवाद शुरू कर दिया और विरोध करने पर उन लोगों पर रॉड व लाठी से हमले किये. आरोप है कि तृणमूल समर्थित लोगों ने बमबाजी भी की है.

आइएसएफ का दावा है कि हाबरा में तृणमूल हार रही है, जिस कारण से हिंसा से लोगों में भय फैलाने की कोशिश कर रही है. तृणमूल ने आइएसएफ के आरोप को खारिज करते हुए कहा कि यह सब साजिश है. झूठे आरोप लगाये जा रहे हैं. इसमें तृणमूल का कोई हाथ नहीं है. वोट नजदीक आते ही बाहर से लोगों को लाकर आइएसएफ के लोग हिंसा फैलाना चाह रहे हैं.

घटना की खबर पाकर हाबरा थाने की पुलिस मौके पर पहुंची थी. इस मामले में आइएसएफ की ओर से थाने में लिखित शिकायत दर्ज करायी गयी है. हमले में लिप्त आरोपियों के गिरफ्तारी की मांग की गयी है. पुलिस का कहना है कि इलाके में तनाव को देखते हुए पुलिस पिकेट लगाया गया है. मालूम हो कि देगंगा में सोमवार को आइएसएफ कार्यकर्ताओं और तृणमूल में मारपीट की घटना हुई थी. इसके पहले हाड़ोवा में हुई थी.

इधर, दासपुर थाना अंतर्गत ज्योतकानूरामगड इलाके में भाजपा-तृणमूल समर्थकों में मारपीट हो गयी, जिसमें एक व्यक्ति घायल हो गया. घायल व्यक्ति भाजपा का समर्थक बताया जा राहा है. भाजपा का आरोप है कि चुनाव से पहले ही तृणमूल समर्थक भाजपा समर्थकों को डरा धमका रहे थे. चुनाव खत्म होने के बाद इलाके से गुजर रहे भाजपा समर्थकों को अपशब्द बोल रहे थे, जिसका विरोध करने पर दोनों पक्षों में मारपीट शुरू हो गयी, जिसमें एक व्यक्ति जख्मी हो गया. उसे अस्पताल में भर्ती कराया गया. वहीं तृणमूल ने आरोप का खंडन करते हुए कहा कि चुनाव खत्म होने के बाद भाजपा समझ चुकी है कि उनकी हार निश्चित है. इसलिये आपस में लड़ाई कर रहे है. दोनो दलों की ओर से घटना को लेकर शिकायत की गयी. पुलिस घटना की जांच कर रही है.

Posted By - Aditi Singh

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें