1. home Hindi News
  2. state
  3. west bengal
  4. bengal election 2021 union home minister amit shah accuses tmc supremo and bengal cm mamata banerjee for sithalkuchi firing abk

अमित शाह ने समझाई शीतलकुची फायरिंग की असली वजह, आनंद बर्मन की मौत पर भी ममता से पूछा सवाल

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
अमित शाह ने समझाई शीतलकुची फायरिंग की असली वजह
अमित शाह ने समझाई शीतलकुची फायरिंग की असली वजह
ट्विटर

Sitalkuchi Politics: बंगाल चुनाव में कूचबिहार के शीतलकुची में चौथे चर‍ण की वोटिंग के दौरान शनिवार को फायरिंग में चार लोगों की मौत पर सियासी बवाल बढ़ गया है. ममता बनर्जी ने घटना के लिए केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह से इस्तीफा मांगा है. वहीं, रविवार को अमित शाह ने शीतलकुची फायरिंग के लिए ममता बनर्जी को जिम्मेदार ठहरा दिया. बता दें झड़प के दौरान बचाव के लिए केंद्रीय बल ने फायरिंग की, जिसमें चार लोगों की मौत हो गई थी. इस घटना पर बंगाल का सियासी पारा चढ़ गया है.

‘ममता बनर्जी के राजनीति का स्तर गिर गया’

रविवार को केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह ने कहा कि ममता बनर्जी शीतलकुची फायरिंग में मारे गए चार लोगों को श्रद्धांजलि दे रही हैं. शीतलकुची बूथ पर ही शनिवार को आनंद बर्मन मारा गया. ममता बनर्जी ने उनके लिए एक शब्द नहीं बोला. दीदी आनंद बर्मन की मौत से दुखी नहीं हैं. यह उनके गिरते राजनीति के स्तर का परिचय है. अमित शाह ने मृत्यु को राजनीति से अलग रखने की बात भी कही. उन्होंने कहा आनंद बर्मन एक यूथ वोटर था. उनकी मौत ममता बनर्जी के वोट बैंक के लिए अनुकूल नहीं है.

दीदी के भाषण के बाद फायरिंग: अमित शाह

केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह ने ममता बनर्जी के शीतलकुची में मारे गए लोगों के लिए दुखी होने पर कहा कि बंगाल की ऐसी परंपरा नहीं रही है. कभी भी पश्चिम बंगाल ने ऐसा कुछ नहीं देखा है. शीतलकुची में ही ममता बनर्जी ने केंद्रीय बलों को घेरने की अपील की थी. लोगों से केंद्रीय बलों पर हमले करने की बात कही थी. इसके बाद ही शीतलकुची फायरिंग की घटना सामने आई है. इसके लिए सीधे तौर पर ममता बनर्जी जिम्मेदार हैं. शाह ने आगे कहा शीतलकुची की फायरिंग के लिए दीदी का भाषण जिम्मेदार है. अगर ममता बनर्जी भाषण नहीं करती तो चार युवा सीआरपीएफ पर हमला नहीं करते.

दो मई के बाद राजनीतिक हिंसा पर विराम

अमित शाह ने ममता बनर्जी से आनंद बर्मन को श्रद्धांजलि देने और बंगाल की जनता से माफी मांगने की अपील की. शाह ने जिक्र किया बंगाल में चुनाव शांतिपूर्ण रहा है. हालांकि, पांच से ज्यादा बीजेपी कार्यकर्ता मार दिए गए. इस पर भी दीदी चुप हैं. बंगाल में लेफ्ट और तृणमूल ने हिंसा को बढ़ाया है. दो मई के बाद बंगाल में बीजेपी की सरकार बनेगी. बीजेपी की सरकार बनते ही बंगाल से राजनीतिक हिंसा हमेशा के लिए खत्म हो जाएगी. उन्होंने लोगों से शांतिपूर्ण चुनाव में सहयोग की अपील भी की.

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें