1. home Hindi News
  2. state
  3. west bengal
  4. bengal election 2021 tmc leader threatened police officer and sector officer in ausgram assembly area do not make sheetlakuchi pwn

'शीतलकुची मत बनाओ, हमारी सरकार आ रही है सबको देख लेंगे', औसग्राम में TMC नेता ने पुलिस को दी धमकी

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
'शीतलकुची मत बनाओ, हमारी सरकार आ रही है सबको देख लेंगे', औसग्राम में TMC नेता के बिगड़े बोल
'शीतलकुची मत बनाओ, हमारी सरकार आ रही है सबको देख लेंगे', औसग्राम में TMC नेता के बिगड़े बोल
Prabhat Khabar

पानागढ़ (मुकेश तिवारी): पश्चिम बंगाल विधानसभा चुनाव के छठे चरण का मतदान जारी है. इस बीच कई जगहों से लगातार हिंसक घटनाओं की खबरें आ रही हैं. पूर्वी बर्दवान के औसग्राम विधानसभा क्षेत्र के सेक्टर अधिकारी और तृणमूल नेता के बीच झड़प होने के बाद पूरे क्षेत्र में तनाव का माहौल है.

घटना के संबंध में बताया जा रहा है कि तृणमूल कांग्रेस अध्यक्ष अरुप मिद्धा ने गुरुवार सुबह पूर्वी बर्दवान के प्रतापपुर डांगापारा हाई स्कूल के बूथ के सामने टीएमसी समर्थकों के साथ जमा हुआ थे. इसे देखते हुए पुलिस और सेक्टर ऑफिसर जब भीड़ को हटाने गए तो तृणमूल के नेता ने सेक्टर ऑफिसर और पुलिस के साथ धक्का मुक्की की और धमकी दी.

पर मामला यहीं पर शांत नहीं हुआ. तृणमूल नेता अरूप मिद्धा ने पुलिस वालों को चेतावनी देते हुए कहा कि 'शीतलकुची मत बनाओ. क्योंकि हमारी सरकार आ रही है. आगे टीएमसी नेता ने कहा कि जब हमारी सरकार वापस आयेगी तो सोच लो कि क्या होगा. घटना से इलाके में अस्थायी तनाव फैल गया है.

जानकारी के मुताबिक सेक्टर अधिकारी को शिकायत मिली थी की औसग्राम विधानसभा के बूथ संख्या 153 के सामने तृणमूल नेता अपने कार्यकर्ताओं और समर्थकों के साथ भीड़ लगाए हुए और और मतदाताओं को प्रभावित कर रहे. शिकायत मिलने के बाद सेक्टर ऑफिसर मौके पर पहुंते. उसके साथ पुलिस भी थी. सेक्टर अधिकारी ने पहुंच कर भीड़ को हटाने की कोशिश की.

इसके बाद तृणमूल नेता भड़क गये और सेक्टर अधिकारी को धमकी दे दी. टीएमसी नेता ने सेक्टर अधिकारी को धमकी देते हुए कहा कि घबराओ मत जल्द देख लेंगे. धमकी दी. साथ ही कहा कि यह मतदान एक उत्सव है. इसलिए लोग वोट डालने आएंगे. उन्हें कोई रोक नहीं सकता है. तीन मई को टीएमसी की सरकार आयेगी. हालांकि, सेक्टर अधिकारी ने बूथ के 200 मीटर के दायरे में इकट्ठा न होने के लिए तृणमूल नेता को हटाने की कोशिश की.

Posted By: Pawan Singh

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें