1. home Hindi News
  2. state
  3. west bengal
  4. bengal election 2021 political equation in six seats in south dinajpur district triangular fight in bjp tmc and congress and left of bengal vidhan sabha chunav 2021

दक्षिण दिनाजपुर जिले की छह सीटों पर अजब समीकरण, BJP-TMC और संयुक्त मोर्चा में बिग फाइट

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
दक्षिण दिनाजपुर जिले की छह सीटों पर अजब समीकरण, BJP, TMC और संयुक्त मोर्चा में त्रिकोणीय जंग
दक्षिण दिनाजपुर जिले की छह सीटों पर अजब समीकरण, BJP, TMC और संयुक्त मोर्चा में त्रिकोणीय जंग
Prabhat Khabar

बंगाल चुनाव 2021: बंगाल में 26 अप्रैल को सातवें चरण की वोटिंग है. सोमवार को होने वाली सातवें चरण की वोटिंग में दक्षिण दिनाजपुर, मालदा, मुर्शिदाबाद, पश्चिम बर्दवान और साउथ कोलकाता की 34 सीटों पर 284 कैंडिडेट्स अपना भाग्य आजमाने उतरेंगे. दक्षिण दिनाजपुर की बालुरघाट लोकसभा क्षेत्र के अंतर्गत 6 विधानसभा सीटों कुष्मांडी, कुमारगंज, बालुरघाट, तपन, गंगारामपुर और हरीरामपुर विधानसभा सीटों पर इस बार जबरदस्त मुकाबला होने वाली है. सातवें फेज की जंगीपुर और शमशेरगंज विधानसभा सीट पर 16 मई को वोटिंग होगी.

इन सीटों पर बीजेपी ने 2016 तक अपना खाता नहीं खोला था. 2016 में 6 सीटों में से 3 सीटों पर लेफ्ट और आरएसपी, 2 सीटों पर टीएमसी और एक सीट पर कांग्रेस का कब्जा था. 2019 में मोदी की लहर में लेफ्ट, कांग्रेस और टीएमसी बह गयी थी. 2019 के बाद से यहां बीजेपी की भी अच्छी पैठ है. हालांकि 2019 में कांग्रेस और लेफ्ट की वोटें बीजेपी की खाते में चली गयी थी जिससे बीजेपी की चुनावी वैतरणी पार लग गयी थी. इस बार का समीकरण काफी बदल गया है.

अब लेफ्ट और कांग्रेस संयुक्त मोर्चा बनकर मैदान में है. दोनों मिलकर अपना गढ़ बचाने में पूरा दमखम लगा रही है. वहीं बीजेपी लोकसभा चुनाव का परिणाम दोहराने की कोशिश में है तो टीएमसी बीजेपी और संयुक्त मोर्चा का सफाया करने के लिए जोर लगा रही है. इस बार कौन अपनी पैठ जमाता है, किसे कुर्सी मिलती है, उसका पता तो 2 मई को रिजल्ट डे पर चलेगा.

इन 6 सीटों से चुनाव लड़ रहे कैंडिडेट्स पर एक नजर

कुष्मांडी विधानसभा सीट से बीजेपी ने रंजीत कुमार राॅय, टीएमसी ने रेखा राॅय और संयुक्त मोर्चा के आरएसपी ने नर्मदा चंद्र राॅय को टिकट दिया है. कुमारगंज सीट से बीजेपी ने मानस सरकार, टीएमसी ने तोरफ हुसैन मंडल और संयुक्त मोर्चा के कांग्रेस ने नर्गिस बानो चौधरी को चुनावी मैदान में उतारा है. बालुरघाट से बीजेपी ने अशोक लाहिड़ी, टीएमसी ने शेखर दासगुप्ता और संयुक्त मोर्चा के आरएसपी ने सुचेता विश्वास पर दांव लगाया है.

तपन से बीजेपी ने बुधराई टुडू, टीएमसी ने कल्पना किस्कू और संयुक्त मोर्चा के आरएसपी ने रघु उंराव को चुनावी मैदान में उतारा है तो गंगारामपुर से बीजेपी ने सत्येंद्र नाथ राय, टीएमसी ने गौतम दास और संयुक्त मोर्चा ने नंदलाल हाजरा को टिकट दिया है. हरीरामपुर विधानसभा सीट से बीजेपी ने नीलांजन राय, टीएमसी ने विप्लव मित्रा और संयुक्त मोर्चा ने रफीकुल इस्लाम को चुनावी मैदान में उतारा है.

2016 की विधानसभा चुनाव परिणाम पर एक नजर

साल 2016 में कुष्मांडी विधानसभा सीट से लेफ्ट की घटक दल आरएसपी के नर्मदा चंद्र राॅय ने टीएमसी की रेखा राॅय को 3,529 वोटों से हराया था. कुमारगंज सीट से टीएमसी के तोरफ हुसैन मंडल ने लेफ्ट की मफूजा खातून को 3,496 वोटों से हराकर जीत हासिल की थी. बालुरघाट सीट पर आरएसपी के विश्वनाथ चौधरी ने टीएमसी के शंकर चक्रवर्ती को 1,450 वोटों से पराजित किया था. तपन से टीएमसी कैंडिडेट बच्चू हांसदा ने आरएसपी के रघू उरांव को 4,401 वोटों से हराया था. गंगारामपुर से कांग्रेस के गौतम दास ने टीएमसी के सत्येंद्र नाथ राॅय को 10,733 वोटों से पराजित कर अपनी जीत सुनिश्चित की थी. वहीं हरीरामपुर सीट से लेफ्ट के रफीकुल इस्लाम ने टीएमसी के विप्लव मित्रा को 4,504 वोटों से हराया था.

2019 लोकसभा चुनाव में तीन सीट बीजेपी के लिए बनी वरदान

2019 में लोसकभा चुनाव में बीजेपी ने इस सीट को टीएमसी से छीना था. दरअसल, इस सीट पर लेफ्ट की रिवॉल्यूशनरी सोशलिस्ट पार्टी (आरएसपी) के गढ़ में 2014 में टीएमसी की अर्पिता घोष ने सेंधमारी की थी. मगर, 2019 में मोदी की लहर में इस सीट से टीएमसी भी साफ हो गयी और बीजेपी के डाॅ. सुकांत मजूमदार ने जीत हासिल की. डाॅ. सुकांत मजूमदार को 5,39,317 वोट मिले थे जबकि टीएमसी की अर्पिता घोष को 5,06,024 वोट मिला था.

आरएसपी के रनेन बर्मन जिन्होंने 4 बार लगातार जीत हासिल की थी, उन्हें मात्र 72, 990 वोट मिले थे. कांग्रेस चौथे स्थान पर थी. 2019 लोकसभा चुनाव में इस सीट पर 3 विधानसभा सीट पर बीजेपी का खेल जमा था. इनमें बालुरघाट, तपन और गंगारामपुर सीट है, जहां बीजेपी ने बाजी मारी थी. बीजेपी के लिए इन तीनों सीटों पर मिले वोट ने जीत का रास्ता खोल दिया था. यानी आरएसपी, टीएमसी और कांग्रेस की सीटों पर बीजेपी ने सेंध लगायी थी.

Posted by : Babita Mali

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें