1. home Hindi News
  2. state
  3. west bengal
  4. bengal election 2021 owaisi can cuts muslim votes in bengal election cm mamata banerjee said traitors are coming from hyderabad

Bengal Election 2021: बंगाल चुनाव में भी ओवैसी वोट कटवा ! ममता बनर्जी ने कसा तंज, कहा- हैदराबाद से आ रही है गद्दारों की टोली

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
ममता बनर्जी ने कसा तंज! कहा - हैदराबाद से आ रही ही है गद्दारों की टोली
ममता बनर्जी ने कसा तंज! कहा - हैदराबाद से आ रही ही है गद्दारों की टोली
Prabhat Khabar

Bengal Election 2021: बंगाल विधानसभा चुनाव में मुस्लिम वोटों पर सभी पार्टियों की नजर है. बंगाल में मुस्लिम वोटों पर सेंधमारी करने के लिए आॅल इंडिया मजलिस -ए- इत्तेहादुल मुस्लिमी (AIMIM) और इंडियन सेक्युलर फ्रंट (ISF) पार्टी भी तैयार है. हालांकि संयुक्त मोर्चा की आइएसएफ जहां बीजेपी का वोट काटने उतरेगी वहीं आल इंडिया मजलिस -ए- इत्तेहादुल मुस्लिमी पार्टी के उतरने से टीएमसी की मुस्लिम वोट पर सेंधमारी निश्चित है.

मुस्लिम वोटों पर सेंधमारी से चिंतित टीएमसी सुप्रीमो ममता बनर्जी ने आॅल इंडिया मजलिस -ए- इत्तेहादुल मुस्लिमी पार्टी के चीफ असदुद्दीन ओवैसी पर हमला बोला है. चंद्रकोणा में जनसभा को संबोधित करते हुए ममता बनर्जी ने नाम लिये बगैर कहा, बंगाल में वोट काटने का खेल खेलने की तैयारी हो रही है. बीजेपी से फंड लेकर वोट काटने का खेल खेला जाने वाला है. उन्होंने ओवैसी पर कटाक्ष करते हुए कहा कि हैदराबाद से कुछ गद्दार बंगाल आ रहे हैं.

हैदराबाद से आने वाले गद्दार मुस्लिमों के वोट पर सेंधमारी करेंगे. बीजेपी से रुपये लेकर वोट काटने का खेलेंगे. बता दें कि ममता बनर्जी पर हमेशा से ही तुष्टीकरण की राजनीति करने का आरोप लगता रहा है. एक धर्म को आगे रखने के कारण ममता बनर्जी को काफी फजीहत भी झेलनी पड़ी है. मुस्लिमों को अपना वोट बैंक समझने वाली ममता बनर्जी इस बार बंगाल चुनाव में डरी हुई हैं.

इसका कारण यह है कि आॅल इंडिया मजलिस -ए- इत्तेहादुल मुस्लिमी पार्टी से अलग होकर आइएसएफ पार्टी बनी है. आइएसएफ संयुक्त मोर्चा वाम और कांग्रेस के साथ चुनाव में उतरी है तो वहीं आॅल इंडिया मजलिस -ए- इत्तेहादुल मुस्लिमी पार्टी के चीफ असदुद्दीन ओवैसी ने पीरजादा की पार्टी आइएसएफ को सबक सीखाने के लिए चुनाव में उतरने को लेकर इशारा भी किया है. ओवैसी की पार्टी बीजेपी का समर्थन करती है.

अब असदुद्दीन ओवैसी 27 मार्च को बंगाल आ रहे हैं. 27 मार्च को ही बंगाल में पहले चरण का चुनाव है. हालांकि उन्होंने अभी तक अपने कैंडिडेट्स के नामों की घोषणा नहीं की है. मालूम हो कि अब्बास सिद्दीकी 'पीरजादा' के एआइएमआइएम से अलग होकर आइएसएफ पार्टी बनाये जाने पर एआइएमआइएम के चीफ असदुद्दीन ओवैसी ने कहा था कि सही वक्त आने पर वो अपना फैसला सुनायेंगे. अब देखना यह है कि ओवैसी ने बंगाल चुनाव को लेकर क्या फैसला लिया है.

Posted by : Babita Mali

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें